राज्य विशेष

Home >> Rajasthan >> Rajya Vishesh
  • सैनिकों के हैलमेट को रंगों का सलाम, सर पर टोपी नहीं ताज है ये
    जयपुर. भारतीय सैनिकों के प्रति सम्मान को रंगों के माध्यम से कलाकारों ने सैनिकों के हैलमेट्स पर उकेरा। देशभक्ति के इस अनूठे कैनवास पर कुदरत के खूबसूरत नजारे थे और सोशल मैसेज भी। बारिश के संगीत पर नाचते मोर, भारतीय तिरंगा, प्रकृति की खूबसूरत छटा, साक्षरता और ऐसी ही कई आकृतियां राजस्थान के 110 कलाकारों ने तैयार कीं। मौका था जयपुर कलाकार समूह और राजस्थान ललित कला अकादमी की ओर से शुक्रवार को शुरू हुए दो दिवसीय रंग मल्हार कार्यक्रम का। कलाकारों ने हैलमेट पर हरियाली, देशभक्ति, भाईचारे का मैसेज...
    July 23, 06:00 AM
  • गांव का ये लड़का Forbes की लिस्ट में पहुंचा, लाखों की नौकरी छोड़ जानें क्या चुना
    जयपुर. डॉ. अब्दुल कलाम हर बच्चे से कहते थे कि ड्रीम्स वो नहीं जो आप सोते हुए देखते हो, ड्रीम्स तो वो हैं जो आपको साेने ही ना दें। इसी का असली मतलब बताया है झुंझुनू के गांव बनगोठड़ी (पिलानी) के यशवीर सिंह ने। जिन्होंने हाल ही में फोर्ब्स एशिया मैगजीन की अंडर-30 लिस्ट में जगह बनाई है। यशवीर की कहानी उन्हीं की जुबानी... - एक जिंदगी मिलती है जिसमें बेसिक लाइफ (कपड़े, खाना, ट्रेवल) से हटकर दूसरों से जुडऩे और उन्हें खुशी देने के लिए कुछ करना चाहिए। - जिंदगी में कामयाबी के मायने मेरे लिए अलग हैं। इसी को मन में...
    July 15, 06:02 AM
  • 15 की उम्र में मजदूर का बेटा बना IITian, बचपन से हर क्लास में आता था फर्स्ट
    जोधपुर. राजस्थान के जोधपुर जिले केबिलाड़ा के पास एक छोटे से गांव के रहने वाले सुनील ने सिर्फ 15 साल 11 माह की उम्र में ही आईआईटी में एडमिशन ले लिया है। जब वह डेढ़ साल का था तभी स्कूल जाने लगा था और 13 साल में 10वीं व 15 की उम्र में 12वीं पास कर लिया था। कब हुआ था सुनील का जन्म और क्या करते हैं उसके पिता... - सुनील का जन्म 20 जुलाई 2000 को हुआ था, वह आने वाले 20 जुलाई को 16 साल का होगा, लेकिन इससे पहले ही फर्स्ट अटेम्ट में आईआईटी कानपुर के लिए सिलेक्शन हो गया है। - सुनील दूसरा सबसे छोटा आईआईटीयन है। पहले स्थान पर दिल्ली...
    July 9, 02:13 AM
  • Apple की बिल्डिंग जैसा होगा IIT जोधपुर, 35 करोड़ से बनेगी सिर्फ दीवार
    जोधपुर.जोधपुर में बन रहा आईअाईटी का न्यू कैंपस रेत की अभेद दीवार से घिरा होगा। यह अर्बन बर्म यानी स्लोप जैसी यह दीवार 88 फीट चौड़ी और 42 फीट ऊंची होगी। इसकी लागत करीब 35 करोड़ रुपए होगी। दीवार का उद्देश्य पश्चिमी राजस्थान में लगातार उड़ने वाली रेत और तेज गर्मी को कैंपस से अंदर आने से रोकना है। - आईआईटी के इंजीनियर संजीव मुखर्जी के अनुसार दीवार की वजह से अंदर गर्मी कम पहुंचेगी और इससे हर महीने 8.10 लाख यूनिट बिजली बचेगी। - 5 साल में बिजली बचत से यह दीवार अपनी 35 करोड़ रुपए लागत निकाल देगी। - दीवार पर बाहरी...
