--Advertisement--

फसल के साथ ही पशुपालन व मछलीपालन के लिए भी मिलेगा केसीसी: डॉ. प्रेम

15 सितंबर को सभी प्रखंडों में लगेंगे किसान क्रेडिट कार्ड कैंप

Pankaj Kumar Singh | Sep 12, 2018, 07:32 PM IST

पटना.   कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि 15 सितंबर को सभी प्रखंडों में किसान क्रेडिट कार्ड कैंप लगेगा। पिछले कुछ वर्षों से प्रखंड स्तरीय किसान क्रेडिट कार्ड और कृषि ऋण वितरण कैंप का आयोजन नहीं पा रहा था। 

 

अब प्रत्येक माह की 15 तारीख को प्रखंडों में किसान क्रेडिट कार्ड कैंप का आयोजन किया जाएगा। इसमें किसानों को ऋण वितरण प्रक्रिया को सरल करते हुए ऑन स्पॉट ऋण स्वीकृत करने का प्रयास किया जाएगा। प्रखंडस्तरीय शिविर में किसानों को फसल ऋण, कृषि यंत्रों पर ऋण, किसान क्रेडिट कार्ड, डेयरी, मुर्गीपालन, बकरीपालन, मत्स्यपालन के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा।

 

अभी तक दो किसान क्रेडिट कार्ड कैंप आयोजित हुए हैं, जिनका परिणाम अच्छा रहा है। किसानों को साहुकारों के चंगुल से मुक्त रखने के लिए इस प्रकार के कैंप का आयोजन किया जाता है। किसानों को कृषि ऋण पर लगने वाले ब्याज का बोझ कम करना है। मंत्री ने कहा कि समय पर ऋण चुकाने वाले किसानों को केंद्र सरकार तीन प्रतिशत और राज्य सरकार एक प्रतिशत ब्याज वहन करती है। यानी केसीसी 7 प्रतिशत की जगह समय से ऋण चुकाने वाले किसान को 3 प्रतिशत ब्याज पर ही ऋण मिल जाता है।

 

एक लाख रूपये तक कृषि ऋण के लिए कोलेटरल सिक्यूरिटी की आवश्यकता नहीं है। प्रखण्डस्तरीय शिविर में ही बैंक, राजस्व एवं कृषि विभाग के संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहेंगे। किसान क्रेडिट कार्ड के लिए पूर्व से प्राप्त पूर्ण आवेदन की स्वीकृति शिविर में की जाएगी। इसमें नये आवेदन भी लिए जाएंगे।

--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें