Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Four People Die In Road Accident

पुलिया से टकराकर, 40 फीट दूर गिरे बाइक सवार, 2 बच्चों सहित दम्पति की मौत

अनवर अली | May 18, 2017, 13:06 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
भोपाल/दमोह। बटियागढ़ थाना क्षेत्र के छतरपुर मार्ग पर बड़ी चढ़ाई के पास बुधवार की सुबह करीब 10 बजे एक तेज रफ्तार बाइक अनियत्रित होकर सड़क के बाजू से रखे सीमेंट की पुलिया से टकरा गई। इस दर्दनाक हादसे में छतरपुर जिले के ग्राम मछंदरी निवासी दो बच्चों सहित पति-पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई। जानें पूरा मामला...

-हादसा इतना जबर्दस्त था कि बाइक का अगला पहिया टूटकर दो हिस्सों में बंट गया और बाइक में सवार सभी 40 फीट दूर यहां-वहां जा गिरे। यहां तक कि एक बच्चे का शव झाड़ियां में पड़ा मिला। पुलिस मौके पर पहुंचकर मृतकों के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बटियागढ़ लेकर आई। देर शाम एसपी तिलक सिंह मौके पर पहुंचे और उन्होंने घटना स्थल का जायजा लिया।
-बटियागढ़ थाना प्रभारी चंद्रकांत पटेल ने बताया कि छतरपुर जिले के बड़ा मलहरा थाना क्षेत्र के ग्राम महाराजगंज निवासी मिट्‌ठू पिता गोकल अठ्या (38) पत्नी उम्मी बाई (33) के अलावा पुत्र गोलू (6) एवं एवं अपने साढूभाई के पुत्र वीरेंद्र पिता सूरज अठ्या (12) निवासी मछंदरी थाना बक्सवाहा के साथ एक ही बाइक पर सवार होकर फुटेराकलां गांव के पास अपनी ससुराल पिपरिया शाहपुर जा रहे थे।
-सुबह 10 बजे जैसे ही वे सवार बड़ी चढ़ाई के मोड़ के पास पहुंचे, उनकी तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे डले सीमेंट की पुलिया से जाकर टकरा गई। हादसा इतना जबर्दस्त था कि चारों बाइक सवारों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना स्थल के पास सभी के शव यहां-वहां बिखरे पड़े मिले। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। करीब एक घंटे तक मृतकों के बारे में कोई पता नहीं चला।
-बाद में पुलिस द्वारा बक्सवाहा व महाराजगंज थाना में संपर्क किया। इसके बाद मृतकों के नाम व पता की पुष्टि हो पाई। बाद में पोस्ट मार्टम कराकर सभी के शव परिजनों को सौंप दिए गए।
चाय की दुकान पर बैठकर कर ले गए थे जांच
एक बार अधिकारी जांच करने आए, तो उन्होंने एक चाय की दुकान पर बैठकर कर ली थीं जांच, मीडिया ने फोटो खींचे थे तो बहस पर उतर आए थे। जबकि लगातार हो रहे हादसों को लेकर स्थानीय लोग एमपीआरडीसी के अधिकारियों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इस संबंध में थाना प्रभारी पटेल का कहना है कि अभी मर्ग कायम कर लिया गया है। दोबारा हादसे न हों, इसके लिए एमपीआरडीसी के लिए पत्र लिखकर सांकेतक बोर्ड लगाने के लिए कहा जाएगा।

10 लोगों की जान ले चुका है यह मोड़
जिस जगह हादसा हुआ, वहां पर बीते एक साल के दौरान एक दर्जन से अधिक हादसे हो चुके हैं। जिसमें सैकड़ों लोग घायल होने के साथ 10 लोगों की मौत भी हो चुकी है। जब भास्कर ने हादसों की पड़ताल की तो पता चला कि एमपीआरडीसी द्वारा सड़क निर्माण के बाद पूरे मार्ग पर कहीं पर भी संकेतक बोर्ड व मोड़ पर रैलिंग नहीं लगाई है। यही कारण है कि तेज रफ्तार वाहन खतरनाक मोड़ पर आकर अनियंत्रित होकर दुर्घटनाओं के शिकार हो जाते हैं। हालांकि भास्कर ने प्रशासन को दो माह पहले ही लगातार हो रहे हादसों की वजह को लेकर एमपीआरडीसी के अधिकारियों अवगत करा चुका है। इसके बावजूद भी जिम्मेदार अधिकारियों ने कोई संकेतक व दिशा सूचक बोर्ड नहीं लगाए।
आगे देखें संबंधित फोटोज

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Four people die in road accident
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top