    July 6, 07:00 AM
  • इस एक्टर को कॉलेज में मिल गया था पहला चांस, फिर भी पूरी की पढ़ाई
    जयपुर. हर एक्टर के पास उसका अपना बैकअप प्लान नहीं रहता है, मुझे खुशी है कि अच्छे एजुकेशन के साथ मेरे पास मेरा बैकअप प्लान है। भविष्य में एक्टिंग न भी करूं तो मैं अपनी लाइफ में बहुत कुछ कर सकता हूं। ये कहना है टीवी एक्टर नकुल मेहता का। नकुल अपने को एक्टर्स लीनेश मट्टू और कुणाल जयसिंह के साथ गुरुवार को जयपुर आए। उन्होंने अपने अपकमिंग टीवी सीरियल के प्रमोशनल इवेंट में भास्कर के साथ अनुभव साझा किया। जानिए क्या शेयर किया नकुल ने... एक्टर ना होता तो पत्रकार या लेखक होता... - बता दें की नकुल ने मुंबई...
    June 24, 07:10 AM
  • बेटे को पांव पर खड़ा करने एक पिता की जिद, सब छोड़ 24 घंटे करते हैं देखभाल
    जोधपुर. ब्रह्मपुरी निवासी गाेविंद व्यास 62 साल के हैं। 7 साल पहले तक व्यापार करते थे, लेकिन अब इनका एक की ध्येय है कि लकवाग्रस्त बेटे को पैरों पर खड़ा कर दूं। इसके लिए बिजनेस तक बंद कर दिया है। पिछले 7 साल से इकलौते बेटे चंद्रशेखर की तीमारदारी में जुटे हैं। जाने कैसे हुआ हादसा... - होनहार बेटा आरएएस बनना चाहता था। तैयारी भी शुरू कर दी थी लेकिन एक हादसे ने दुनिया बदल दी। - स्वीमिंग पूल में तैरते समय सिर में चोट लग गई। फिर सर्वाइकल के कारण गर्दन के नीचे के हिस्से में कोई हलचल नहीं रही। - गोविंद ने...
    June 20, 06:38 AM
  • आधी कट गई SUV कार, जानें कैसे बची परिवार की जान
    जोधपुर.मिग-27 ने जिस एसयूवी को हैचबेक की तरह बना डाला, उसे टैक्सटाइल्स उद्यमी संदीप चौधरी के परिवार अपने लिए लकी मानता था। संदीप का कहना है कि इस गाड़ी ने दस दिन में दूसरी बार उनके पूरे परिवार की जान बचाई। परिवार चौथे दिन भी हादसा भूल नहीं पाया। पढ़ें कैसे बची पूरे परिवार की जान... - गुरुवार को वे पत्नी और बच्चों के साथ सफारी देखने आए। संदीप की पत्नी अंजू की आंखें तो गाड़ी देखते ही छलक पड़ीं। बोली, उस दिन तो बाल-बाल ही बचे। - उन्होंने बताया कि वे कुछ ही क्षण पहले इस गाड़ी से आए थे। गाड़ी की तो देवेश व...
    June 17, 06:38 AM
  • जब सड़क पर बहने लगा Oil, घर के बर्तन लेकर ऐसे लगी भरने की होड़
    शिवगंज/पोसालिया. सिरोही शिवंगज(राजस्थान) फोरलेन पर बुधवार को एक टैंकर पलट गया। टैंकर में पॉम ऑयल भरा था। जैसे ही टैंकर पलटा यह ऑयल सड़क पर बिखरने लगा। कुछ ही देर में हाईवे पर तेल की नदी सी बहने लगी। - जैसे ही लोगों को इसकी जानकारी मिली। आसपास से बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए। - इन सबके पास बर्तन थे। देखते ही देखते टैंकर से बहते हुए ऑयल को बर्तनों में भरने की होड़ लग गई। - जिसको जहां बर्तन मिला लोगों ने ऑयल भरना शुरु कर दिया। - तेल तेजी से बहता हुआ हाईवे के पास ही खड्डे में भर गया। - जब टैंकर...
