कोटा
 
कंसुआ में 30 घर ध्वस्त, बन रहे थे तब देखा नहीं, अब किसे कहेंगे ‘अपना घर’
कंसुआ में 30 घर ध्वस्त, बन रहे थे तब देखा नहीं, अब किसे कहेंगे ‘अपना घर’

सिर से छत ढह गई तो मां-बाप के पास बच्चों को सर्दी से बचाने का कोई जरिया भी नहीं बचा।

मासूमों की बंद नाक खोलने की दवा तैयार कर रहे सुरक्षा गार्ड
मासूमों की बंद नाक खोलने की दवा तैयार कर रहे सुरक्षा गार्ड

दवा भाप के रूप में जैसे ही उसकी सांस नलियों में पहुंचती है तो वह सामान्य हो जाती हैं।

जैसा नाम वैसा साइज, आ गया जंबो ट्रांसफाॅर्मर ट्रिपिंग से मिलेगी राहत
जैसा नाम वैसा साइज, आ गया जंबो ट्रांसफाॅर्मर ट्रिपिंग से मिलेगी राहत

गर्मी में ओवरलोड लाइनों से घंटों गुल रहती थी बिजली, ट्रिपिंग से होती है परेशानी।

बड़ी खबरें

न्यूज़ प्लस

बॉलीवुड

स्पोर्ट्स

जीवन मंत्र

JokesSmilies

और पढ़ें