Chhatisgarh » Raipur» चोरों ने पुलिस को बताए एटीएम से पैसे चुराने के ट्रिक्स

चोरों ने पुलिस को बताए एटीएम से पैसे चुराने के ट्रिक्स

kusum lata | Mar 31, 2015, 10:32 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
रायपुर। पुलिस के सामने एटीएम  से पैसा चुराते ये ठग दरअसल पुलिस को ये समझा रहे हैं कि वे कैसे वारदात को अंजाम देते हैं।12वीं तक पढ़े ठग इतने शातिर हैं कि लोग खुद ही एटीएम मशीन में अपना पासवर्ड एंटर कर उन्हें मशीन सौंप देते थे। ठग उनके सामने ही उनके अकाउंट से पैसे निकाल फरार हो जाते थे और लोगों को पता ही नहीं चल पाता था। क्राइम ब्रांच ने शहर के एटीएम मशीनों में हाईटेक तरीके से ठगी करने वाले दो युवकों को गिरफ्तार किया है। उनसे ठगी के 55 हजार बरामद किए गए हैं। एसपी ओपी पाल ने बताया कि दोनों ऐसे एटीएम सेंटर का चयन करते जहां कोई सुरक्षा गार्ड नहीं है और जहां दो मशीन लगे हुए हों।
 
मशीन के साथ ऐसे करते थे छेड़खानी
गिरफ्तारी के बाद दोनों ठगों ने पुलिस को ठगी करने के अपने तरीके का डेमो दिया। वे एटीएम मशीन की स्क्रीन पर ब्लू स्प्रे मारते थे या उसी रंग का स्टीकर लगा देते थे, जिससे स्क्रीन का निचला हिस्सा विजिबल न हो। इसके बाद वे मशीन के कैंसल बटन (लाल बटन) को फेविक्विक से जाम कर देते थे। इसके बाद वे बाजू वाली मशीन में पैसे निकालने का नाटक करते हुए खड़े हो जाते थे। जैसे ही कोई पैसे निकालने आता वे तैयार हो जाते।
 
ऐसे करते थे ठगी
मशीन के मॉनिटर पर स्क्रीन के कलर का स्टीकर लगा देने के बाद पैसे निकालने वाले को मशीन में कार्ड स्वैप करने के बाद भी स्क्रीन पर कुछ भी डिस्प्ले होता नहीं दिखता था। खीझकर वे कैंसिल बटन दबाते, लेकिन एडहेसिव से जाम होने की वजह से वह बटन काम नहीं करता और पैसे निकालने के प्रक्रिया कैंसिल नहीं होती थी। इस बीच ठग मशीन से अलग हटकर कार्ड वाले को दूसरी मशीन उपयोग के लिए देते थे।
 
उसके बाद बाजू वाली यानी जिसे पैसे निकालने वाला (शिकार) उपयोग कर रहा था, उस पर खड़े हो जाते और नजर शिकार के द्वारा ऑपरेट किए जा रहे मशीन पर रखते। चुपके से शिकार का गुप्त नंबर देखते और उसी के सामने वही नंबर बाजू वाली मशीन में एंटर कर पैसे निकाल लेते थे। उसमें पहले से कार्ड स्वैप हो चुका रहता है, इसलिए पैसे निकलने में किसी तरह की दिक्कत नहीं होती थी।
 
दिल्ली के रहने वाले हैं दोनों ठग
एसपी ओपी पाल ने बताया कि दिल्ली के बटला टाउन में रहने वाले मो. अशफाक (25) व राकेश दत्ता (21)मिलकर ठगी करते थे। दोनों ने राजधानी के 6 लोगों को अपना निशाना बनाया है। इनमें से तीन मामलों में एफआईआर दर्ज हुआ है।

ये हुए शिकार
ठगों ने दिसंबर 2014 में सिविल लाइन स्थित एसबीआई एटीएम में डॉ. अजय खांडेकर से ठगी की थी। उनके खाते से 20 हजार रुपए निकाला था। उसके बाद 1 जनवरी 2015 में आजाद चौक में अभिनव शर्मा, डीडी नगर में अशोक जायसवाल के खाते से 20 हजार, गणेश चौहान से आजाद चौक में 20 हजार और इसी दिन पुरानी बस्ती एटीएम से मन्नू लाल यदु के एटीएम से 14 हजार रुपए व राजा राव रेड्डी के खाते से 10 हजार रुपए निकाले गए थे।
 
आगे की स्लाइड्स में देखें, संबंधित तस्वीरें
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: चोरों ने पुलिस को बताए एटीएम से पैसे चुराने के ट्रिक्स
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Raipur

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top