Home »Union Territory »New Delhi »News» I Didnt Tweet My Hands Did Gurmehar Kaur S Dig At Randeep Hooda

मैंने नहीं मेरे हाथों ने ट्वीट किया: सहवाग और हुड्डा पर गुरमेहर कौर का तंज

DainikBhaskar.com | Mar 10, 2017, 09:59 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

गुरमेहर ने ABVP के खिलाफ सोशल मीडिया पर कैंपेन छेड़ा था।

नई दिल्ली.ABVP के खिलाफ सोशल मीडिया पर कैंपेन छेड़कर सुर्खियों में आई गुरमेहर कौर ने ट्वीट कर वीरेंद्र सहवाग और एक्टर रणदीप हुड्डा पर चुटकी ली। दरअसर, पिछले दिनों दोनों ने डीयू विवाद में शहीद की बेटी को सोशल मीडिया पर ट्रोल किया था। गुरुवार को गुरमेहर ने हुड्डा की एक खबर को रिट्वीट करते हुए लिखा- मैंने ट्वीट नहीं किया, मेरे हाथों ने किया है।' इस खबर में हुड्डा ने गुरमेहर पर किए अपने ट्वीट पर सफाई दी है। क्या है पूरा विवाद...
- डीयू विवाद के दौरान गुरमेहर का एक पुराना वीडियो वायरल हो गया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि मेरे पिता को पाकिस्तान ने नहीं, जंग ने मारा है।
- इस पर सहवाग ने चुटकी लेते हुए लिखा था, 'मैंने रन नहीं बनाए, मेरे बल्‍ले ने बनाए हैं।' इसी ट्वीट को बाद में हुड्डा ने रिट्वीट किया था।
- गुरमेहर लेडी श्रीराम कॉलेज में इंग्लिश लिटरेचर की स्टूडेंट हैं। वे मूल रूप से जालंधर की रहने वाली हैं। पिता कैप्टन मंदीप सिंह राष्ट्रीय राइफल्स के कैम्प में तैनात थे। करगिल जंग के दौरान वे शहीद हो गए थे। उस वक्त गुरमेहर महज 2 साल की थीं।
एक्टर ने सफाई में क्या कहा?
- बुधवार को एक टीवी शो में हुड्डा ने कहा, ''उन्हें गुरमेहर से जुड़े अपने ट्वीट पर सावधानी बरतनी चाहिए थी। यह जेंडर सेंट्रिक नहीं था। मैं निजी विचारों पर राजनीति करने के खिलाफ था और हूं। देश में महिलाओं को लेकर माहौल को देखते हुए लगता है कि मुझे और ज्यादा सतर्क रहना चाहिए था।''
- ''एक एक्टर के तौर पर वह अकसर सोशल मीडिया में ट्रोलिंग का शिकार होते हैं, लेकिन गुरमेहर के लिए यह दुखद रहा होगा, ऐसा नहीं होना चाहिए था। जब मैंने ट्वीट किया तो मुझे नहीं पता था कि लड़की को किसी तरह की धमकी मिली है। लोगों ने ट्वीट का गलत मतलब निकाला और मेरे पीछे पड़ गए।''
DUमें कॉन्ट्रोवर्सी कब और कैसे शुरू हुई?इसमें गुरमेहर की एंट्री कैसे हुई?
- दिल्ली के रामजस कॉलेज में एक सेमिनार होने वाला था। इसमें जेएनयू के स्टूडेंट लीडर उमर खालिद और शहला राशिद को इनवाइट किया गया था। ABVP ने इसका जमकर विरोध किया, क्योंकि खालिद पर जेएनयू में देशविरोधी नारेबाजी करने का आरोप है।
- इसके बाद AISA और ABVP के सपोर्टर्स के बीच भारी हिंसा हुई। कॉलेज एडमिनिस्ट्रेशन को सेमिनार कैंसल करना पड़ा।
- इस कॉन्ट्रोवर्सी में गुरमेहर की एंट्री तब हुई, जब उन्होंने 22 फरवरी को अपना फेसबुक प्रोफाइल पिक्चर बदला और ‘सेव डीयू कैम्पेन’ शुरू किया।
- वे एक तख्ती पकड़ी हुई नजर आईं। #StudentsAgainstABVP हैशटैग के साथ लिखा- "मैं दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ती हूं। ABVP से नहीं डरती। मैं अकेली नहीं हूं। भारत का हर स्टूडेंट मेरे साथ है।"
ABVPके खिलाफ नहीं,बल्किPAKके बारे में गुरमेहर का कौन-सा पोस्टर सबसे ज्यादा वायरल हुआ?
- दरअसल, पिछले साल 28 अप्रैल को गुरमेहर कौर ने सोशल मीडिया पर चार मिनट का वीडियो अपलोड किया था। इसमें उन्होंने एक-एक कर 36 पोस्टर दिखाए थे। लेकिन पोस्टर नंबर 13 वायरल हो गया। इसमें उन्होंने लिखा था कि पाकिस्तान ने मेरे पिता को नहीं मारा, बल्कि जंग ने मारा है। जब गुरमेहर ने एबीवीपी के खिलाफ कैम्पेन शुरू किया तो ट्रोलर्स ने उनके इसी पोस्टर नंबर 13 को वायरल कर दिया।
- बाद में गुरमेहर ने यह आरोप भी लगाया कि उन्हें एबीवीपी की ओर से रेप की धमकियां मिल रही
गुरमेहर ने कैम्पेन क्यों छोड़ा?
- विवाद बढ़ने के बाद गुरमेहर को सोशल मीडिया पर रेप की धमकी मिलने लगीं। शिकायत वुमन कमीशन तक पहुंची। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की। साथ ही उन्हें पूरी सिक्युरिटी देने का भरोसा दिलाया।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: I Didnt Tweet My Hands Did Gurmehar Kaur s Dig At Randeep Hooda
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top