पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • नफरत से वीरान होता है प्रेम का गुलशन : हरदेव

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नफरत से वीरान होता है प्रेम का गुलशन : हरदेव

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जीवनमें शांति और प्रेम से ही गुलशन बनता है। क्योंकि प्यार मिलाता है और नफरत बांट देती है। व्यक्ति के व्यवहार में अगर प्रेम होगा तो गुलशन सजेंगे। नफरत गुलशन को वीरान कर देती है। सोमवार को सांवली रोड जलदाय विभाग मैदान में बाबा हरदेव ने निरंकारी मंडल के सत्संग के दौरान प्रवचन करते हुए मनुष्य जीवन में प्यार और नफरत का महत्व समझाया। प्रवचन सुनने के लिए चार घंटे तक पांडाल में देशभर के कोने-कोने से आए करीब चार हजार श्रद्धालु जुटे रहे।

बाबा ने पांडाल में मौजूद हजारों श्रद्धालुओं का एकता, शांति, धर्मकर्म में विश्वास, मानवता, सहिष्णुता जैसे सदगुणों का विकास करने का आह्वान किया। कहा धार्मिक कार्यों में रुचि रखने और धर्मकर्म के रचनात्मक कार्यों को आगे बढ़ाने से ही स्वच्छ समाज का निर्माण होता है। सबसे पहले संत निरंकारी मंडल जिला संयोजक परमानंद मनवानी ने सभी का स्वागत किया। कार्यकर्ताओं ने कविता पाठ और धार्मिक प्रस्तुतियों के जरिये जीवन में धर्मकर्म के महत्व और अपनी भावनाएं व्यक्त की।

सांवली रोड स्थित वाटर वर्क्स मैदान में सोमवार को हुए सत्संग के दौरान बाबा हरदेव के प्रवचन सुनकर श्रद्धालु भाव-विभोर हो गए। इस दौरान युवतियों ने धार्मिक प्रस्तुति भी दी।

कार्यक्रम में दिल्ली, अलवर, जोधपुर, पावटा, जयपुर, सीकर, झुंझुनूं सहित देशभर के श्रद्धालु शामिल हुए।

मैदान में शाम पांच बजे से रात्रि नौ बजे तक श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। किसी ने गीत-भजन की प्रस्तुति से अपने भावनाएं व्यक्त की तो किसी ने विचारों की अभिव्यक्ति से धर्म का महत्व समझाया।

कार्यक्रम के दौरान मंडल के जोनल प्रभारी बनवारी लाल पावटा ने ईश्वर की महत्ता और एकता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि जीवन में सबसे बड़ी मानवता भेदभाव मिटाकर जनसेवा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

और पढ़ें