यात्रा

Home >> Travel
  • इन जगहों पर इंडिया से बस कुछ कदम दूर  है पाकिस्तान
    ट्रैवल डेस्क। किसी दूसरे देश की बॉर्डर तक विजिट करना एक अलग ही थ्रिलिंग एक्सपीरिएंस है। इंडिया अपनी बॉर्डर 8 देशों से शेयर करती है। और बॉर्डर के पास की सारी जगह बेहद खूबसूरत हैं। इंडिया और पाकिस्तान इंडिया में कई जगह बॉर्डर शेयर करते हैं। उनमें से कुछ बॉर्डर तक आप जा सकते हैं। जानिए कहां हैं ये बॉर्डर और आप वहांकैसे जा सकते हैं सुचेतगढ़ जम्मू में एक गांव सुचेतगढ़है। 1947 से पहले सुचेतगढ़ एक महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन था, जो सियालकोट को जोड़ता था जो अब पाकिस्तान का हिस्सा है। यहां के पुराने...
    12:02 AM
  • यहां भटकते हुए दिखाई देते हैं अश्वत्थामा, देखने वाले हो जाते हैं पागल!
    ट्रैवल डेस्क. महाभारत में आपने अश्वत्थामा के किरदार के बारे में सुना ही होगा। जिसे भगवान श्रीकृष्ण ने उन्हें युगों-युगों तक भटकने का श्राप दिया था। यदि यह कहा जाए कि अश्वत्थामा आज भी लोगों को नजर आते हैं तो जरुर हैरानी होगी, लेकिन मध्य प्रदेश में एक ऐसी जगह है जहां लोगों को आज भी अश्वत्थामा दिखाई देते हैं। जानिए कहां है ये जगह... - ऐसा माना जाता है की बुरहानपुर, मध्य प्रदेश स्थित असीरगढ़ किले के शिवमंदिर में प्रतिदिन सबसे पहले पूजा करने अश्वत्थामा आते है। - यहां शिवलिंग पर प्रतिदिन सुबह ताजा...
    January 19, 06:56 PM
  • परशुराम ने यहां फेंका था फरसा, गुस्से से डरकर समंदर भी हो गया था पीछे
    ट्रैवल डेस्क. मुंबई-गोवा नेशनल हाईवे 17 के बीच एक छोटा सा गांव आता है पिथे परशुराम। चिपलून से 10 किमी की दूरी पर स्थित इस गांव को भगवान परशुराम का गांव कहते हैं। बताया जाता है कि यह वही जगह है जहां समंदर को पीछे करने के लिए भगवान परशुराम ने अपना फरसा फेंका था। जानिए क्या है इस गांव को लेकर मान्यता... - इस गांव के पास 10 किमी की दूरी पर मौजूद चिपलुन को परशुराम की भूमि कहा जाता है। - ऐसी मान्यता है कि भगवान परशुराम ने खुद को गुरु के सामने सच्चा संन्यासी सिद्ध करने के लिए अपनी पूरी भूमि दान कर दी। - उस वक्त...
    January 19, 04:48 PM
  • एक श्राप से अब तक वीरान पड़ा है ये गांव, बेटी की इज्जत बचाने हुआ था खाली
    ट्रैवल डेस्क. राजस्थान में ऐसे कई स्पॉट्स हैं जो अपने आप में कई रहस्यमयी कहानियां समेटे हुए हैं। ऐसी ही एक कहानी जुड़ी है कुलधरा गांव की। ऐसा कहा जाता है कि लड़की की इज्ज़त बचाने यह गांव रातों-रात खाली हुआ था। इसके बाद इस गांव को एक ऐसा श्राप मिला कि यह आज तक वीरान पड़ा हुआ है। जानिए आखिर ऐसा क्या हुआ था उस रात... - 170 साल पहले इस गांव के लोग अपनी बेटी की इज्जत बचाने के लिए रातों-रात गायब हो गए थे। - माना जाता है कि यह घटना दीवान को एक लड़की से हुए प्रेम के कारण हुई। - इसी प्रेम के कारण इस गांव को ऐसा श्राप...
