Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News » Many Veteran Attended Big Meeting Of Bjp

कार्यसमिति की बैठक में बोले सीएम- इस तरह का 'पारिवारिक वातावरण' पहले नहीं देखा

साजिद खान | Jan 11, 2017, 16:52 PM IST

भाजपा कार्यसमिति की बैठक में बोलते शिवराज सिंह।

भोपाल/सागर। भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक का बुधवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने समापन किया। उन्होंने कहा कि, वे 1985 से पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य रहे हैं, लेकिन इस बार की बैठक समन्वय, सहयोग, प्रेम और आत्मीयता की दृष्टि से अभूतपूर्व साबित हुई है। इस तरह का 'पारिवारिक वातावरण' इसके पहले उन्होंने नहीं देखा।सीएम ने जताई खुशीं...
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा...
- सीएम ने कहा कि देश में अपनी तरह के अनूठे आनंद विभाग के तत्वावधान में 14 जनवरी से प्रदेश के 51 जिलों में 'आनंदम' कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।
-बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय नेतृत्व के कामकाज की प्रशंसा करते हुए उन्होंने पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान और संगठन महामंत्री सुहास भगत के काम को भी सराहा।
-सीएम ने बैठक की व्यवस्था के लिए गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह और कार्यकर्ताओं को बधाई दी।
- कुशाभाऊ ठाकरे, प्यारेलाल खंडेलवाल, सुंदर लाल पटवा और कैलाश जोशी जैसे वरिष्ठ पार्टी नेताओं का नाम लेते हुए सीएम ने का कि इनका भाजपा को स्थापित करने में अहम योगदान रहा है और अब वर्तमान पीढ़ी को संगठन की विचारधारा को और आगे बढ़ाना है।
बोले नंदकुमार सिंह चौहान...
बैठक में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने भी प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री चौहान की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इस दौर में आम जनता देश में सिर्फ मोदी-मोदी और प्रदेश में 'मामा-मामा' के ही नारे लगा रही है। उन्होंने कहा कि, चौहान लगातार 11 साल से मुख्यमंत्री बने हुए हैं और ये उनकी कठिन तपस्या का ही परिणाम है। इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्यप्रदेश के प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे, संगठन महामंत्री सुहास भगत समेत अन्य बहुत से नेता मौजूद थे।
पृथक बुंदेलखंड राज्य को सिरे से खारिज किया गृहमंत्री ने
मध्यप्रदेश के गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने पृथक बुंदेलखंड राज्य निर्माण की मांग को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि चंद लोग ही इस प्रकार की मांग उठाते रहते हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड और मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड की स्थिति भिन्न है। मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड वासी प्रदेश के साथ ही रहना चाहते हैं। छोटे राज्यों के गठन के सवाल पर उन्होंने कहा कि अलग राज्य की अगर बात आएगी, तो महाकौशल प्रांत के बारे में सोचा जा सकता है, जिसमें जबलपुर और रीवा संभाग के साथ सागर को भी जोड़ा जा सकता है। प्रदेश कार्यसमिति के माध्यम से बुंदेलखंड की ब्रांडिंग के सवाल पर उन्होंने कहा कि ब्रांडिंग तो वस्तु की होती है, हमने तो विकास कार्य करके दिखाए हैं।
आगे की स्लाइड्स पर देखें तस्वीरें...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Many veteran attended big meeting of bjp
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        Top