Chhatisgarh » Raipur » डेड बॉडी पर हो गई रस्साकशी, जबरन उठा ले गए लोग

डेड बॉडी पर हो गई रस्साकशी, जबरन उठा ले गए लोग

rakesh malviya | Dec 17, 2012, 10:31 IST

रायपुर। प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल आंबेडकर हॉस्पिटल में रविवार को शव का पोस्टमार्टम (पीएम) नहीं कराने को लेकर मृतक के परिजनों ने जमकर तोडफ़ोड़ की। अस्पताल की पुलिस चौकी के जवान व सुरक्षा गार्डों के साथ जमकर झूमाझटकी भी हुई। इस दौरान कुछ गार्डों को चोट भी आई है।

मृतक निराकार नायक के परिजन डेड बॉडी को मर्चूरी के बाहर से जबर्दस्ती उठाकर घर ले गए। सूचना पर गुढिय़ारी थाना टीआई दलबल के साथ पहुंचे और घर से शव को उठाकर मर्चूरी ले आए। तब कहीं जाकर बॉडी का पोस्टमार्टम हो सका। अस्पताल प्रबंधन ने तोडफ़ोड़ और मारपीट करने वाले नायक के रिश्तेदारों के खिलाफ मौदहापारा थाने में घटना की एफआईआर करवा दी है।

आदर्शनगर पहाड़ी चौक गुढिय़ारी निवासी 28 वर्षीय निराकार नायक पिता मक्खन नायक को सुबह सीने में दर्द हुआ। स्थानीय डॉक्टर से इलाज कराने के बाद भी दर्द कम नहीं हुआ तो परिजन उसे सुबह 10.45 बजे आंबेडकर अस्पताल लेकर आए। ड्यूटी पर मौजूद आपातकालीन चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. रोहित दुबे ने जांच कर मरीज को मृत घोषित कर दिया। इससे परिजन सकपका गए।

सीएमओ ने शव का पीएम कराने की बात कहते हुए वार्ड ब्वाय से बॉडी को मर्चूरी शिफ्ट करने को कहा। स्टाफ ने डेड बॉडी को मर्चूरी के बाहर पहुंचा दिया था। परिजन पोस्टमार्टम के लिए तैयार नहीं थे। डॉक्टर और अस्पताल के स्टाफ से बहसबाजी के बीच उन्होंने मोहल्ले से और लोगों को बुलावा लिया। कुछ ही देर में 50 से ज्यादा लोग अस्पताल पहुंच गए।

मर्चूरी के पास डेड बॉडी को लेकर सुरक्षा गार्ड व मोहल्लेवासियों में रस्साकशी होने लगी। गार्डों की संख्या कम थी, इसलिए नायक के रिश्तेदार और परिचित भारी पड़ गए। मोहल्ले के लोग व मृतक के परिजन स्ट्रेचर में रखी डेड बॉडी को मर्चूरी के बाहर से खींचते हुए वार्ड एक-दो होते हुए आंबेडकर प्रतिमा वाले गेट से बाहर ले आए। इस धक्का-मुक्की में गेट का ग्लास भी टूटकर चकनाचूर हो गया। सुरक्षा गार्ड व पुलिस चौकी के दो-तीन जवान लोगों को डेड बॉडी ले जाने से रोकने में नाकाम रहे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: डेड बॉडी पर हो गई रस्साकशी, जबरन उठा ले गए लोग
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Raipur

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top