Home »Madhya Pradesh »Gwalior» Call Brother, Save Me, Evening Reached News Of Death

दोपहर में भाई को फोन करके बोली- मुझे बचा लो, शाम को आई मौत की खबर

dainikbhaskar.com | Mar 26, 2017, 08:16 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

मनीषा, जिसने होली वाले दिन दोपहर को फोन करके भाई से कहा था बचाने को, शाम को मिली लाश

ग्वालियर। होली वाले दिन एक महिला मायके में फोन करके भाई को बोलती है, ये लोग मुझे बेरहमी से मार रहे हैं मुझे बचा लो। भाई कुछ समझ पाता, इसके पहले शाम को पड़ोसी का फोन आ गया कि बहन की मौत हो गई। इसके बाद युवती के परिजन पहुंचे, लेकिन पुलिस ने उनकी रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की। मुश्किल से हुआ पोस्टमार्टम...

- जानकारी के मुताबिक मनियार के रहने वाले सरजू प्रसाद की बेटी मनीषा की शादी शिवपुरी के कपिल राठौर से 5 साल पहले हुई थी। उसकी दो बेटियां भी थीं। इससे पति कपिल और ससुराल वाले उसे परेशान करते थे।
- आरोप है कि कुछ दिन पहले मनीषा तीसरी बार वह गर्भवती हुई तो अल्ट्रासाउंड कराके उसका एबॉर्शन करा दिया, क्योंकि उसमें लड़की थी। इसके बाद तो मनीषा के ऊपर अत्याचार का सिलसिला शुरू हो गया।
- मनीषा के घरवालों के मुताबिक उनकी बेटी के साथ आए दिन मारपीट होती थी। उसका हाथ भी तोड़ गया था। कई बार मनीषा ने पिता को यह बताया। पिता सरजू प्रसाद ने भी दामाद कपिल को समझाया, लेकिन कोई असर नहीं हुआ।
होली वाले दिन हुई मनीषा की पिटाई
- मृतक मनीषा के परिवार वालों के मुताबिक होली वाले दिन मनीषा की जमकर पिटाई की गई। इसी पिटाई के बीच उसने भाई प्रदीप को फोन करके जानकारी दी। भाई , मनीषा के पास पहुंच पाता, इसके पहले उसकी मौत संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई।
पुलिस ने नहीं किया मामला दर्ज
-मनीषा के पिता सरजू प्रसाद का आरोप है कि पूर्व विधायक माखनलाल राठौर के दबाव में पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज नहीं किया है।

बेटा नहीं हुआ तो मार दिया मनीषा को
-पिता सरजू प्रसाद का कहना है कि मनीषा के दो बेटियों के जन्म के बाद ही अत्याचार शुरू हो गए थे। बेटा नहीं होने के कारण उसके साथ आए दिन मारपीट होती थी।
-होली वाले दिन भी जमकर मारपीट की गई और मामले के सुसाइड का रूप दे दिया गया है। स्थानीय पुलिस भी जांच नहीं करके आरोपियों को बचाने में जुटी हुई है।
स्लाइड्स में देखिए इस मामले के फोटोज...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: call brother, save me, evening reached news of death
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Gwalior

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top