Home »Jharkhand »Ranchi »News» Ikshita Suicide Case Ranchi

बिना शादी किए लगाती थी मांग में सिंदूर, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हुए ऐसे खुलासे

प्रिंस | Mar 31, 2017, 20:01 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

इच्छिता की फाइल फोटो।

रांची। लालपुर थाना क्षेत्र स्थित न्यू नगड़ाटोली के गोल इंस्टीट्यूट में मेडिकल की तैयारी कर रही छात्रा इच्छिता सिंह (20) ने आत्महत्या की थी। इसका खुलासा पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हुआ है। गला दबाने की बात रिपोर्ट में कहीं नहीं है। वहीं, पुलिस के अनुसार वो अपनी मांग में सिंदूर भी लगाती थी।
 
-रांची पुलिस को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट की कॉपी मिल गई है। एसएसपी कुलदीप द्विवेदी ने बताया कि रिपोर्ट में इस बात का उल्लेख है कि छात्रा की बॉडी 15 से 20 मिनट तक लटकी थी। 
-इस वजह से बॉडी ज्यादा खराब नहीं हुई थी। शरीर पर चोट के कोई निशान कहीं नहीं मिले। इच्छिता अपनी मांग में सिंदूर भी लगाती थी। यह बातें पोस्टमॉर्टम करनेवाले डॉक्टर ने भी बताई।
-मालूम हो कि उसके कमरे से भी सिंदूर मिला था। एसएसपी ने बताया सोमवार को इच्छिता के ब्वॉयफ्रेंड मनीष को लेकर उसके परिजन रांची आए। पूछताछ में पता चला कि इच्छिता से उसका रिश्ता सालों से था। 
-छोटी-छोटी बातों पर दोनों झगड़ते थे। अपने-अपने फेसबुक का आईडी और पासवर्ड एक-दूसरे के पास रहता था।
-एसएसपी का कहना है कि हॉस्टल में लगे दोनों डीबीआर को पुलिस ने जब्त कर लिया है। चार कैमरों को खंगाला गया, पर कुछ नहीं मिला है। 
-जिन तीन लोगों के खिलाफ हत्या की एफआईआर दर्ज हुई है, पुलिस ने उनके मोबाइल का सीडीआर निकाला है, पर कुछ नहीं मिला। 
-मनीष ने जिस छात्रा को फोन कर जानकारी दी थी, पुलिस ने उससे भी पूछताछ की है।
-पुलिस का कहना है कि मामले की जांच में पता चला कि सरस्वती पूजा के दिन इच्छिता ने हॉस्टल के वार्डन को फोन पर किसी से बात कराई थी और कहा था कि उसके पिता बात करना चाहते हैं। 
-इसके बाद वह हॉस्टल से निकल कर मनीष के साथ चली गई थी। अगले दिन उसके पिता अचानक हॉस्टल पहुंचे, तो पता चला कि बेटी नहीं है। 
-वार्डन ने बताया कि फोन पर आपने ही तो बात की थी। फिर इच्छिता को खोजा गया, तो वह हॉस्टल पहुंची। हॉस्टल पहुंचते ही पिता इच्छिता की पिटाई करने लगे और पूछा, कहां गई थी। 
 
मनीष को अज्ञात स्थान पर रख कर पूछताछ
-इच्छिता के करीबी दोस्त मनीष अग्रवाल ने पुलिस को बताया कि घटना के दिन ( दो मार्च) उसने इच्छिता से फोन पर कई बार बातचीत की थी। 
-किसी बात पर वह पहले नाराज हो गई थी। उस दिन वह ज्यादा उदास थी। मनीष ने पुलिस को बताया कि इच्छिता की बहन और उसकी दोस्त को उसने फोन कर बताया था कि इच्छिता को समझाएं। 
-वह कुछ कर लेगी। रांची पुलिस ने मनीष को अज्ञात स्थान पर हिरासत में रखा है। उससे पूछताछ की जा रही है।
-पुलिस का कहना है कि जांच में अगर मनीष दोषी पाया गया, तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। जेल भेजा जाएगा। उससे पूछताछ जारी है।
 
 
आगे की स्लाइड्स में देखिए PHOTOS ...
 
 
फोटो : प्रिंस
 
 
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Ikshita Suicide Case Ranchi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top