    June 16, 06:26 AM
  • PAK बॉर्डर के पास लवर्स का मेला, लैला-मजनूं की मजार पर मांग रहे मन्नत
    श्रीगंगानगर (राजस्थान).श्रीगंगानगर के अनूपगढ़ का बिंजौर गांव सबसे जुदा है। इन दिनों भारत-पाक सीमा से सटे इस गांव में प्रेमी जोड़ों का मेला लगा हुआ है। 1960 से हर साल लगने वाले इस मेले का आज अंतिम दिन है। राजस्थान से लेकर पंजाब-हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश से युगल लैला-मजनूं की मजार पर आकर मनचाहे प्यार के लिए मन्नत मांग रहे हैं। क्या है इस गांव की खासियत... - खास बात यह है कि इन लवर्स के लिए रुकने और खाने-पीने की तमाम व्यवस्था पूरा गांव मिलकर करता है। - पूरे गांव में एक भी मुस्लिम परिवार नहीं है।...
    June 15, 12:36 PM
  • कॉन्स्टेबल की बेटी बनी विश्व चैम्पियन, कभी फेम के लिए बदला था गेम
    जयपुर.कक्षा छह से 12वीं तक वॉलीबॉल खेला। जूनियर, सब-जूनियर और सीनियर नेशनल में वॉलीबॉल में हिस्सा लिया। जयपुर के महारानी कॉलेज में एडमिशन वॉलीबॉल के आधार पर हुआ लेकिन आज इसी खिलाड़ी ने विश्व यूनिवर्सिटी तीरंदाजी में स्वर्ण पदक जीत लिया। फेम के लिए क्यों बदला गेम... - यह कहानी है चूरू जिले की सुजानगढ़ की तीरंदाज स्वाति दुधवाल की। - स्वाति जब चूरू के आदर्श विद्यामंदिर स्कूल से पढ़कर जयपुर आई और कॉलेज में एडमिशन लिया तो वॉलीबॉल की प्रैक्टिस करने के लिए रोजाना एसएमएस स्टेडियम आने लगी। -...
    June 6, 07:29 AM
  • इस महिला ने ऐसे दिया एग्जाम, किसी भी वक्त जा सकती थी जान
    सीकर. राजस्थान के झुंझुनूं की रहनेवाली है सरोज। इस महिला की एक जिद दूसरे लोगों को अब किसी भी चैलेंज को अपनाने के लिए मोटिवेट कर रहा है। दरअसल, सरोज ऐसी हालत में एग्जाम दी है, जिसके बारे में जानकर लोग उसकी साहस के चर्चे करने लगे हैं। बता दें कि सरोज ने डिलिवरी के महज 2 घंटे बाद एग्जाम सेंटर पहुंचकर लोगों को हैरान कर दिया। 1 साल बचाने के लिए लाइफ का रिस्क... - झुंझुनूं की भड़ौंदा कलां की रहनेवाली सरोज एमएससी की परीक्षा देनेवाली थी। - प्रेगनेंट सरोज को लेबर पेन की वजह से सोमवार को अस्पताल में भर्ती...
    June 2, 07:01 AM
  • 50 साल लिव इन रिलेशन में रहे, 7 बच्चे होने के बाद अब की शादी
    उदयपुर/जयपुर. किसी ने सही कहा है रिश्ते स्वर्ग में बनते हैं। ऐसे ही कुछ देखने मिला राजस्थान में। जहां 80 साल के एक आदमी ने 70 साल की महिला के साथ सात फेरे लिए। ये ना तो किसी सालगिराह का सेलिब्रेशन था और ना ही किसी तरह का ड्रामा। बल्कि कई साल लिव इन रिलेशन शिप में रहने के बाद इस कपल ने शादी की। इस कपल के हैंकुल 7 बच्चे और 13 पोते-पोतियां... - ये हैं राजस्थान के मंडवा पंचायत के रहने वाले पबुरा खेर(80) और रुपाली(70)। - दोनों की शादी में करीब 150 लोग शामिल हुए। जिसमें से 30 उनके बच्चे और पोते-पोतियां रहे। - बता दें कि...
