Madhya Pradesh » Bhopal » भोपाल

भोपाल

Sushma Barange | Sep 01, 2016, 13:42 IST

भोपाल। कैलाश मानसरोवर को शिव-पार्वती का घर माना जाता है। मानसरोवर की ये खूबसूरत तस्वीरें dainikbhaskar.com को भोपाल के रहने वाले विनोद कोटिया ने भेजी है। अपने अनुभव भास्कर के साथ शेयर करते हुए विनोद ने बताया कि मानसरोवर बेहद खूबसूरत जगह हैं, लेकिन सुगम, पथरीले और फिसलन-भरे रास्ते पर जरा से चूक जान जोखिम में डाल सकती है। 12 ज्योतिर्लिंगों में हैं बेस्ट...
- एनटीपीसी (सेल पावर कंपनी प्राइवेट लिमिटेड) में कार्यरत विनोद हालही में मानसरोवर की यात्रा करके लौटे हैं।
- पुराणों के अनुसार यहां शिवजी का स्थायी निवास होने के कारण इस स्थान को 12 ज्योतिर्लिंगों में सर्वश्रेष्ठ माना गया है।
- कैलाश बर्फ से आच्छादित 22,028 फुट ऊंचे शिखर और उससे लगे मानसरोवर को 'कैलाश मानसरोवर तीर्थ' कहते है और इस प्रदेश को मानस खंड कहते हैं।

हर साल आते हैं हजारों भक्त
हर साल कैलाश-मानसरोवर की यात्रा और शिव-शंभू की आराधना करने हज़ारों साधु-संत, श्रद्धालु, दार्शनिक यहां आते हैं। इससे इस स्थान की पवित्रता और महत्ता काफी बढ़ जाती है। कैलाश-मानसरोवर उतना ही प्राचीन है, जितनी प्राचीन हमारी सृष्टि है। इस अलौकिक जगह पर प्रकाश तरंगों और ध्वनि तरंगों का समागम होता है, जो ‘ॐ’ की प्रतिध्वनि करता है। इस पावन स्थल को 'भारतीय दर्शन के हृदय' की उपमा दी जाती है।
यहां से निकलती है कई महत्वपूर्ण नदियां
कैलाश पर्वत तिब्बत में स्थित एक पर्वत श्रेणी है। इसके पश्चिम तथा दक्षिण में मानसरोवर तथा रक्षा-तल झील हैं। यहां से कई महत्वपूर्ण नदियां निकलतीं हैं। इनमें ब्रह्मपुत्र, सिन्धु, सतलुज प्रमुख रूप से शामिल है। हिन्दू धर्म में इसे पवित्र माना गया है। यह झील लगभग 320 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैली है। इसके उत्तर में कैलाश पर्वत तथा पश्चिम मे रक्षा-तल है। यह समुद्र तल से लगभग 4556 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इसकी परिमिति लगभग 88 किलोमीटर है और औसत गहराई 90 मीटर।
आगे की स्लाइड्स पर देखें तस्वीरें...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: भोपाल
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Bhopal

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top