Home »Haryana »Panipat» Three More Deaths In Death Valley Faridabad

PHOTOS: डेथ वैली फिर निगल गई तीन को, 19 घंटे बाद निकली 3 लाशें

Sudhir Baisla | May 18, 2017, 18:52 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

फरीदाबाद के सूरजकुंड में डेथ वैली में डूबने से मारे गए तीनों युवक।

फरीदाबाद। सूरजकुंड की जिस डेथ वैली में रेडियो जॉकी अभय की मौत हुई थी, उसी झील में बुधवार शाम को डूबे तीन युवकों की डेड बॉडीज करीब 19 घंटे बाद गुरुवार सुबह निकाली गई। ये तीनों अपने पांच अन्य साथियों के साथ घर से खोरी गांव में प्रॉपर्टी खरीदने से पहले वह जमीन देखने निकले थे। प्रॉपर्टी डीलर से मिलने के बाद आठों चार मोटरसाइकिल पर सवार होकर शाम को 4.30 बजे के आसपास घूमते हुए डेथ वैली तक पहुंचे। रास्ते में चरवाहों ने रोका भी था, लेकिन नहीं माने युवक...
- मिली जानकारी के मुताबिक संगम विहार दिल्ली के के-ब्लाॅक गुप्ता कॉलोनी में रहने वाला 28 वर्षीय ऋषि गुप्ता अपने चचेरे भाई पवन गुप्ता, पड़ोसी मिलन गुप्ता, अंकित गुप्ता, मोना गुप्ता, मोनू गुप्ता, अजय गुप्ता और संतोष गुप्ता के साथ खोरी गांव में हो रही प्लाटिंग वाली जमीन को देखने निकले थे।
- इन्होंने प्लॉटिंग कर रहे प्रॉपर्टी डीलर से बातचीत की, जिसके बाद सभी ने पास के एक ठेके से एक-एक बीयर खरीदकर पी ली।
- इस दौरान पवन गुप्ता ने अपने भाई व दोस्तों के सामने प्रस्ताव रखा कि अरावली में कई मनमोहक झील हैं, उन्हें देखने चलते हैं। पवन पहले भी अरावली में घूमकर जा चुका था।
- सभी घूमने के लिए राजी हो गए और मोटरसाइकिलों पर सवार होकर सूरजकुंड रोड होते हुए मानव रचना यूनिवर्सिटी के सामने से डेथ वैली की ओर चल पड़े।
- झील तक गए युवकों में से एक ने बताया कि रास्ते में एक चरवाहे ने आगे जाने से रोका था, लेकिन बाकी साथी नहीं माने तो सभी वहां पहुंच गए।
- ऋषि गुप्ता नहाने के लिए झील के किनारे पहुंचा ही था कि उसका पैर फिसला और वह झील में डूबने लगा। मिलन ने ऋषि को बचाने के लिए उसका हाथ पकड़ने की कोशिश की तो वह भी पानी में डूबने लगा। मिलन को बचाने पवन ने उसका हाथ पकड़ा तो वह भी पानी में डूब गया।
- अब चौथा युवक बचाने की कोशिश कर रहा था कि बाकी साथियों ने अपने कदम पीछे हटा लिए। बाकी युवकों ने शोर मचाया और मदद के लिए पुकारा लेकिन कोई नहीं पहुंचा। मोबाइल के नेटवर्क भी गायब थे, इसीलिए पुलिस से सहायता नहीं मिल पा रही थी।
- किसी तरह एक युवक मोटरसाइकिल पुलिस थाने पहुंचा, तब पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने रातभर युवकों की पानी में तलाश की थी, लेकिन वे नहीं निकाले जा सके। गुरुवार सुबह 6 बजे फिर गोताखोरों ने उनकी तलाश शुरू की तो करीब 5 घंटे बाद यानि बुधवार शाम 4 बजे के बाद अब तक कुल 19 घंटे बाद तीनों एक ही जगह पर मिले। इन्हें निकालकर बीके अस्पताल के शवगृह में पहुंचाया। पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद सभी के शव परिजनों को सौंप दिए।
दो शादीशुदा और एक अविवाहित था
- ऋषि के भाई योगेश गुप्ता ने बताया कि उसके भाई की तीन साल पहले शादी हुई थी। एक साल की बेटी है, जबकि मिलन की उम्र 32 साल है। मिलन की पहली पत्नी की मौत के बाद उसने दूसरी शादी की थी। अभी उसे कोई बच्चा नहीं हुआ था। पवन अविवाहित था, लेकिन उसके रिश्ते की बात चल रही थी। ऋषि का खुद का कपड़े का काम था, वहीं मिलन रेहड़ी पर चाय-समोसे बेचता था। पवन नौकरी करता था।
घरवालों ने नहीं जताया किसी पर शक
पुलिस को काफी देर से इस घटना की सूचना मिली थी। हादसा करीब 4 बजे हुआ, जबकि सूचना 6 बजे मिली। पुलिस ने रात को इन्हें ढूंढा, लेकिन नहीं मिले। सुबह इनके शव पानी से निकाले। परिजनों ने किसी पर कोई शक जाहिर नहीं किया है। पोस्टमार्टम की सामान्य कार्रवाई की गई है। - पंकज कुमार, थाना प्रभारी सूरजकुंड।
