Home »Haryana »Panipat» After Dismissing Tej Bahadur Reach Home In Rewari

बर्खास्त तेज बहादुर घर लौटे, बोले- जवानों की भलाई के लिए बनाया था वीडियो

Ajay Bhatia | Apr 20, 2017, 20:00 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

देखें वीडियो, तेज बहादुर यादव ने क्या कहा...

रेवाड़ी. बीएसएफ में खराब खाने की शिकायत करते हुए वीडियो बनाने वाले जवान तेज बहादुर यादव बर्खास्त होने के बाद अपने घर रेवाड़ी लौट आए हैं। गुरुवार को वे सांबा से रेवाड़ी पहुंचे। घर वालों और अन्य लोगों ने माला पहनाकर उनका वेलकम किया। जवान ने कहा, "मैंने जवानों की भलाई के लिए वीडियो बनाया था, मैं यह लड़ाई लड़ता रहूंगा।" बता दें कि बुधवार को बीएसएफ ने उन्हें बर्खास्त कर दिया था।गुजरा समय जिंदगी का बेहद कठिन वक्त...
- रेवाड़ी पहुंचने पर तेज बहादुर ने कहा, "गुजरा समय मेरी जिंदगी का बेहद कठिन वक्त था, लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी। वीडियो बनाकर अपनी बात नेताओं तक पहुंचाने के पीछे मेरा मकसद उन जवानों की भलाई करना था, जो देश की सेवा कर रहे हैं।"
- तेज बहादुर ने कहा, "अब मैं हाईकोर्ट जाऊंगा और सरकार से भी अपील करूंगा। मेरा मानना है कि अदालत में सभी को इंसाफ मिलता है तो मुझे भी मिलेगा।" इस मौके पर उनकी पत्नी ने कहा, ऐसे में न कोई मां अपने बच्चों को और न ही कोई पत्नी अपने पति को फौज में भेजेगी। बता दें कि तेज बहादुर ने वीआरएस मांगा था, लेकिन उनकी मांग खारिज कर दी गई थी।
कोर्ट में वर्दी पहनकर जाएंगे
- तेज बहादुर ने बताया, "पहले मुझे पेंशन और रिटायरमेंट के कागजात तैयार करने को कहा गया, लेकिन बाद में सीधा बर्खास्त कर दिया गया। मैं कोर्ट में वर्दी पहनकर जाऊंगा और इसी तरह इंसाफ की लड़ाई लड़ूंगा।"
वीडियो में क्या लगाया था आरोप?
- तेज बहादुर ने 9 जनवरी को फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया था। उन्होंने वीडियो में दावा किया था, ''हम किसी सरकार के खिलाफ आरोप नहीं लगाना चाहते, क्‍योंकि सरकार हर चीज, हर सामान हमको देती है. मगर आला अफसर सब बेचकर खा जाते हैं, हमको कुछ नहीं मिलता। कई बार तो जवानों को भूखे पेट सोना पड़ता है। मैं आपको नाश्ता दिखाऊंगा, जिसमें सिर्फ एक पराठा और चाय मिलता है।''
- ''उसके साथ अचार नहीं होता। दोपहर में खाने की दाल में सिर्फ हल्दी और नमक होता है, रोटियां भी दिखाऊंगा। मैं फिर कहता हूं कि भारत सरकार हमें सब मुहैया कराती है, स्टोर भरे पड़े हैं, मगर वह सब बाजार में चला जाता है। इसकी जांच होनी चाहिए। पाकिस्तान सीमा पर कई बार तो जवानों को भूखे पेट सोना पड़ता है।''
- तेज बहादुर के वीडियो पर पीएमओ ने होम मिनिस्ट्री से रिपोर्ट मांगी थी। उनकी बर्खास्तगी कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी में हुई जांच के बाद की गई है। उनको बीएसएफ की इमेज खराब करने का दोषी पाया गया है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: After Dismissing Tej Bahadur reach home in rewari
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Panipat

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top