Home »Union Territory »Chandigarh »Sports » Smith Watches His Bat During Manufactured And Set Century

PHOTOS: 6 घंटे आंखों के सामने स्मिथ ने बनवाया बैट, उसी से जड़ा शतक

gaurav marwaha | Mar 18, 2017, 09:51 IST

जालंधर में स्मिथ।

जालंधर। बेंगलुरू टेस्ट में जीत के बाद भारतीय टीम सीरीज 1-1 से बराबर होने का जश्न मना रही थी तो वहीं दूसरी ओर कंगारू हार से उबरने का प्लान बना रहे थे। इसी बीच ऑस्ट्रेलियन कप्तान ने जालंधर जाने का प्लान बनाया। इस प्लान से टीम ऑस्ट्रेलिया हैरान थी और टीम इंडिया परेशान। क्या है पूरा मामला...
- स्मिथ ने एक दिन के इस टूर पर जाने का फैसला इसलिए किया, क्योंकि वे सीरीज के बाकी मैचों के लिए नया बैट चाहते थे। जालंधर की एफसी सोंधी एंड कंपनी उनका बैट बनाती है और स्मिथ वहां पर उसे बनवाने के लिए खुद पहुंचे।
- स्मिथ ने यहां पर बल्ले को ही नहीं परखा, बल्कि कंपनी के बाकी प्रॉडक्ट्स को भी बनते हुए देखा और उसके बारे में जानकारी प्राप्त की।
- कंगारू कप्तान ने अपने बल्ले के साथ साथ, ग्लव्स और पैड को भी बनते हुए देखे।
- कंपनी के जीएम सुरेश दत्त ने बताया कि स्मिथ ने पहले ही बता दिया था कि उन्हें कितने वजन का बल्ला चाहिए।
- उन्होंने अपने लिए 2 पाउंड और 9 ओंस वजन का बल्ला मांगा था।
सोंधी स्पोर्ट्स कंपनी के जनरल मैनेजर ने बताई ये कहानी...
- सोंधी स्पोर्ट्स कंपनी के जनरल मैनेजर सुनील दत्त ने बताया, हम अगले तीन साल के लिए फिर से स्टीव स्मिथ के साथ जुड़ रहे है, उसी के लिए स्टीव स्मिथ यहां घूमने आए थे।
- स्टीव स्मिथ अपने बल्ले पर बहुत ज्यादा ध्यान देते है, वह हमेशा अपने बल्ले के वजन को लेकर बहुत ज्यादा सोचते है और इसीलिए उन्होंने यहां आकर हमें अपने बल्ले के वजन के बारे में बताया।
- उन्होंने बल्ले का वजन 2 पाउंड और 9 ओंस रखने को कहा है। सुनील दत्त ने बताया, ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ ग्लब्स के लिए उपयोग होने वाली सामग्री से बहुत आश्चर्यचकित हुए, क्योंकि ग्लब्स को बनाने के लिए लगभग 200 से ऊपर ज्यादा तरह की सामग्री का उपयोग होता है।
आगे की स्लाइड्स में देखें तस्वीरें...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Smith watches his bat during manufactured and Set century
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Sports

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top