सम्मान / डॉ. नीतीश चंद्र दुबे को मिला 2019 का एक्सलेंस अवार्ड

वाराणसी में विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह और केंद्रीय पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस से अवार्ड लेते डॉ. नीतीश चंद्र दुबे।

विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह और केंद्रीय पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस ने किया सम्मानित

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2019, 10:50 AM IST

भागलपुर/वाराणसी. होम्योपैथिक जगत में कुछ अलग और नया काम करने के लिए डॉ.नीतीश चंद्र दुबे को रविवार को प्रवासी दिवस के मौके पर 2019 का एक्सलेंस अवार्ड मिला। वाराणसी के होटल गेटवे में गोपियो इंटरनेशनल कन्वेंशन में आयोजित कार्यक्रम में विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह और केंद्रीय पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस ने उन्हें यह सम्मान दिया।

मंत्री वीके सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 में नए भारत की परिकल्पना की है। इसमें प्रवासी भारतीयों को सहयोगी बनना होगा, क्योंकि आपका सुझाव बेहद महत्वपूर्ण है। मंत्री केजे अल्फोंस ने प्रवासी भारतीयों का भारत आने पर स्वागत किया। मानव संसाधन राज्यमंत्री सत्यपाल ने प्रवासी दिवस के आयोजन पर प्रकाश डाला।

इस मौके पर न्यूजीलैंड के सांसद कंवजीत सिंह बख्श, दक्षिण अफ्रीका के मंत्री एल्बमल्म, सांसद ओमसेन सिंह ओमी, महाराष्ट्र के मंत्री राज के पुरोहित मौजूद थे। गौरतलब है कि यह सम्मान एनआरआई और वैसे भारतीयों को दिया जाता है जिन्होंने देश के बाहर किसी भी क्षेत्र में काम कर अपनी विशेष पहचान बनाई है। डॉ. नीतीश दुबे को इससे पूर्व भी देश-विदेश में कई अवार्ड मिल चुके हैं।

उन्होंने होम्योपैथ के क्षेत्र में कई ऐसे कार्य किए हैं जिसे दुनिया भर के होमियोपैथ विशेषज्ञों ने सराहा है। हाल ही में उन्हें जर्मनी की दवा उत्पादन कंपनी डच होमियोपैथ यूनियन ने चर्चा के लिए आमंत्रित किया था। पहली बार किसी होमियोपैथ डॉक्टर को डीएचयू जर्मनी की तरफ से आमंत्रण मिला था। यहां भी उन्हें सम्मान मिला था। दिल्ली में डॉ. दुबे को स्किल इंडिया अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है।

Share
Next Story

परेशान थे जैन मुनि / सुसाइड नोट में लिखा-हम गलत कर रहे हैं, साधु होकर ये काम नहीं करना चाहिए

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News