गूगल में सर्च करने के बाद झील का आकर्षण खींच लाता है युवकों को
- एनसीआर के युवा गूगल सर्च इंजन में इन झीलों के बारे में जानकारी जुटाते रहते हैं। कृत्रिम झीलों का पानी स्वच्छ है और आसपास के प्राकृतिक सौंदर्य युवाओं को इन झीलों की तरफ खींच लाता है। इन दिनों भीषण गर्मी का मौसम है। बस झीलों में नहाकर शरीर को शीतलता प्रदान करने की चाहत ही युवाओं को इन झीलों में डुबकी लगाने को मजबूर करती है, पर असल में यह झीलें इतनी गहरी हैं, जिसका अंदाजा युवा वर्ग लगा नहीं पाता और हादसे का शिकार हो जाते हैं।
कृत्रिम झीलों में डूबकर काल की गोद में समाने की प्रमुख घटनाएं
30 मई-2011 : सेक्टर-5 वैशाली गाजियाबाद से सूरजकुंड क्षेत्र की बड़ वाली झील में छह छात्रों के दल में से दो छात्रों की डूबने से मौत।
29 सितंबर-2011 : बीएस अनंगपुरिया कॉलेज के तीन छात्र अभय, दीपक रावत और विशाल यादव की खोरी जमालपुर झील में डूबने से मौत।
22 जुलाई-2012 : सूरजकुंड की बड़ वाली झील में आरके पुरम दिल्ली निवासी नितेश भाटिया की डूबने से मौत।
24 मार्च 2014 : तीन छात्र राघव, रवि और पंकज शर्मा खोरी-जमालपुर वाली झील में डूबे
29 मार्च 2014: रेडियो जॉकी अभय की सूरजकुंड झील में डूबने से मौत।
15 मई 2015 - बड़वाली झील में डूबकर एक युवक की मौत हो गई थी।
03 जून 2015- कृत्रिम झील में नहाते समय डूबने से विक्की कोहली की मौत हुई।
19 जून 2015 - गुरुकुल इंद्रप्रस्थ के पास झील में नहाने के दौरान दसवीं का छात्र डूबा।
22 जुलाई 2015- दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी में बीटेक का छात्र झील में डूबा।
29 फरवरी 2016 : झील में डूबने से द्वारका दिल्ली के रहने वाले तन्मय मिश्रा की मौत हो गई।
1 मई 2016 : ओखला फेस-2 निवासी ¨पटू की डेथ वैली में डूबने से हुई।
8 मई 2016 भीकम कॉलोनी के करण की बड़वाली झील में डूबने से मौत हुई थी।
13 अप्रैल 2017 : सेल्फी लेते समय एक छात्र की सिरोही स्थित झील में गिरने से मौत।
मौत को मात देकर लौटी थीं हेमारानी
एक मई 2017 की शाम को 25 वर्षीय हेमारानी अपने पति ईश्वर सिंह व भाई अनुज के साथ अरावली घूमने के लिए िनकली थी। ये तीनों घूमते हुए अरावली की बड़ वाली झील के पास पहुंचे। वहां उन्हें डेथ वैली के बारे में मालूम हुआ। तीनों वहां पहुंच गए। तीनों झील के पास खड़े थे कि अचानक हेमारानी की ऊंची ऐड़ी वाली स्लिपर मुड़ गई और वह लड़खड़ाकर झील में जा गिरी। हेमारानी जैसे ही झील में गिरी, करीब 100-150 फीट नीचे झील किनारे के एक बड़े पत्थर की मोटी सी नोक को दोनों हाथों से कसकर पकड़ लिया। करीब तीन घंटे तक हेमारानी ने वह पत्थर पकड़े रहा। इस दौरान ईश्वर व अनुज उसे बाहर निकालने की कोशिश करते रहे लेकिन नाकाम रहे। अंतत: पुलिस की मदद ली गई। पुलिस मौके पर पहुंची और कमांडो रणधीर सिंह ने महिला को बड़ी मशक्कत के बाहर निकाला।
कैसे रुक सकती हैं घटनाएं
- जिला प्रशासन को उन सभी झीलों की तारबंदी करानी चाहिए, जिनमें ज्यादा घटनाएं हुई।
- जिला प्रशासन को वन विभाग के अधिकारियों को भी स्पष्ट दिशा निर्देश देने चाहिए।
- वन विभाग की तरफ से कुछ कर्मचारियों की ड्यूटी उन झीलों के आसपास लगे, जहां घटनाएं होती रही है।
- जिला प्रशासन को झीलों के आसपास चेतावनी बोर्ड लगाए जाने चाहिए।
- गूगल सर्च इंजन पर डैथ वैली से संबंधित सामग्री के प्रसार पर रोक लगनी चाहिए।
आगे की स्लाइड्स में देखें घटना से जुड़ी और फाेटोज....
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: three more deaths in death valley Faridabad
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Panipat

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top