    January 19, 03:26 PM
  • समंदर में मिला था दुनिया की सबसे खूबसूरत औरत क्लियोपेट्रा का महल
    ट्रैवल डेस्क। मिस्र की रानी रही क्लियोपेट्रा को इतिहास में दुनिया की सबसे अमीर और सुंदर औरत माना जाता है। उनका जीवन बहुत रहस्यमयी था। क्लियोपेट्रा की मौत के बाद उनका बसाया किंगडम, सुनामी और भूकम्प की वजह से समंदर के अन्दर चला गया था। क्या मिला भूमध्य सागर में... - 1400 साल पहले क्लियोपेट्रा की मृत्यु के बाद सुनामी और भूकंप की वजह से ये महल भूमध्य सागर में डूब गया था। - पानी के अंदर उसके महल की देवी आइसिस और स्फिंक्स की मूर्तियां, कलाकृतियां, लाल ग्रेनाइट के पिलर्स और बहुत सारे आर्टिफेक्ट्स...
    January 19, 02:14 PM
  • यहां आज भी कृष्ण और राधा करते हैं रासलीला, देखने वाला हो जाता है पागल!
    ट्रैवल डेस्क। मथुरा के पास कृष्ण की नगरी वृंदावन में एक ऐसी जगह है, जहां कृष्ण और राधा रासलीला किया करते थे। मान्यता है कि आज भी हर रात कृष्ण और राधा यहां रासलीला करते हैं। कौन-सी है वो जगह वृंदावन में वैसे कई मंदिर हैं लेकिन निधि वन का मंदिरखास है। निधि वन के बहुत से सीक्रेट्स हैं। कहते हैं कि इस वन में रोज रात को राधा कृष्ण आते हैं और गोपियों के साथ रातभर रासलीला करते हैं। आगे की स्लाइड में पढ़ें क्या है कहावत
    January 18, 06:15 PM
  • हर 12 साल में नीले हो जाते हैं ये पहाड़, जानिए क्या है यहां से जुड़ा रहस्य
    ट्रैवल डेस्क. यूं तो केरल में कई खूबसूरत टूरिस्ट स्पॉट्स हैं, लेकिन प्रकृति की और भी खूबसूरत कारीगरी देखनी हो तो मुन्नार जरूर जाएं। यहां आपको चाय के बागान, कोहरे से ढंकी पहाड़ियां, चाय के बागान नज़र आएंगे। लेकिन यहां की सबसे ख़ास बात जिससे लोग अंजान हैं वो है नीले पहाड़। जानिए क्या है इन नीले पहाड़ों का रहस्य... - तीन पर्वत श्रृंखलाओं (मुथिरपुझा, नल्लथन्नी और कुंडल) के संगम पर स्थित मुन्नार समुद्र तल से 1600 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। - यहां हर 12 साल में नीलकुरिंजी फूल खिलता है, जो टूरिस्टों को काफी...
    January 18, 04:38 PM
  • यहां हुआ था राम-सीता का स्वयंवर, दूर-दूर से शादी के लिए आते हैं लोग
    ट्रैवल डेस्क। नेपाल के मिथिला क्षेत्र में जनकपुरधाम है। यहां जानकी मंदिर है। सीता के पिता राजा जनक ने यहां पर शासन किया था। कहते हैं सीताजी का स्वयंवर इसी मंदिर में हुआ था। इस मंदिर के पास ही एक मंदिर है राम-सीता विवाह मंडप जिसमें राम और सीता का विवाह हुआ था। कहते हैं कि सीताजी भी यहां रही भी थीं। जानिए इस मंदिर के बारे में कहते हैं, रामायण काल में राजा जनक ने यहां शासन किया था। ये मंदिर नवलखा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। माना जाता है कि इस मंदिर को बनने में भी 9 लाख रुपए लगे थे। ये मंदिर 1910 ई....
