Home »Rajasthan »Jaipur »News» Bhang Samlena In Bikaner

यहां दो घंटे रोज घुट रही है भांग, आइसक्रीम के साथ मस्त होकर यूं गटक रहे हैं लोग

परिमल हर्ष | Mar 09, 2017, 10:33 IST

  • इस सम्मेलन में भाग लेने के लिए शहर के विजयाप्रेमी (भांग प्रेमी) बड़े उत्साह से पहुंच रहे हैं।
    बीकानेर(राजस्थान)।पहले साफी साफ कर, पीछे रंग लगाय, चला जाए कैलाश को, शिव को शीश नवाय.... के उद्घोष के साथ शुरू होता भांग का छनाव। छनाव के साथ-साथ अपने ईष्ट की आराधना ताकि कोई परेशानी न हो। छनाव पूरा होते ही मां की स्तुति। स्तुति से पहले मां को भांग लगाने के लिए भांग के टोप पर पर्दा। स्तुति पूरी होते ही हर-हर महादेव का उद्घोष और फिर शुरू होता है मौज-मस्ती का माहौल।ऐसा 11 मार्च तक हर दिन चलेगा....
    - इस माहौल को देखने के लिए दर्जनों की भीड़। यह माहौल मिलता है इन दिनों मोहता चौक के पाटों पर। ऐसा 11 मार्च तक हर दिन चलेगा।
    - वह भी सुबह 11.56 बजे से। करीब दो घंटे चलने वाले इस आयोजन में हर दिन पांच से सात किलो भांग का छनाव होता है।
    - पांच मार्च को पांच किलो छनाव के साथ शुरू हुए इस सम्मेलन में भाग लेने के लिए शहर के विजयाप्रेमी (भांग प्रेमी) बड़े उत्साह से पहुंच रहे हैं।
    - भांग छनाव से पहले भोले नाथ और मां दुर्गा की स्तुति होती है। इसके बाद शुरू होता है छनाव का कार्यक्रम।
    - आयोजक बबला महाराज बताते हैं कि अभी पानी में छनाव होता है अगले दो-तीन दिन में छनाव दूध और ड्राई फ्रूट में होगी, जिसमें दूध, केसर, काजू, अंजीर का मिश्रण होगा।
    भांग प्रेमियों के लिए होता है नाश्ते और आइसक्रीम का इंतजाम
    - भांग सम्मेलन में पहुंचने वाले विजयाप्रेमियों के लिए चौक में मौजूद आयोजकों के अलावा हर कोई नाश्ते और आइसक्रीम की व्यवस्था करने के लिए तत्पर रहता है।
    - भांग छनाव के बाद यहां मौजूद विजया प्रेमियों के लिए मिठाई, नमकीन और आइसक्रीम की व्यवस्था की जाती है। शौकीन लोग मानते हैँ कि मिठाई और आइसक्रीम का इस्तेमाल भांग का नशा चढ़ाता है।
    - होली के दिनों में भांग का नशा और हुडदंग सब मान्य है। इसलिए सुबह भांग सम्मेलन में भाग लेने के बाद रात हमारी रम्मतों में गुजरती है।
    भांग छनाव में शामिल होते हैं ये
    - मोहता चौक में होने वाले भांग सम्मेलन में विजयाप्रेमियों के साथ-साथ कई गणमान्य लोग भी पहुंचते हैं। जो भांग प्रेमियों की हौसला अफजाई करते हैं।
    - मास्टर मदन जैरी, केदार पारीक, नरेन्द्र विजयवर्गीय, आसू कुम्हार, बालू काका, प्रेमसा, घेनसा, शंकरजी कल्ला, नागेश आचार्य सहित दर्जनों विजया प्रेमी व अन्य लोग सम्मेलन में भागीदारी निभाते हैं।

    इन स्थानों पर भी होता है छनाव

    हर्षो की समाधि, हर्षोलाव तालाब, भैरू कुटिया, रंगोलाई, जैसलमेर रोड स्थित कोस वाली प्याऊ, संसोलाव तालाब गोपेश्वर महादेव मंदिर।

    होली के मौके पर भांग के भुजिया, आइसक्रीम और मिठाइयां

    - होली के मौके पर शहर में इन दिनों भांग के भुजिया, पापड़, मिठाई के अलावा आइसक्रीम की डिमांड भी अधिक रहती है।
    - शाम ढलने के बाद सामान्य तौर पर लोग भांग से बने आइटम ही इस्तेमाल करते हैं। होली और धुलंडी के दिन तो कई महिलाएं भी इन चीजों का इस्तेमाल करती हैं। बच्चे और युवा भी भांग की मस्ती से दूर नहीं रह पाते।
    - भांग सम्मेलन में विजया प्रेमी, भगवान कल्ला, भगवानदास, मनोज व्यास, पवनसिंह पंवार, विजय उपाध्याय, प्रहलाद महाराज, रमेश भादाणी, लाला सेवग, करणीदार रंगा, शिवकुमार मतड़, जितेन्द्र सिरोही, मन्ना महाराज, मन्नू बिस्सा, बल्लू बिस्सा शामिल थे।
    आगे की स्लाइड्स में देखिए और फोटोज...
  • इस माहौल को देखने के लिए दर्जनों की भीड़।
  • यह माहौल मिलता है इन दिनों मोहता चौक के पाटों पर। ऐसा 11 मार्च तक हर दिन चलेगा।
  • इस सम्मेलन में भाग लेने के लिए शहर के विजयाप्रेमी (भांग प्रेमी) बड़े उत्साह से पहुंच रहे हैं।
  • इस माहौल को देखने के लिए दर्जनों की भीड़।
  • यह माहौल मिलता है इन दिनों मोहता चौक के पाटों पर। ऐसा 11 मार्च तक हर दिन चलेगा।
  • करीब दो घंटे चलने वाले इस आयोजन में हर दिन पांच से सात किलो भांग का छनाव होता है।
  • यह माहौल मिलता है इन दिनों मोहता चौक के पाटों पर। ऐसा 11 मार्च तक हर दिन चलेगा।
  • करीब दो घंटे चलने वाले इस आयोजन में हर दिन पांच से सात किलो भांग का छनाव होता है।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: bhang samlena in bikaner
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top