Home »Jharkhand »Ranchi »News» CRPF And Police Opretion In Dense Forest Of Latehar Jharkhand

यहीं छिपा है एक करोड़ का इनामी नक्सली, जवान ऐसे चला रहे ऑपरेशन

Bhaskar News | Apr 20, 2017, 21:00 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

जंगल में ऑपरेशन चलाते पुलिस जवान।

लातेहार (झारखंड)। यहां के जंगलों में छिपे भाकपा माओवादी के एक करोड़ के इनामी नक्सली अरविंद को पकड़ने के लिए पुलिस और सीआरपीएफ ने बड़ा ऑपरेशन 'क्लीन स्वीप' शुरू कर दिया है। इलाके को नक्सल मुक्त बनाने के लिए बूढ़ा पहाड़ समेत आसपास के जगहों पर यह ऑपरेशन जारी है। पुलिस का दावा- कर ली है घेराबंदी...
- यहां के कई इलाकों में पिछले दस दिनों से सुरक्षा बल अस्थायी कैंप लगाकर नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहे हैं।
- पुलिस को यह पुख्ता सूचना है कि माओवादियों के शीर्ष नेता इस इलाके में जमे हुए थे, जिनकी घेराबंदी कर ली गई है।
- इस अभियान में लातेहार, गढ़वा और छत्तीसगढ़ की पुलिस संयुक्त रूप से जुटी हुई है। इसमें जिला पुलिस बल के साथ-साथ सीआरपीएफ की 11वीं, 12वीं और 14वीं बटालियन के जवानों के अलावा कोबरा, झारखंड जगुआर तथा जैप के जवान लगे हुए हैं।
आर-पार की लड़ाई, जंगल से बम बरामद
- पुलिस पहली बार आर-पार की लड़ाई के मूड में दिख रही है। दस दिन के दौरान पुलिस को लाटू मेंं 15 प्रेशर कुकर बम एवं एक सिलेंडर बम बरामद करने में सफलता मिली है।
- बूढ़ा पहाड़ से सटे लाटू के उत्तरी दिशा में स्थित पहाड़ पर लगातार विस्फोट की आवाज सुनाई दे रही है, जिसका कारण जंगल में आग लगना बताया जा रहा है।
- लातेहार के एसपी धनंजय कुमार सिंह ने बताया कि बूढ़ा पहाड़ आसपास के इलाकों में ऑपरेशन क्लीन स्विप जारी है। नक्सलियों से बूढ़ा पहाड़ को मुक्त कराने लातेहार जिला को नक्सल मुक्त बनाने तक अभियान जारी रहेगा।

ऑपरेशन से ग्रामीणों की आजीविका भी छीनी
- अभियान क्षेत्र के इलाके में पडऩेवाले दुरूह क्षेत्र के गांव के ग्रामीणों की आजीविका का साधन जंगल है। वर्तमान समय में महुआ का सीजन है।
- ग्रामीण कहते हैं कि हमलोग महुआ चुनकर करीब 20-25 हजार रुपए की आमदनी कर लेते थे, लेकिन इस बार पुलिस द्वारा हमलोगों को जंगलों में महुआ चुनने नहीं दिया जा रहा है।
- बताया जाता है कि ग्रामीण डरे-सहमे पशुधनों को भी जंगल में नहीं ले जा रहे हैं। लात, करमडीह, बरवाडीह, लाटू कुजरूम में सरकारी स्कूल में पुलिस का अस्थायी कैंप बना है। नतीजतन, छात्र-छात्राओं की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है।
गिरफ्तारी से बूढ़ा पहाड़ हो जाएगा नक्सल मुक्त
- पिछले दिनों माओवादी के शीर्ष नेता नकुल यादव और दामोदर यादव के सरेंडर कर देने के बाद माओवादियों की कमर टूट गई है। पुलिस माओवादी के शीर्ष नेता सह एक करोड़ के इनामी नक्सली अरविंद को दबोचने के लिए बूढ़ा पहाड़ को निशाना बना रही है।
- पुलिस का मानना है कि अगर अरविंद को पकडऩे में सफलता मिल गई तो इलाके से नक्सलियों का पत्ता साफ हो जाएगा।
आगे की स्लाइड्स पर देखें संबंधित PHOTOS :
फोटो : नितिन।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: CRPF And Police Opretion In Dense Forest Of Latehar Jharkhand
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top