    January 18, 03:36 PM
  • Photos: दुनिया का सबसे बेस्ट होटल, राष्ट्रपति भवन से ज्यादा है कमरे
    ट्रैवल डेस्क. राजस्थान में मौजूद राजा-महाराजाओं के कई शाही पैलेस अब हेरिटेज होटल में तब्दील कर दिए गए हैं। इन्हीं में से एक है जोधपुर का उम्मेद भवन पैलेस। जिसे कुछ समय पहले ट्रिपएडवाइजर साइट ने दुनिया के सबसे बेस्ट हेरिटेज होटल का खिताब दिया था। कैसा है उम्मेद भवन पैलेस... - इस शाही पैलेस का नाम इसे बनाने वाले महाराजा उम्मेद सिंह के नाम पर रखा गया है। - महल को तराशे गये बलुआ पत्थरों को जोड़ कर बनाया गया था। - इस महल के निर्माण में एक दिल्चस्प बात यह है कि इसके पत्थरों को बांधने के लिये मसाले का...
    January 18, 02:25 PM
  • ये है वो जगह जहां कटी थी शूर्पनखा की नाक और हुआ था सीता का हरण
    ट्रैवल डेस्क।महाराष्ट्र के नासिक के पास है पंचवटी। जो इंडिया की दूसरी बड़ी नदी गोदावरी के तट पर स्थित है। इस शहर का ताल्लुक रामायण काल से है। क्यों है ये जगह खास - यहीं लक्ष्मण ने शूर्पनखा की नाक काटी थी। -यहां राम ने अपने 14 साल के वनवास के कुछ साल बिताए थे। ये ही वो जगह है जहां राम और सीता, लक्ष्मण के साथ एक कुटिया बनाकर रहे थे। - इसी कुटिया के बाहर से रावण ने सीता का हरण किया था। पंचवटी में पांच बरगद के पेड़ हैं जो पास-पास हैं। इसी वजह से इसका नाम पंचवटी पड़ा था। - ये जगह हिन्दुओं का महत्वपूर्ण...
    January 18, 01:18 PM
  • ये है दुनिया का सबसे बड़ा वॉल्केनो, धधकते लावा को देखने जाते हैं लोग
    ट्रैवल डेस्क। अमेरिका में स्थित हवाई आइलैंड्स में से एक आइलैंड है बिग आइलैंड। यहां हजारों सालों से वॉल्केनो का लावा आज तक बहता आ रहा है। इसमें से एक वॉल्केनो मोआनालुआ दुनिया का सबसे बड़ा वॉल्केनो है। यह अभी भी एक्टिव है और इसका लावा लगातार पैसिफिक ओशियन में गिर रहा है। क्या है खास इस वॉल्केनो की खास बात ये है कि आप इसके ऊपर चल सकते हैं और इसके लावा को अपने सामने निकलते और जमते देख सकते हैं। इसका लावा कुछ ही सेकंड में लाल से काला हो जाता है और ठंडा होकर जम जाता है। प्रकृति का ऐसा अजूबा अपनी...
    January 18, 12:01 AM
  • श्रीलंका में हैं रामायण से जुड़ी ये जगहें, सीता ने भर दिया था आंसुओं से तालाब
    ट्रैवल डेस्क। श्रीलंका में एक जगह है लंकापुरा, यह वही जगह है जहां रावण की लंका हुआ करती थी। यहां आज भी रावण का महल के अवशेष मौजूद है। इसके अलावा यहां कई ऐसे मंदिर और जगहे हैं जहां रामायण काल में महत्वपूर्ण घटनाएं घटी थीं। हिंदुओं के लिए इन जगहों पर घूमना रामायण काल में जाने जैसा एक्सपीरियंस है। जानिए कैसी हैरावण की लंका लंकापुरा रावण का गढ़ हुआ करता था। यहां आज भी हनुमान मंदिर, सीता मंदिर, अशोक वाटिका, रावण की साधना करने की जगह मौजूद है। इसके अलावा वह जगह भी है जहां रावण का वध हुआ था। यहां तक कि...