    June 1, 05:56 AM
  • एक्सिडेंट का रियलिटी चेक, सड़क पर गिरे घायल को देख मदद को नहीं आए लोग
    जयपुर.हमारी थोड़ी सी जल्दबाजी और असंवेदनशीलता किसी की मौत की वजह बन जाती है। आंकड़े गवाह हैं, देश में हर घंटे सड़क हादसे में 16 मौत होती हैं। एक सर्वे के मुताबिक 15 प्रतिशत घायलों को अगर समय पर अस्पताल पहुंचाया जाता तो उनकी जान बच सकती थी। मतलब सड़क पर घायलों की मदद के लिए लोग सामने नहीं आते हैं। इसी रियलिटी को चेक करने के लिए दैनिक भास्कर के रिपोटर्स ने सोमवार को राजस्थान के जयपुर में घायल बनकर मदद मांगी। क्या हुआ जब रिपोटर्स ने घायल बन मदद मांगी... - नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के मुताबिक साल 2014 में...
    May 31, 06:37 AM
  • बंदूकों से लैस 4 बॉडीगार्ड के साथ घूम रही ये महिला ACP, जानें किससे है खतरा
    जोधपुर. अहमदाबाद क्राइम ब्रांच के आसाराम मामले में जांच अधिकारी व तत्कालीन एसीपी चंचल मिश्रा पर शार्प शूटर के हमले की साजिश का खुलासा करने के बाद मंगलवार को मिश्रा पुलिस सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश हुई। पेशी के दौरान चार गनमैन मिश्रा की सुरक्षा में तैनात थे। उल्लेखनीय है कि चंचल मिश्रा को आसाराम के समर्थकों की ओर से मिलने वाली धमकियों व हमले की साजिश के मद्देनर उनकी सुरक्षा बढ़ाई गई है। क्या है पूरा मामला .... - भीलवाड़ा की डीएसपी चंचल मिश्रा की सुरक्षा एक महीने पहले ही बढ़ा दी गई थी। -...
    May 25, 06:21 AM
  • गर्ल्स कॉलेज की फेयरवेल पार्टी, रैम्प वॉक के साथ  डांस का फ्यूजन
    जयपुर. महारानी कॉलेज में मंगलवार का दिन रंग-बिरंगे परिधानों में सजी बीबीए की गर्ल्स के थिरकते कदमों के नाम रहा। मौका था बीबीए फाइनल ईयर स्टूडेंट्स के विदाई समारोह का। जिसमें गर्ल्स ने आने वाला कल जाने वाला है सॉन्ग पर प्रस्तुतियां देकर कॉलेज के दिनों की यादें ताजा कीं। कार्यक्रम में गर्ल्स ने रंग-बिरंगे परिधानों में कालबेलिया, मैं तो नाचबा ने आई सा, बाजूबंद री लूम जैसे राजस्थानी सॉन्ग्स पर प्रस्तुतियां दीं। साथ ही रैम्प वॉक कर अपने टैलेंट को दर्शाया। इसके बाद इंट्रोडक्शन और क्वेश्चन...
    May 18, 06:52 AM
  • स्टूडेंट्स ने रैम्प पर शोकेस किया कलेक्शन, यंग डिजाइनर्स टैलेंट दिखा
    जयपुर. यंग डिजाइनर्स की ओर से तैयार किए गए ड्रेस और ज्वैलरी कलेक्शन शनिवार को मॉडल्स ने रैम्प पर डिस्प्ले किया। मौका था पर्ल एकेडमी की ओर से जयपुर एग्जीबिशन एंड कन्वेंशन सेंटर में आयोजित ग्रेजुएशन ईवेंट पोर्टफोलियो कार्यक्रम का। कार्यक्रम में 103 अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट स्टूडेंट्स द्वारा तैयार की गई वेस्टर्न, इंडो-फ्यूजन और टेक्नोलॉजी बेस्ड ड्रेस कलेक्शन को रैम्प पर उतारा, जिसमें स्टूडेंट्स का क्रिएटिव आर्ट वर्क, प्रोडक्शन डिजाइन और इंटीरियर आइडिया देखने को मिला। कलेक्शन...
