Home »Madhya Pradesh »Gwalior» Ranthambore Tigers Moving In Madhya Pradesh Forest

रणथंभौर से भागे टाइगरों को पसंद आए एमपी के जंगल, कूनो सेंक्चुरी में जमाया डेरा

dainikbhaskar.com | Apr 21, 2017, 07:39 IST

  • रणथंभौर रिजर्व से एमपी के जंगलों में घूम रहा है यह टाइगर, कैमरे में हुआ कैद
    ग्वालियर. राजस्थान के रणथंभौर के टाइगर का नया ठिकाना मध्य प्रदेश के जंगल बनते जा रहे हैं। चार सालों में वहां से 5 टाइगर गायब हो चुके हैं, जिसमें से 3 कूनो सेंक्चुरी में घूम रहे हैं। एक टाइगर ने दतिया के पास रतनगढ़ में अपना ठिकाना बना लिया है। टाइगर के इस मूवमेंट से एक नया कॉरीडोर बन गया है, जो 500 किमी से ज्यादा एरिया में फैल गया है। ऐसे आ रहे हैं एमपी में टाइगर............
    -रणथंभौर के टाइगर ने एक नया रास्ता बनाकर चंबल जैसी नदी पार करके एमपी के जंगलों में ठिकाना बनाना शुरू कर दिया है। पिछले सालों में करीब 5 टाइगर रणथंभौर से गायब हो गए।
    -सबसे पहले 2013 में एक टाइगर दतिया के जंगलों में सामने आया। जंगल में लगाए गए ट्रैप कैमरे में इस टाइगर की तसवीर कैद हो गई। बाद में मालूम हुआ कि यह टाइगर करीब 500 किमी का सफर तय करके यहां आया है।

    पहले आते हैं कूनो सेंक्चुरी में
    -रणथंभौर टाइगर रिजर्व एमपी के श्योपुर जिले की सीमा से लगा हुआ है। ये टाइगर रिजर्व से निकलकर चंबल नदी पार करते हुए वीरपुर के जंगल में आते हैं और कूनो सेंक्चुरी के भीतर पहुंच जाते हैं।
    -कई टाइगर तो कूनो सेक्चुरी में घूमकर वापस रणथंभौर भी चले गए, लेकिन कुछ को यहां का माहौल रास आ गया, तो वे रुक गए।
    -रणथंभौर के इन टाइगर पर फॉरेस्ट अफसर निगाह तो रखे हुए हैं, लेकिन पूरी तरह नहीं, लेकिन अभी तक इनको किसी प्रकार से नुकसान नहीं पहुंचाया गया है।
    -वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट का कहना है कि यहां के जंगल फिलहाल शिकारियों की नजर से दूर हैं और टाइगर को भोजन भी भरपूर मिल रहा है। यही कारण है कि टाइगर यही डेरा डालकर बैठे हुए हैं।

    सदियों पुराना कॉरीडोर है ये
    -वाइल्ड लाइफ विशेषज्ञ डॉ. एसआर टैगोर बताते हैं कि रणथंभौर के टाइगर जिस रास्ते से होकर एमपी में आ रहे हैं, वह सदियों पुराना टाइगर कॉरीडोर है। श्योपुर, शिवपुरी व दतिया के जंगलों में एक समय बहुत टाइगर थे।
    -बाद में शिकारियों के कारण ये गायब हो गए। चूंकि रणथंभौर में टाइगर की संख्या बढ़ रही है, इसलिए वे अपने प्राकृतिक रास्ते से चलते हुए श्योपुर और दतिया में आ रहे हैं।
    स्लाइड्स में देखिए जंगल में घूम रहे टाइगर के फोटोज.......
  • कूनो सेंक्चुरी में रणथंभौर के दो टाइगर घूम रहे हैं
  • रणथंभौर का एक टाइगर 500 किमी दूर दतिया के जंगलों में घूमता दिखाई दिया
  • एमपी के जंगल पसंद आ गए रणथंभौर के टाइगर को
  • कूनो सेंक्चुरी बनाई एशियाटिक शेरों के लिए, जिनका हो रहा है इंतजार
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Ranthambore tigers moving in madhya pradesh forest
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Gwalior

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top