पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

होटल मुंबई में सिख बने हैं देव पटेल, कैरेक्टर स्किन में जाने को सिख स्लम में बिताए दो महीने

10 महीने पहले
No ad for you

बॉलीवुड डेस्क. स्लमडॉग मिलेनियर फैन देव पटेल एक अरसे के बाद वापसी कर रहे हैं उनकी अगली फिल्म होटल मुंबई है उसमें वह एक सिख युवक के रोल में हैं। अपने इस रोल की स्किन में जाने के लिए देव पटेल मुंबई के सायन कोलीवाड़ा में सिक्ख स्लम में रहे।

रोल के लिए तुरंत हो गए थे तैयार : फिल्म 26/11 मुंबई हमलों पर बेस्ड है, उस दौरान देव पटेल 17 साल के थे। जब उन्होंने पहली बार फिल्म \'होटल मुंबई\' के बनने के बारे में सुना, तो वह तुरंत इसका हिस्सा बनने तैयार हो गए थे, क्योंकि उन्हें पता था कि घटना के बाद उनका परिवार बाकी दुनिया की तरह कितना हिल गया था। 
 

रोल के लिए किया रिसर्च भी : देव फिल्म में अर्जुन नाम का एक फिक्शनल किरदार निभा रहे हैं, जो शेफ हेमंत ओबेरॉय की टीम में काम करता है। फिल्म में उनका कैरेक्टर होटल में फंसे मेहमानों को बचाने के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा देता है। देव ने खुद विषय और कैरेक्टर पर बहुत रिसर्च किया और एंथनी मारस के द्वारा लिखित सामग्री से लगातार रेफर कर के अपने कैरेक्टर को बिल्ट-अप किया। 
 

पहली बार बन रहे सिख: कैरियर में पहली बार एक सिख व्यक्ति की भूमिका निभाते हुए देव चाहते थे कि उनका रोल ऑथेन्टिक हो। इसलिए उन्होंने दो महीने से अधिक समय तक तैयारी की। वे (मुंबई के) सिख स्लम में खुद रह कर एक सिख होने के तरीके सीख रहे थे। कैरेक्टर में पूरी तरह से ढलने के लिए पगड़ी को बांधना और खोलना सीखा। कहानी यह है कि देव ने कैरेक्टर पर जोर दिया कि उसे सिख बनाया जाए। वे कहते हैं- \"मैं भारत जाना पसंद करता हूं और अपनी जड़ों का पता लगाने के लिए हर अवसर का उपयोग करता हूं। मैं एक ही कैरेक्टर को फिर से दोहराना नहीं चाहता। मैंने 11 सितंबर के बाद सिख कैबी के साथ दुर्व्यवहार किए जाने के बारे में कई कहानियां पढ़ी थीं और मैंने देखा कि लोगों को समझ में नहीं आया कि उनका फेथ क्या है। उनके बेहतर रिप्रेजेंटेशन की जरूरत है। एक युवा सिख आदमी ने एक बार कार दुर्घटना के बाद किसी की ब्लीडिंग को रोकने के लिए अपनी पगड़ी उतार दी थी। ये बातें मैं अपने पार्ट में जाने के लिए हमेशा दिल में रखता हूँ। यह एक सेल्फलेस और इंक्रेडिबल कम्यूनिटी है। इन्होंने अपने गुरुद्वारे में लिखा है - \"मेरी पगड़ी, मेरा गर्व\"। यह फिल्म में स्पीचों में से एक बन गया है।\" 

No ad for you

बॉलीवुड की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved