Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News » Paper Of English Is Leaked

यहां whatsapp पर मिलते हैं पेपर, टीचर कराते हैं नकल, ऐसे होते हैं बोर्ड एग्जाम!

निश्चय बोनिया/संजय मौर्य | Mar 21, 2017, 10:54 IST

खिड़की से दोस्त को नकल कराते लड़के।

भोपाल/मुरैना/दमोह। मध्य प्रदेश में बोर्ड एग्जाम के दौरान हैरान कर देने वाली तस्वीरें सामने आई हैं। प्रदेश के दमोह जिले में धड़ल्ले से टीचर के सामने स्टूडेंट्स नकल करते देखे गए। यह हाल सिर्फ दमोह का नहीं, बल्कि मप्र के कई जिलों का है। इनमें दमोह, भींड, मुरैना, शहडोल सहित कई क्षेत्र शामिल है। पढ़ें पूरी खबर...
एग्जाम से पहले लीक हुआ पेपर
सोमवार को माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश की 10वीं (हाईस्कूल) बोर्ड परीक्षा का अंग्रेजी का पेपर लीक होने की जानकारी मिली है। सूत्रों के अनुसार मुरैना में परीक्षा के 45 मिनट पहले व्हाट्सएप के जरिए पेपर लीक किया गया है। हालांकि, इस मामले में मप्र बोर्ड के प्रवक्ता ने किसी भी प्रकार की सूचना होने से इंकार किया है।

पहले भी उड़ी थी अफवाह
सोमवार सुबह से ही प्रश्नपत्र लीक की खबर फैलने लगी थी, लेकिन तस्दीक होने तक परीक्षा संपन्न हो गई थी। पेपर मुरैना में WhatsApp के जरिए लीक हुआ, जो कि धीरे-धीरे पूरे अंचल में फैल गया। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश बोर्ड के प्रवक्ता एसके चौरसिया ने बताया कि, फिलहाल उनके पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है। इससे पहले भी कई बार पेपर लीक होने की बात कही गई थी, जो कि तस्दीक के बाद गलत निकली।


मेहनती विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़
नकल व पेपर-आउट के लिए बदनाम ग्वालियर-चंबल अंचल के साथ ही अब प्रदेश के दूसरे स्थानों पर भी पेपर लीक होने के वाकये सामने आ रहे हैं। इससे समूचे प्रदेश की स्कूली शिक्षा पर सवाल उठने लगे हैं। गौरतलब है कि उच्च शिक्षा व प्रतियोगी परीक्षाएं व्यापमं व पीएससी परीक्षा की अनियमितताएं सामने आने की वजह से पहले से ही विश्वसनीयता खो चुकीं है। मेहनत के दम पर सुनहरे भविष्य के सपने देखने वाले विद्यार्थियों को इन वाकयों से निराशा हो रही है।

जून में आएगा रिजल्ट
मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की हाईस्कूल व हायर सेकंडरी परीक्षाओं का रिजल्ट इस बार जून तक आने की संभावना है। हालांकि अधिकारी इस मामले में फिलहाल बातचीत करने से बच रहे हैं। नौवीं-11वीं की परीक्षाओं के पर्चे लीक होने के कारण माशिमं फिर से उनके पर्चे बनवा रहा है। इस वजह से हाईस्कूल व हायर सेकंडरी परीक्षाओं का मूल्यांकन कार्य गड़बड़ा सकता है। इस वजह से मई के दूसरे या तीसरे सप्ताह की जगह इस बार इन परीक्षाओं का रिजल्ट जून तक खिंच सकता है।
दमोह में ऐसे होते मिली नकल...
-क्षेत्र के पथरिया बनवार सहित महाराणा प्रताप स्कूल में जमकर नकल हुई, मगर अधिकारियों ने कोई नकल प्रकरण नहीं बनाया। पथरिया में तो अभिभावकों ने स्वयं नकल फाड़कर बच्चों तक पहुंचाई। शिक्षक मूकदर्शक बने देखते रहे।
-उधर बांसातारखेड़ा में एक परीक्षार्थी का नकल प्रकरण बना। बनवार में ब्लैक बोर्ड पर नकल कराने की सूचना मिली।
-डीईओ पीपी सिंह से इस संबंध में जब जानकारी मांगी गई, तो उन्होंने मुस्कराकर बात को टाल दिया।
-दरअसल जिले में अधिकारियों ने निरीक्षण के दौरान नकल मिलने पर एक भी प्रकरण नहीं बनाया है। जितने भी प्रकरण बने हैं, सागर से आई जेडी की टीम ने ही बनाए हैं।
-दमोह में हाईस्कूल और हायरसेकेंडरी परीक्षा में अब तक सागर की टीम ने 23 से ज्यादा नकल प्रकरण बना लिए हैं।
आगे की स्लाइड्स पर देखें तस्वीरें...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Paper of English is leaked
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top