    January 17, 06:20 PM
  • हनुमान जी के गांव में ही नहीं होती उनकी पूजा, क्या हुआ था ऐसा
    ट्रैवल डेस्क। भारत में एक जगह ऐसीहै जहांहनुमान जी की पूजा नहीं की जाती है। कहा जाता है कि हनुमान जी जो द्रोणागिरि के रहने वाले थे और उनके किसी एक काम से यहां के लोग नाराज थे और आज तक नाराज हैं। द्रोणागिरि, उत्तराखंड में एक जगह है जो 14000 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। पढ़ें क्यों करते हैं ऐसा ... यहां के लोगों का मानना है कि हनुमानजी जिस पर्वत को संजीवनी बूटी के लिए उठाकर ले गए थे, वह यहीं स्थित था। द्रोणागिरि के लोग हनुमानजी द्वारा इस पर्वत को उठा ले जाने पर नाराज हो गए। यही कारण है कि आज भी यहां...
    January 17, 05:48 PM
  • यहां हर साल लगता है भूत मेला, ठीक होने पर तौला जाता है गुड़ से
    ट्रैवल डेस्क। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले से 42 किमी दूर हर साल मकर संक्रांति की पहली पूर्णिमा से भूतों का मेला शुरू होता है। महीनेभर चलने वाला ये मेला मलाजपुर गांव मेंलगता है। इसमें मध्यप्रदेश सहित महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, राजस्थान और आसपास के कई राज्यों से लोग पंहुचते हैं। क्यों आते हैं लोग यहां... देवजी महाराज मंदिर में लगने वाला ये भूत मेला बुरी आत्माओं को दूर करने और भूत-प्रेत भगाने के लिए लगता है। यहां हजारों की संख्या में लोग आते हैं। आज के वैज्ञानिक युग में इसे अंधविश्वास ही कहा जा...
    January 17, 01:24 PM
  • 65 की जंग में पाक आर्मी को खदेड़कर किया था इस किले पर कब्जा, जानें पूरी कहानी
    ट्रैवल डेस्क. इंडिया और पाकिस्तान में कुछ स्पॉट्स ऐसे हैं, जो हुबहू एक जैसे दिखते हैं। इनमें से एक है जैसलमेर का किशनगढ़ किला। 1000 साल पहले बना यह किला हूबहू पाकिस्तान के बहावलपुर में मौजूद देरावर किले जैसा नज़र आता है।इस किले पर 1965 में हमला कर दिया था पाकिस्तान ने... - 1965 के युद्ध में पाकिस्तानी सेना ने इसी किले पर हमला बोला था। जिसके बाद भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए वापस खदेड़ दिया था। - इस किले का निर्माण भुट्टे दावद खां उर्फ दीनू खां ने करवाया। यही कारण है कि इसका नाम दीनगढ़ पड़ा। -...
    January 16, 05:20 PM
  • दुनिया के आखिरी कोने पर है ये आइलैंड, समंदर पार करके जाते हैं किराना लेने
    ट्रैवल डेस्क। दुनिया के कोने पर बना 5000 साल पुराना एक आइलैंड ब्रिटेन में मौजूद है। फौला नाम के इस आइलैंड का एरिया 5 sq माइल्स है और यहां सिर्फ 30 लोग रहते हैं। जानिए इस आइलैंड के बारे में यहां कुछ ही परिवार रहते हैं। पूरे आइलैंड पर सिर्फ दस बच्चे हैं। इतना छोटा होने के बावजूद इस आइलैंड से मेनलैंड जाने के लिए फ्लाइट भी चलती है। लेकिन यहां मोबाइल नेटवर्क नहीं है। हेल्थ प्रॉब्लम होने पर या किराना लेने जाने के लिए यहां के लोगों को फ्लाइट या बोट से मेनलैंड जाना पड़ता है। यहां एक लैंडलाइन टेलीफोन बूथ,...
