Home »Madhya Pradesh »Indore »News» MPEB Electrical Lineman Son Who Beat UP Engineer In MPEB DEWAS Office

पहले इंजीनियर को ऑफिस में पीटा फिर तानी पिस्टल, VIDEO हुआ वायरल

dainikbhaskar.com | Apr 20, 2017, 18:38 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
देवास/इंदौर। एक कर्मचारी को सस्पेंड करना सब इंजीनियर को बहुत महंगा पड़ा। गुस्साए कर्मचारी के बेटे ने दफ्तर में घुसकर ना सिर्फ मारपीट की बल्कि सिर पर पिस्टल तानकर जान से मारने की धमकी तक दे डाली। स्टाफ के पहुंचने पर आरोपी भाग खड़ा हुआ। पूरा घटनाक्रम ऑफिस में लगे सीसीटीवी में कैद हो गया।



यह है पूरा मामला...
- लाइनमैन प्रेमसिंह राजपूत व उसका बेटा हरीश दोनों बिजली कंपनी में कार्यरत हैं।
- 15 अप्रैल को काम को लेकर हुए विवाद करते हुए दोनों जोन के सब इंजीनियर शैलेंद्र पाटकर से मारपीट की थी। इस पर कोतवाली में प्रकरण दर्ज किया था।
- इसके बाद कुछ कर्मचारी संगठन कर्मचारी के बचाव में आए थे, लेकिन कंपनी ने आरोपी लाइनमैन राजपूत को सस्पेंड कर दिया।
- बुधवार को पाटकर अपने दफ्तर में थे तभी दोपहर करीब सवा दो बजे सस्पेंड किए गए लाइनमैन का बेटा हरीश आया।
- ऑफिस में दाखिल होते ही वह कट्‌टा तानकर इंजीनियर को धमकाने के साथ मारपीट करने लगा।
- मारपीट का पूरा घटनाक्रम ऑफिस में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।

पाटकर को सीनियर जोन से हटाने की साजिश!
- पाटकर ने बताया कंपनी के कुछ लोग इन लाइनमैन और बेटे से मिले हुए हैं जो काम को प्रभावित करना चाहते हैं। वे नहीं चाहते कि मैं यहां रहूं। निष्पक्ष जांच में सब सामने आ जाएगा।
- ताजा घटनाक्रम को लेकर पुलिस ने आरोपी हरीश पर जान से मारने की कोशिश सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

रिटायर कर्मियों का कर्मचारी संगठन पर कब्जा
- इस विवाद के दौरान आरोपी लाइनमैन और उसके बेटे के बचाव में आए संगठनों को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं।
- कुछ कर्मचारियों ने दावा किया कि रिटायर कर्मचारी आज भी कर्मचारी संगठन के सर्वेसर्वा बने रहना चाहते हैं, यह सिर्फ नेतागीरी के लिए हो रहा है।


आगे की स्लाइड्स पर देखें सीसीटीवी में कैद पूरा घटनाक्रम...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: MPEB Electrical Lineman Son Who Beat UP Engineer In MPEB DEWAS Office
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top