Home »Jharkhand »Ranchi »News» Girl Death In Road Accident Jamshedpur Jharkhand

लाश पर हाथ फेर पिता ने कहा- बेटी मुझे माफ कर, तेरी अर्थी नहीं उठा पाऊंगा

dainikbhaskar.com | Apr 19, 2017, 10:27 IST

  • अंतिम बार बेटी हरप्रीत का चेहरा देखते पिता जसपाल सिंह।
    जमशेदपुर (झारखंड)।जमशेदपुर के टेल्को कॉलोनी की रहने वाली स्टूडेंट हरप्रीत कौर की शनिवार को सड़क हादसे में मौत हो गई थी। सोमवार को उसका अंतिम संस्कार किया गया। इस हादसे में उसके पिता भी जख्मी हुए थे। अंतिम यात्रा के दौरान जख्मी पिता की जुबां से सिर्फ यही निकला- 'बेटी मुझे माफ करना। आज मैं मजबूर हूं। अर्थी को कंधा भी नहीं दे सकता।' कैसे हुआ था हादसा...
    -हरप्रीत की कजन बहन की रिंग सेरेमनी 16 अप्रैल काे थी। वो पिता जसपाल सिंह के साथ शनिवार को स्कूटी से बहन के कपड़े ठीक कराने साकची गई थी।
    - लौटते समय अज्ञात वाहन ने पिता व बेटी को टक्कर मार दिया। हरप्रीत की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, पिता जसपाल सिंह को अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी स्थिति खतरे से बाहर है।
    -सोमवार को अंतिम दर्शन के लिए घर के बाहर हरप्रीत का शव रखा गया। रिश्तेदारों के सहारे जसपाल सिंह भी बाहर आए।
    -वे शव से लिपट कर कहने लगे- 'जाग हरप्रीत! अब मुझसे कौन झगड़ा करेगा? उठो, मैंने तुम्हारे लिए क्या-क्या सपने संजोए थे। तुम्हारी ख्वाहिशों को भी पूरा करना है। जागो तुम्हें बेंगलुरु जाना है ना'।
    -उनकी बातें सुन पूरा माहौल गमगीन हो गया। मां बलजीत कौर भी हरप्रीत के शव से लिपटी हुई थीं। वह बार-बार बेटी को उठने के लिए आवाज लगाती रहीं।
    अंतिम दर्शन के बाद पिता फिर अस्पातल में भर्ती
    - अरदास के बाद शव टेल्को गुरुद्वारा ले जाया गया। फिर सुवर्णरेखा बर्निंग घाट पर अंतिम संस्कार किया गया।
    -अंतिम यात्रा में सैकड़ों लोग शामिल हुए। पर पिता जसपाल सिंह शव यात्रा में शामिल नहीं हो सके। भाई-भतीजों ने कहा- हम संभाल लेंगे। आपको आराम की जरूरत है।
    -जसपाल सिंह की जुबां से सिर्फ यही निकला- 'हरप्रीत बेटा मुझे माफ करना। आज मैं मजबूर हूं। तुम्हारी अर्थी को कंधा भी नहीं दे सकता'।
    -अस्पताल में इलाजरत पिता जसपाल सिंह को बेटी के अंतिम दर्शन के लिए पांच घंटे की छुट्टी लेकर घर ले जाया गया था।
    -शव यात्रा निकलने के बाद शाम चार बजे पुन: जसपाल सिंह को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। दुर्घटना में उनके दाहिने हाथ में चार स्थान पर फैक्चर आया है। उनका ऑपरेशन होना है।
    आगे की स्लाइड्स में देखिए संबंधित PHOTOS ...
  • हरप्रीत कौर अपने पिता के साथ। (फाइल)
  • अपने दोस्त की बहन को अंतिम विदाई देने पहुंची छात्राएं।
  • रोते-बिलखते परिजन।
  • रो-रोकर परिजनों का बुरा हाल है।
  • हरप्रीत कौर। (फाइल)
  • एक्सीडेंट के दिन घटनास्थल पर जुटे हरप्रीत के परिजन।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Girl death in road accident Jamshedpur Jharkhand
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top