Home »Madhya Pradesh »Indore »News» Robbery Bride In Police Custody Neemach Mp

लड़की के दुल्हन बनने के पीछे है गजब की कहानी, अपनाती थी ये खास ट्रिक

Modassir Khan | Apr 13, 2017, 20:12 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
नीमच/इंदौर।शादी का झांसा देकर रुपए लेकर ठगी करने वाले गिरोह संचालित करने वाली एक ठगोरी दुल्हन को पुलिस ने गिरफ्तार किया। उसका साथी फरार हो गया है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। लोगों की माने तो शादी के नाम पर ठगी करने वाली यह लड़की एक साल में चार-पांच शादी कर लेती थी।
- एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि सांडिया (मनासा) निवासी मनोज उर्फ मन्नालाल पिता मांगीलाल पुजारी ने शादी के नाम पर हुई धोखाधड़ी की शिकायत की थी।
- एक युवक मनोज से शादी के नाम पर 60 हजार रुपए लेकर बहन को उसके पास छोड़ गया था।
- जब उसने लड़की के कथित भाई से बात की तो धमकी देने लगा। शिकायत पर पुलिस ने मनोज के घर आरोपी लड़की रानी उर्फ सुशीला पिता विश्वनाथ यादव निवासी कुसमी रोड गोसरा भदोरा सीधी को हिरासत में लेकर पूछताछ की।
- उसने बताया गांव के ही विजय के साथ मिलकर वह शादी के नाम पर लोगों से रुपए लेकर ठगी करती है। आरोपी विजय फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।
एक लाख लेकर इसी लड़की ने चल्दू में भी की थी शादी
- इस गिरोह ने जीरन थाना क्षेत्र के चल्दू में पंकज नाम के एक युवक से शादी की थी।
- वहां भी आरोपी रानी के साथी विजय ने पंकज से 1 लाख रुपए लिए थे। इसके बाद विजय तो चला गया।
- रानी कुछ दिन बाद पंकज को चकमा देकर भाग गई थी। इसके बाद इन्होंने मनोज अपने जाल में फंसाया था।
गरीबी का रचा था ढ़ोंग, मांगे थे ढाई लाख रुपए
- सांडी निवासी मनोज जनवरी 2017 में चल्दू के एक युवक के जरिए इस गिरोह के संपर्क में आया।
- मनोज ने बताया पहले विजय से बात हुई। उसके बाद रानी से बात कराई। एक महीने तक फोन से बातचीत होती रही। इसके बाद शादी की बात हुई।
- विजय ने गरीबी का नाटक करते हुए शादी के बदले ढाई लाख रुपए की मांग की।
- मनोज डेढ़ लाख रुपए होने की बात कही। एक हफ्ते पहले विजय और रानी मनासा पहुंचे।
- दोनों को संजीवनी होटल में ठहराया। वहां अपने भाई को लेकर पहुंचा और इनसे शादी की बात करते हुए पांच मई को विवाह की तारीख तय की।
- विजय को 60 हजार रुपए दे दिए। बाकी के रुपए शादी के पहले देने की बात हुई। वह रानी को मेरे पास छोड़कर कुछ दिनों में आने का कहकर चला गया।
- जब उसको फोन लगाकर बात की तो वह धमकी देने लगा। इस पर थाने में शिकायत की थी।
एमए तक पढ़ी है लड़की
- आरोपी रानी एमए तक पढ़ाई की है। उसके पिता किसान है। वो विजय के संपर्क में कैसे आई। इस मामले में पुलिस पूछताछ कर रही है।
- मनासा एसडीओपी केसी नाहटा ने बताया कि इनके साथ और लोगों के होने की सूचना मिल रही है।
आधार नंबर ने खोली पोल
- ये गिरोह एक ही आधार नंबर के तीन कार्ड उपयोग करते थे। आरोपी रानी ने भास्कर को बताया आधार नंबर उसी का है। लेकिन इसके जो साथी हैं उन्होंने कार्ड का गलत उपयोग कर कई आधार कार्ड बना लिए।
- मनोज एक दिन घर में कुछ सामान ढूंढ रहा था इस दौरान रानी के आधार कार्ड पर उसकी नजर पड़ी। उसमें दो आधार कार्ड थे। जिन पर एक ही नंबर।
- इस पर उसे शंका हुआ और वह संजीवनी होटल गया जहां इन्हें ठहराया था। वहां इन्होंने जो आधार कार्ड दिया वह उस पर भी इन्हीं का आधार नंबर दर्ज था।


आगे की स्लाइड्स पर देखें फोटोज...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Robbery bride in police custody Neemach mp
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top