Home »Chhatisgarh »Raipur »News» Dead Body Was Called For Post Mortem By Police

पोस्टमार्टम के लिए परिवार वालों को कंधे पर 8 KM ले जानी पड़ी बॉडी

शैलेंद्र ठाकुर | Apr 20, 2017, 11:15 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
दंतेवाड़ा. यहां एक आदिवासी परिवार को पोस्टमार्टम कराने के लिए बाॅडी आठ किलोमीटर कंधे पर लादकर ले जानी पड़ी। इस दौरान पूरे रास्ते भर मारे गए शख्स के परिवार की महिलाएं रोती-बिलखती पीछे-पीछे चल रही थीं। गांव वालों का आरोप है कि अस्पताल वालों ने एंबुलेंस नहीं होने का हवाला देकर उन्हें खुद बॉडी लाने को कहा था। जंगली सुअर के हमले में हुई थी मौत...

- घटना दंतेवाड़ा जिले के मुरकी गांव की है। यहां के आदिवासी बुधराम (37) की जंगली सुअर के हमले में मौत हो गई थी। परिवार वालों ने घटना के बारे में पुलिस को बताया।
- खबर मिलने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची, बल्कि मारे गए शख्स के परिवार वालों को बॉडी लेकर पोस्टमार्टम कराने डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल जाने को कहा।
टीआई बोले- बाद में मिली इन्फॉर्मेशन
- गांव में कोई गाड़ी नहीं थी तो बुधराम के परिवार वालों ने बाडी को रस्सी के सहारे लकड़ी की बल्ली पर लटकाया। दो लोगों ने इसे कंधे पर उठाया और 8 किलोमीटर दूसर हॉस्पिटल ले गए।
- उधर, दंतेवाड़ा सिटी कोतवाली थाने के टीआई राजेश ने कहा कि बुधराम के परिवार वाले बॉडी लेकर खुद ही हॉस्पिटल पहुंचे थे। पुलिस को घटना की जानकारी बाद में दी गई। इसके बाद मामला दर्ज कर लिया गया।
अफसरों की गाड़ियां निकलती रहीं
- घटना के दिन गाटम में सम्या निवारण शिविर लगाया गया था।
- बुधराम के परिवार वालों का कहना है कि शिविर में जा रहे अफसर इसी रोड से गुजरे, लेकिन किसी ने उनकी सुध नहीं ली।
पुलिस ने कहा- नक्सलियों की होती है साजिश
- दंतेवाड़ा एसपी कमलोचन कश्यप ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी नहीं है। जहां तक बॉडी खुद ले आने की बात है तो नक्सली इलाकों में कई बार पुलिस को फंसाने के लिए भी ऐसे फोन आते हैं।
- कई बार फोन पर बताई गई ऐसी घटनाएं झूठी निकली हैं। ऐसे में एहतियात के तौर पर गांव वालों से ही बॉडी लाने को कहा जाता है।
फोटो : शैलेंद्र ठाकुर
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: dead body was called for Post mortem by police
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top