    May 15, 07:07 AM
  • बेटियों की मौत हुई तो हर लड़की को माना बेटी, 2200 से ज्यादा की कर चुके मदद
    जोधपुर.भीमराज की एक बेटी निर्मला का निधन चार साल की उम्र में हो गया। 2001 में दूसरी बेटी प्रेमलता भी नहीं रही। तभी से वे आर्थिक रूप से कमजोर बच्चियों की पढ़ाने में मदद करते हैं। लेकिन सीधा पैसा नहीं देते। स्कूल ड्रेस, किताबें, पेन, पेंसिंल और खाने-पीने की चीजें देते हैं। साथ ही जो छात्रा फर्स्ट आती है उसे, और जिस घर में बेटी का जन्म होता है, उसकी मां को चांदी का सिक्का देते हैं। ऐसा नहीं है कि उनके अपने बच्चे अब नहीं हैं। एक बेटी और एक बेटा है, लेकिन उनका छात्राओं काे मदद का सिलसिला जो एक बार शुरू हुआ...
    May 13, 06:43 AM
  • फोटोग्राफर ने दिखाई मां-बेटी के रिश्तों की खूबसूरती, और उनके डिफरेंट मूड्स
    जयपुर. आज मदर्स डे है यानी मां की क्रिएटिविटी और क्रिएशन को सेलिब्रेट करने का दिन। ऐसा दिन जब आप एक बार फिर मां के आंचल की गर्माहट, हाथों की मिठास और बात-बात में दिए उनके सबक की गुल्लक खोलकर बचपन के उन अनमोल पलों को महसूस कर सकते हैं। न जाने कितनी ही बार हम मां की उन नसीहतों को दोहराते हैं। न जाने कैसे उनकी बातों की वो कड़ी हमसे जुड़ जाती है और वो हममें नजर आने लगती हैं। हालांकि इस दिन की शुरुआत एन्ना जारविस ने खतों के जरिए मां की तारीफ करने के लिए की थी। भास्कर में मदरहुड के कुछ ऐसी खूबसूरती... आगे...
    May 8, 06:33 AM
  • बेटी को पढ़ाना था, पिता ने स्पेशल बच्चों के लिए खड़ा कर दिया स्कूल
    भीलवाड़ा.यह कहानी है प्रेमकुमार जैन की। बेटी सोना दो साल की थी। चलते-चलते लड़खड़ा जाती थी। अस्पताल ले गए। डॉक्टर ने कह दिया सोना विमंदित है। इलाज संभव नहीं। उसी दिन जैन ने जिद कर ली। वे सोना को चलाएंगे और पढ़ाएंगे। साथ ही उन बच्चों के सम्मान के लिए भी कुछ करेंगे जो सोना की तरह हैं। उन्होंने सोना मनोविकास केंद्र खोल दिया। पढ़ें स्कूल में कितने बच्चे पढ़ने आते हैं... - 1996 में शुरू हुए अपनी तरह के इस स्कूल में अब 76 बच्चे हैं। दस ट्रेंड टीचर्स हैं। - स्कूल सही से चलता रहे इसलिए उन्होंने अपना व्यवसाय...
    April 29, 06:52 AM
  • इन राजा-रानियों के अजीबोगरीब शौक, पालतू डॉग्स की मौत पर मनाते थे शोक
    जयपुर/नई दिल्ली.भारत के राजघराने कई चीजों के लिए दुनियाभर में फेमस हैं। इन घरानों में कई राजा-रानी ऐसे भी हुए हैं, जिन्हें दुनिया अजीबोगरीब आदतों या शौक के लिए याद करती है। जैसे किसी बात पर नाराज राजा ने इलीट क्लास की पसंदीदा रॉल्स रायस कार को कचरा उठाने के काम में लगा दिया।भारतीय इतिहास में एक ऐसे राजा भी थे जो कहीं बाहर आने-जाने के दौरान गंगाजल रखने के लिए भारी-भरकम चांदी का बड़ा बर्तन साथ लेकर चलते थे। पालतू डॉग्स की शादी पर तब किस राजा ने खर्च किए थे 20 लाख रुपए... महाराजा ऑफ जूनागढ़ गुजरात...
    April 24, 06:45 AM