Home »Rajasthan »Jaipur »News » Brij Mahotsav Kicks Off

यहां ऐसे खेली जाती है लट्ठमार होली, सज-धज के निकले गोप-गोपियां

सुरेंंद्र कुशवाहा | Mar 10, 2017, 09:36 IST

भरतपुर के कामां में ब्रज महोत्सव मनाया गया। इस मौके पर कई आयोजन हुए।

कामां (भरतपुर)।मथुरा-वृंदावन की लट्ठमार होली दुनियाभर में प्रसिद्ध है, लेकिन राजस्थान में भी एक जगह है जहां सदियों से यह परंपरा निभाई जा रही है। यह है राजस्थान के भरतपुर में कामां जो ब्रज में ही आता है। यहां भी लट्ठमार होली खेली जाती है। दरअसल लोग जिस गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करने जाते हैं उसका एक भाग यहां है। राजस्थान में ब्रज का यह सबसे बड़ा भाग है। यहां भी ब्रज की ही तरह होली खेली जाती है। जानिए यहां की होली के बारे में ...
- भरतपुर के कामां में बड़े धूम-धाम से ब्रज होली महोत्सव का आयोजन हुआ। महोत्सव पर्यटन विभाग एवं नगर पालिका के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया।
- यहां शोभायात्रा निकाल कर लट्ठमार होली खेली गई। शोभायात्रा का आगाज लाल दरवाजे पर गणेश पूजन के साथ हुआ। इसके साथ ही कार्यक्रम शुरू किए गए।
- इसके बाद कस्बे के प्रसिद्ध मन्दिर श्रीगोकुल चन्द्रमा जी मदन मोहनजी मन्दिर में कुंज गुलाल होली श्री राधा बल्लभ मन्दिर में दूध-दही होली, फूल होली का आयोजन हुआ।
- शाम को भी कस्बे के प्रसिद्ध मंदिर श्री गोपीनाथजी से बैंड बाजों पर्यटन विभाग कलाकारों के द्वारा शोभायात्रा निकाली गई।
- यह मंदिर से शुरू होकर भूमिया बुर्ज, लक्कड़ बाजार, त्रिकुटिया बाजार, लाल दरवाजा, सदर बाजार, मंडी बाजार, नगर पालिका होते हुए मंदिर गोकुल चंद्रमाजी पहुंच कर सम्पन्न हुई।
- इसके बाद राधा बल्लभ मन्दिर में लट्ठमार होली का आयोजन हुआ। इसमें महिलाएं रंग-बिरंगे परिधानों में सजी धजी थीं। पुरुषों ने अपने सिर लाठियों से बचने को ढाल रखे हुए थे। महिलाएं इन पर लाठियां बरसा रही थीं।
- बंब पार्टी ने प्रस्तुतियां दीं। रामलीला मैदान में महारास व अन्य कार्यक्रम हुए।
- इसमें कृष्ण की लीलाओं को संगीत प्रस्तुति के साथ दर्शाया गया।
क्या है लट्ठमार होली
- लट्ठमार होली ब्रज का प्रसिद्ध त्योहार है। पूरा ब्रज रंगों में डूब जाता है। यहां भी सबसे ज्यादा मशहूर है बरसाना की लट्ठमार होली।
- बरसाना राधा का जन्मस्थान है। मथुरा के पास बरसाना में होली कुछ दिनों पहले ही शुरू हो जाती है।
- इस दिन लट्ठ महिलाओं के हाथ में रहता है और नंदगांव के पुरुषों (गोप) जो राधा के मन्दिर लाडलीजी पर झंडा फहराने की कोशिश करते हैं, उन्हें महिलाओं के लट्ठ से बचना होता है।
आगे की स्लाइड्स में देखिए और फोटोज
फोटो सुरेंंद्र कुशवाहा
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: brij mahotsav kicks off
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top