Home »Union Territory »Chandigarh »News» बेरोजगार युवा सिखाएंगे आम लोगों को मोबाइल बैंकिंग, मानदेय मिलेगा 6000 रुपए

बेरोजगार युवा सिखाएंगे आम लोगों को मोबाइल बैंकिंग, मानदेय मिलेगा 6000 रुपए

vikas sharma | Dec 02, 2016, 13:07 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
चंडीगढ़.हरियाणा में बेरोजगारी भत्ता लेने वाले युवा अब आम लोगों को ई बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग सिखाएंगे। इसके लिए सरकार ने करीब 2000 युवाओं की सेवाएं लेने का फैसला किया है। महीने में 100 घंटे काम करने पर इसके बदले उन्हें 6000 रुपए दिए जाएंगे। जबकि उनका 3000 रुपए बेरोजगारी भत्ता इससे अलग होगा।
इधर, सीएम मनोहर लाल ने वीरवार को चंडीगढ़ में मानदेय सक्षम योजना-2016 का शुभारंभ किया। इस स्कीम में 30 नवंबर, 2016 तक 5169 युवाओं ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। राज्य में 21 से 35 साल तक के युवा इस स्कीम के लिए पात्र हैं।

सीएम ने योजना का शुभारंभ करते हुए कहा कि अभी ऐसे युवाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए भत्ता, मानदेय के साथ-साथ कौशल प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। ऐसे बेरोजगार युवाओं को 3 हजार रुपए मासिक भत्ता, 100 घंटे काम के बदले 6 हजार रुपए मानदेय और स्वरोजगार के लिए नि:शुल्क ट्रेनिंग दी जाएगी। हरियाणा के मूल निवासी युवाओं को यह सुविधा 3 वर्ष की अवधि या 35 वर्ष की आयु पूरी होने तक मिलेगी। इस अवसर पर रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी भी मौजूद थे।

सीएम ने बताया कि हरियाणा में शिक्षित और अशिक्षित बेरोजगार युवाओं की संख्या करीब 5 लाख और 10+2 या उससे अधिक शिक्षित करीब 3 लाख युवा है। सरकार इन्हें रोजगार उपलब्ध करवाने प्रयास कर रही है। यह योजना रोजगार का साधन नहीं है बल्कि उन्हें रोजगार प्राप्त करने योग्य बनाने के लिए है।
योजना के दूसरे चरण में प्रदेश के स्नातक स्तर तक शिक्षित युवाओं को शामिल किया जाएगा ताकि उन्हें भी जीवन में आगे बढऩे का मौका मिल सके। इस अवसर पर सीएम ने रस्मी तौर पर 21 युवाओं को एक माह की भत्ता राशि 3000 रुपए के चैक और मानद कार्य पत्र प्रदान किए।

इन युवाओं की कैश लेस सोसायटी बनाने में मदद लेंगे: सीएम

सीएम ने बताया कि प्रदेश में रजिस्टर्ड सभी 5169 युवाओं को जल्दी ही काम दिया जाएगा। फिलहाल में से कुछ लोगों को दिसंबर महीने के दौरान बैंकर्स की मदद से कैश लेस सोसाइटी बनाने में काम दिया जाएगा। ये युवा फील्ड में जाकर लोगों को ऑनलाइन ट्रांजेक्शन, मोबाइल बैंकिंग, पेटीएम और अन्य मोबाइल एप से लेन-देन करने की जानकारी देंगे। इसके लिए इन्हें बैंक ऑफिसर्स से ट्रेनिंग भी दिलवाई जाएगी। सीएम ने बताया कि युवाओं को मोटीवेट करने के लिए जहां कम, वहां हम का नारा भी दिया गया है। यानी जिस भी विभाग में स्टाफ की कमी है, वहां इनकी सेवाएं ली जा सकेंगी।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: बेरोजगार युवा सिखाएंगे आम लोगों को मोबाइल बैंकिंग, मानदेय मिलेगा 6000 रुपए
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top