Home »Bihar »Patna» राज्य सरकार की अनदेखी का राज्य सरकार की अनदेखी का

राज्य सरकार की अनदेखी का राज्य सरकार की अनदेखी का

Vivek Kumar | Aug 09, 2015, 16:11 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परिवर्तन रैली के चलते रविवार को गया मानों 5-6 घंटों के लिए थम गया। सुरक्षा व्यवस्था इतनी कड़ी थी कि शहर में सुबह से ही गाड़ियों को चलने से रोक दिया गया। शहर में कहीं जाने के लिए लोगों के पास पैदल चलने के अलावा कोई और विकल्प नहीं था। मोदी को सुनने के लिए गांधी मैदान में रिकॉर्ड भीड़ जुटी। पेश हैं परिवर्तन रैली की झलकियां...
रैली में आई भारी भीड़ का फायदा कुछ व्यवसाय चलाने वाले लोग भी लेते दिखे। काशीनाथ मोड़ के पास छोटे लाउड स्पीकर लगाकर कुछ व्यक्ति मोदी चालीसा बेच रहे थे। तीन रुपए में मोदी चालीसा का एलान करते हुए आने-जाने वाले लोगों को दो रुपए में भी दो पन्ने की यह चालीसा बेची जी रही थी।
विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता रैली में आने वाले लोगों को मुफ्त पानी की बोतलें दे रहे थे। इसके लिए लगाए गए काउंटर पर पुलिस वालों के साथ-साथ रैली में आए लोगों की भारी भीड़ जुटी थी। बोतल में भी नरेन्द्र मोदी और भाजपा से संबंधित रैपर लगाया गया था। मोदी की एक झलक देखने के लिए वीआईपी गैलरी में भी लोग कुर्सियों के उपर चढ़ गए। एक-एक कुर्सी पर दो-दो लोगों के चढ़ने के कारण कई कुर्सियां टूट गई।
गांधी मैदान के विभिन्न पेड़ों और फायर ब्रिगेड की गाड़ियों पर भी लोगों ने कब्जा जमा लिया था। एक पेड़ के हर डाल पर बैठे लोग तब भी नीचे नहीं उतरे जब एक डाल टूट गई। लोग पुलिस वालों की मिन्नतों और भभकियों से भी नहीं डरे और तब तक पेड़ पर डटे रहे जब तक मोदी का भाषण समाप्त नहीं हो गया।भीषण गर्मी में गांधी मैदान के अन्दर लोग पानी के लिए तरसते रहे। सुबह 10 बजे से ही आगे सीट लेने के चक्कर में घुसे लोगों को पुलिस वाले बाहर नहीं निकलने दे रहे थे। ऐसे में गांधी मैदान के अन्दर पानी के टैंकरों और चापाकलों पर भारी भीड़ देखी गई।
वीआईपी गेट के पास आए लोग अन्दर बैठे नेताओं को फोन कर पास की मांग कर रहे थे। वीआईपी गेट से आमलोगों का प्रवेश बंद था। मंच के पास होने के कारण अधिकांश लोग इसी गेट से प्रवेश करने की फिराक में नेताओं से फोन पर मन्नतें कर देखे गये।
- गांधी मैदान में प्रवेश के लिए बने गेटों में सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की गई थी। अन्दर प्रवेश करने वालों को पूरी तरह तलाशी ली जा रही थी। यहां तक की लोगों की जेबों, पर्सों और जूतों तक की तलाशी हो रही थी। अन्दर जाने वालों का खैनी और गुटका के पैकेट भी बाहर ही निकाला जा रहा था।
- भीषण गर्मी में कई लोग बेहोश हो गये। एक युवक जब बेहोश हुआ तो वजीरगंज विधायक बिरेंद्र सिंह और डीडीसी विजय कुमार ने उक्त युवक के लिए पानी भिजवाया और थोड़ी देर में युवक स्वस्थ हो गया।
- मोदी की एक झलक पाने के लिए लोग टेंट के ऊपर और टेंट के बांसों पर भी चढ़ गये। मंच से मोदी की उतरने की अपील के बावजूद लोग वहीं मौजूद रहे।
- मंच के पास आने के लिए उतावले लोगों को प्रशासन की बैरीकेटिंग भी नहीं रोक सकी। मंच के पास महिलाओं के लिए सुरक्षित किये गये स्थानों पर भी बैरिकेटिंग लांघकर लोगों ने कब्जा जमा लिया।
फोटो-शेखर
आगे की स्लाइड्स में देंखे रैली से संबंधित फोटोज...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: राज्य सरकार की अनदेखी का राज्य सरकार की अनदेखी का
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Patna

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top