    January 16, 01:52 PM
  • ये है जरासंध का अखाड़ा, यहां भीम ने कर दिए थे जरासंध के दो टुकड़े
    ट्रैवल डेस्क. महाभारत में भीम और जरासंध की लड़ाई काफी प्रसिद्ध है। जरासंध मगध का क्रूर शासक था। उसकी राजधानी राजगृह(राजगीर, अब बिहार में)थी। बताया जाता है कि भीम और और जरासंध में 18 दिनों तक युद्ध हुआ था। जिस अखाड़े में दोनों के बीच युद्ध हुआ वह आज भी राजगीर में मौजूद है। किस हालात में है आज जरासंध का अखाड़ा... - जरासंध का अखाड़ा आज जर्जर हालत में है। फिर भी आपको यहां अखाड़े के अवशेष साफ़ नज़र आ जाएंगे। - इस अखाड़े की दीवारें ऊंची हैं और इसके अन्दर मल्ल अभ्यास करने के लिए कई हिस्से बने हुए हैं। - जरासंध के...
    January 16, 12:14 PM
  • यहां स्वर्ग से उतरा था श्री कृष्ण का रथ, आज भी हैं पहिए के निशान
    ट्रैवल डेस्क. आपने अब तक महाभारत में श्री कृष्ण के रथ से जुड़ी केवल कहानियां सुनी होंगी, लेकिन आज हम आपको ऐसी जगह दिखा रहे हैं जहां कभी श्री कृष्ण का रथ उतरा था। जानिए कहां है ये जगह... - बिहार के राजगीर में कुछ स्पॉट्स हैं जिनका ताल्लुक महाभारत काल से है। इनमें से एक हैं श्री कृष्ण के रथ के निशान। - इसे लेकर ऐसी कहानी प्रचालित है कि श्री कृष्ण महाभारत काल के दौरान अपना रथ लेकर स्वर्ग से यहां उतरे थे। कैसे हैं रहस्यमयी निशान - रथ के निशान लगभग तीस फुट तक चट्टान पर दो गहरे समानांतर खांचे में...
    January 16, 11:17 AM
  • अमेरिका के ‘ग्रांड केन्यन’ से कम नहीं है महाराष्ट्र की ये वैली, यहां करें ट्रेकिंग
    ट्रैवल डेस्क। सांधण वैली को महाराष्ट्र का ग्रैंड केन्यन भी कहते हैं। ये सहयाद्री माउंटेन रेंज की खूबसूरत घाटियां हैं। ये ट्रेकिंग के लिए फेमस हैं। 300 फीट ऊंची रॉक्स के बीच से होकर, पानी को क्रॉस करके 2 किमी की ये ट्रैक पूरी होती है। यहां घाटियों और ऊंचे रॉक्स का अच्छा कॉम्बिनेशन है। जानिए इस ट्रैक के बारे में... रतनगढ़ के पास स्थित इस वैली को वैली ऑफ सस्पेंस भी कहते हैं। इस वैली के आसपास रतनगढ़ और अजोबा पहाड़ों की रेंज है। बहुत सालों से इन पहाड़ों को पानी की तेज धारा काटती आ रही है, जिस वजह से...
    January 16, 10:46 AM
  • किसी का एक रात का किराया 10 लाख तो कोई है शाही महल
    ट्रैवल डेस्क।भारत में ऐसे कई होटल हैं, जिनकी गिनती भारत ही नहीं, दुनिया के बेस्ट होटल्स में होती है। यदि आप महंगे होटल अफोर्ड कर सकते हैं तो हम आपको भारत के सबसे लग्जरी होटल्स के बारे में बता रहे हैं। ये होटल महंगे जरूर हैं, लेकिन इनका बैकग्राउंड, लोकेशन और फैसिलिटी इन्हें रॉयल बनाती है। आगे की स्लाइड्स में पढ़ेंकौन-कौन से होटल हैं इस फेहरिस्त में...
    January 14, 07:06 PM