Home »Union Territory »Chandigarh »News» Major Reason For Gumma Bus Accident, See Photos, News In Hindi

यात्री ने बताई भयानक हादसे की आंखोदेखी, बोला- जहां देखों पड़ी थीं लाशें

dainikbhaskar.com | Apr 20, 2017, 14:04 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

कमानी टूटी पर कंडक्टर ने नहीं रुकवाई बस, 8 किमी बाद 900 मीटर खाई में गिरी

शिमला.चौपाल के गुम्मा में हुए बस हादसे में 45 लोगों की मौत हो गई। 47 सवारियों से भरी इस बस में दो लोग जिंदा बचे। इनमें बस कंडक्टर और दूसरा चौपाल का रहने वाला रोहित शामिल हैं। दोनों ने ही बस से कूद कर अपनी जान बचाई। रोहित ने बताया कि 45 लोगों की मौत के इस खौफनाक मंजर को उन्होंने अपनी आंखों से देखा। उन्होंने बताया कि इस घटना को याद करके ही रुह कांप जाती है। मुझे लगा कि ईश्वर सबको सलामत रखेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मैं तो बच गया, लेकिन कई अपने इस हादसे में मारे गए।मेरी आंखों के सामने ही लोग दम तोड़ रहे थे...

बेबस था, करता भी क्या...

रोहित ने कहा कि उम्र भर वे इस हादसे को नहीं भुला पाएंगे। वह कहते हैं कि मेरी आंखों के सामने ही लोग दम तोड़ रहे थे, मैं बिलकुल बेबस था, करता भी क्या। इस मंजर को देखकर मैं बेसुध हो गया। रोहित ने बताया कि बस पलटे खाते हुए टौंस नदी में समा गई।
पिछले साल भी 18 लोग मरे थे...

बस हादसे के बाद मौत का मंजर खौफनाक मंजर था। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि चारों तरफ लाशें बिछी हुई थी। कई शवों के शरीर के अंग अलग अलग हो गए थे। ऐसे में प्रशासन को शिनाख्त करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। चौपाल के गुम्मा के पास जिस जगह से निजी बस नीचे गिरी, वहां से कुछ दूर पहले पिछले साल एक बस गिर खाई में गिर गई थी। करीब 18 लोगों की मौत हो गई थी।
सात हिमाचल और 19 उत्तराखंड के रहने वाले थे...
45 लोगों में से देर शाम तक 26 की ही शिनाख्त हो पाई। इनमें सात हिमाचल और 19 उत्तराखंड के रहने वाले थे। गहरी खाई में गिरी बस में हताहत लोगों को सड़क तक पहुंचाने का अभियान देर रात तक चला।
आगे की स्लाइड्स में देखें तस्वीरें..
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Major Reason For Gumma Bus Accident, see Photos, news in hindi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top