Arun Binjola | Sep 09, 2013, 12:46 PM IST

नई दिल्‍ली।इंडियन मुजाहिद्दीन के सह संस्‍थापक यासीन भटकल और अब्‍दुल करीम टुंडा जैसे खूंखार आतंकियों की गिरफ्तारी से आतंकी संगठन बौखलाए हुए हैं और वे हमसे इसका ‘बदला’ लेने की तैयारी में है। अपने इन ‘दो आकाओं’ की गिरफ्तारी के बदले आतंकी देश में कई जगहों पर ब्‍लास्‍ट किए जाने की योजनाएं बना रहे हैं। देश की ख़ुफ़िया एजेंसियों को इसकी पुख्‍ता जानकारियां हाथ लगी हैं। एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को इस बाबत अवगत करा दिया है। इसके बाद दिल्‍ली, मुंबई और अन्‍य महानगरों में अलर्ट जारी कर दिया है और राज्‍यों से सुरक्षा व्‍यवस्‍था पुख्‍ता रखने को कहा गया है।

एजेंसियों के अलर्ट में कहा गया है कि आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीनभटकल की गिरफ्तारी का बदला लेने की साजिश रच चुका है। इसके लिए देश में कई जगह पर धमाके करने की योजना है। एजेंसियों ने अपने अलर्ट में बताया है कि इस काम को दो आतंकी वकास (पाक नागारिक) और मोनू (बिहार, समस्‍तीपुर) द्वारा अंजाम देने की गुप्‍त सूचना उनके हाथ लगी हैं।(भटकल की गिरफ्तारी पर सपा नेता ने उठाए सवाल, वकील ...)

यह भी बताया गया है कि भटकल की गिरफ्तारी के वक्‍त दोनों उसके बेहद आसपास थे, लेकिन गिरफ्तारी की सूचना मिलते ही वे दोनों भाग निकले। इनके पास काफी भारी मात्रा में विस्‍फोटक और आईईडी भी मौजूद है। ये दोनों देश में ही कहीं मौजूद हैं। जांच एजेंसियों के पास दोनों के फोटो भी उपलब्‍ध हैं। वकास इससे पहले मुंबई के झावेरी बाजार में भी ब्‍लास्‍ट को अंजाम दे चुका है। इस बाबत एनआईए ने उसके खिलाफ केस भी दर्ज किया हुआ है।

आगे स्‍लाइड में पढ़ें- कैसे दाऊद जैसा नाम कमाना चाहता था भटकल और उसकी नापाक साजिशें..

अन्‍य संबंधित खबरें

PICS:जानिए-आखिर उंगली दिखाकर क्‍या कहना चाहता था भटकल

भटकल का सालाना खर्च छह करोड़,बीवी को दी थी एक लाख रुपए की ईदी

9/11के बाद अफगानिस्तान में नाटो फोर्स से मुकाबला करना चाहता था: भटकल

छह महीने से थे भटकल के दर्जन भर कॉल्‍स ट्रैक पर,लादेन की तरह होगा डीएनए टेस्‍ट

दिल्‍ली में हथियार की फैक्‍ट्री चला चुका है भटकल, 18की उम्र में ही लेना चाहता था नाटो से टक्‍कर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title:
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top