Home »Union Territory »Chandigarh »News » Mumbai Resident Engineer Hamid Ansari

पाक में कैद इंजीनियर बेटे की रिहाई के लिए हार्ट ऑफ एशिया में पहुंची मां

Shivraj drupad | Dec 02, 2016, 16:13 PM IST

अमृतसर.गत चार सालों से पाकिस्तानी के पेशावर सेंट्रल जेल में कैद मुंबई निवासी इंजीनियर हामिद अंसारी की मां फौजिया अंसारी और पिता नेहाल अंसारी हार्ट ऑफ एशिया में शिरकत करने आ रहे पाक पीएम के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज से मुलाकात को अमृतसर पहुंचे हुए हैं। यह लोग सरताज के समक्ष अपने बेटे की रिहाई का मामला रखेंगे।

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों ने हामिद अंसारी को नवंबर, 2012 में पाकिस्तान के कोहाट जिले से फर्जी पाकिस्तानी पहचान पत्र रखने के आरोप में गिरफ्तार किया था। फरवरी 2013 में एक सैन्य अदालत ने उसे तीन साल जेल की सजा सुनाई थी।

फौजिया तथा निहाल ने बताया कि उनका बेटा नौकरी के सिलसिले में अफगानिस्तान गया था। वहीं पर फेसबुक के जरिए एक पाकिस्तानी लड़की से जान-पहचान हुई और उसके बुलावे पर कुछ दोस्तों के साथ वह पाकिस्तान चला गया। उसे पाकिस्तानी दोस्तों ने एक होटल में ठहराया और इसी दौरान पुलिस की रेड करवा दी और वह गिरफ्तार हो गया।

फौजिया का कहना है कि उनके बेटे को तीन साल की सजा हुई थी और वह साल पहले पूरी हो चुकी है, मगर फ‌िर भी उसे रिहा नहीं किया जा रहा है। हामिद के वकील काजी मोहम्मद अनवर के हवाले से फौजिया ने बताया कि उनके बेटे पर जेल में दो बार हमले हो चुके हैं। उसे हत्या के आरोप में कैद पाकिस्तानी के साथ रखा जा रहा है, जबकि वह फेक आइडेंटिटी केस में बंद है। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर उन्होंने पाकिस्तानी कोर्ट में भी रिट की थी और कोर्ट ने माना भी था कि वह भारतीय एजेंट नहीं है। वह यहां सरताज अजीज से अपने बेटे की रिहाई के लिए मुलाकात करने आई हैं।

इस मामले को सबसे पहले उठाने वाले ऑल महाराष्ट्र ह्यूमन राइट्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष एवं एडवोकेट जयेश मिरानी ने बताया कि हामिद को अब पाक अवैध रूप से कैद रखे हुए है। वह इस मामले को लेकर यूएन में जाने की तैयारी कर रहे हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Mumbai resident engineer Hamid Ansari
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        Top