Home »Haryana »Panipat» A Strange Announcement By A Protesty Lady JBT Teacher

टीचर ने मंत्री के सेक्रेटरी के पैरों में रखा दुपट्टा, जिंदगीभर नहीं ओढ़ने का ऐलान

Neeraj Kaushik | Apr 24, 2017, 12:28 IST

  • महेंद्रगढ़ में प्रदर्शन के दौरान शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा के राजनैतिक सचिव के कदमों में अपना दुपट्‌टा रखती एक जेबीटी टीचर।

    महेंद्रगढ़। ज्वायनिंग नहीं होने के खिलाफ सैलेक्टेड जेबीटी टीचर्स जहां पिछले कई दिन से महेंद्रगढ़ में अलग-अलग तरह से प्रोटेस्ट कर रहे हैं। बुधवार को जेंट्स ने शर्ट-बनियान तो लेडी टीचर्स ने दुपट्टा उतारकर प्रोटेस्ट किया और कहा कि राेजी-रोटी मिलेगी तो ही पहनेंगे, वहीं एक टीचर अपना दुपट्टा एजुकेशन मिनिस्टर रामबिलास शर्मा के सेक्रेटरी के कदमों में ही रखकर छोड़कर चली गई। ज्वायनिंग बिना जिंदगीभर दुपट्टा नहीं ओढ़ने का ऐलान किया...

    - टीचर ने अपना दुपट्टा उतारा और यह कहते हुए शिक्षामंत्री के राजनैतिक सचिव के कदमों में रख दिया कि यह दुपट्टा सात हजार टीचर्स की इज्जत का सूचक है, जो रोजी-रोटी के लिए संघर्षरत हैं।
    - शिक्षामंत्री को पिता तुल्य बताते हुए कहा कि स्थायी नियुक्ति मिलने के बाद उनके हाथों से ही दुपट्‌टा दोबारा ओढ़ेगी, नहीं तो जिंदगीभर दुपट्टा नहीं ओढ़ेगी।
    - शिक्षकों ने तहसीलदार दिनेश और शिक्षामंत्री के राजनैतिक सचिव सतबीर को सौंपे मांंगपत्र में कहा कि 20 अप्रैल को हाईकोर्ट में उनके मामले में होने वाली सुनवाई के दौरान प्रदेश सरकार सहानुभूतिपूर्वक जेबीटी शिक्षकों के हित में पैरवी करें, ताकि उन्हें न्याय मिल सके।
    रविवार को लाठीचार्ज में हुए थे 10 टीचर घायल
    - बताते चलें कि 16 अप्रैल रविवार को जेबीटी टीचर्स महेंद्रगढ़ के हुडा पार्क में इकट्ठा हुए। यहां अधिकार रैली करने के बाद ये लोग नगर में प्रदर्शन करते हुए शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा के आवास का घेराव करने के लिए चल पड़े।
    - हालांकि इन्हें मंत्री से साढ़े 5 बजे बात कराने का आश्वासन दिया गया था, लेकिन जब बात नहीं हुई तो आक्रोशित जेबीटी टीचर्स ने बैरीकेड्स तोड़कर घुसने की कोशिश की, जिस दौरान पुलिस द्वारा इस्तेमाल लाठीचार्ज में 10 आंदोलनकारी टीचर्स घायल भी हो गए।
    कई दिन से कर रहे हैं क्रमिक अनशन, पीएम को लिखी थी खून से चिट्‌ठी
    - अपनी बात मनवाने के लिए सोमवार को यादव धर्मशाला में फिर से समिति ने अगली रणनीति तैयार की, जिस दौरान इस दौरान 15 प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम खून से चिट्ठी लिखी थी।
    - चयनित जेबीटी संघर्ष समिति के प्रधान किशोर जावलिया और शकुन्तला के मुताबिक मांग पूरी होने तक इनका संगर्ष जारी रहेगा और इसी के चलते पिछले कई दिन से दो टीचर्स रोज महेंद्रगढ़ के अंबेडकर चौक पर क्रमिक अनशन कर रहे हैं।
    इसलिए अटकी है ज्वायनिंग
    - मुख्य याचिका उन शिक्षकों ने दाखिल की थी, जिनका नाम चयनित शिक्षकों की सूची में नहीं था और उन्होंने दो अंकों के हेर-फेर के चलते भर्ती से बाहर करने का आरोप लगाया था।
    - ऐसे में हरियाणा शिक्षा विभाग द्वारा चयनित 9455 जेबीटी शिक्षकों की नियुक्ति मामले में मई 2016 में दाखिल अर्जी पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कोई राहत देने से इनकार कर दिया था।
    - गुरुवार को हाईकोर्ट ने इस मामले में फैसला देते हुए इन टीचर्स की नियुक्ति पर लगी रोक को हटा ली है और याचिका दायर करने वाले उम्मीदवारों के लिए सीट रिजर्व रखने को भी कहा है।
    आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज.........
  • शहरभर में किया अर्द्धनग्न हो प्रदर्शन।
  • जेंट्स टीचर्स ने शर्ट-बनियान तो लेडीज ने दुपट्‌टा उतारकर अपनी नाराजगी जताई।
  • धरनास्थल पर बैठे आंदोलनकारी जेबीटी टीचर्स।
  • एक जेबीटी टीचर ने सात हजार प्रदर्शनकारियों की लाज बताकर ऐसे कदमों में रख दिया अपना दुपट्‌टा।
  • फिर मांगपत्र दिया और दुपट्‌टा पैरों में ही छोड़कर चली गई।
  • पिछले कई दिन से चल रहे आंदोलन के चलते तैनात पुलिस बल।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: a strange announcement by a protesty lady JBT Teacher
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Panipat

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top