#MeToo / मैंने अपने 40 साल के करियर में किसी महिला के साथ नहीं की बदसलूकी - शत्रुघ्न सिन्हा

Dainik Bhaskar

Oct 18, 2018, 07:26 PM IST

बॉलीवुड डेस्क. भारत में #MeToo आंदोलन की जद में कई नामी हस्तियों का नाम आ चुका है। इस लिस्ट में आलोकनाथ, सुभाष घई से लेकर विकास बहल तक शामिल हैं। आईएएनएस से इस मुद्दे पर बात करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि #MeToo आंदोलन एक अच्छी पहल है। यह सभी के लिए आसानी से उपलब्ध है। इसके तहत कोई भी किसी पर आरोप लगा सकता है। आरोप लगने के बाद मीडिया ट्रायल द्वारा उस व्यक्ति की नौकरी और रेप्यूटेशन खत्म हो जाती है। उन्होंने कहा कि मैं सभी पीड़ित महिलाओं से कहता हूं कि वे अदालत में जाएं और अपराधियों को दंडित करवाएं।

#MeToo आंदोलनके साथ: इंटरव्यू के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा से जब उनके दोस्त सुभाष घई पर लगे आरोपों के बारे में पूछा गया तबउन्होंने कहा कि दोषी साबित होने तक निर्दोष के साथ क्या हुआ? मैं पूरी तरह #MeToo आंदोलन के साथ हूं। अपने 40 साल के करियर में मैंने कभी किसी भी महिला के साथ दुर्व्यवहार नहीं किया है। मैं हर महिला से सम्मान के साथ व्यवहार करता हूं।

घई के साथ काम करने में कोई हर्ज नहीं : जब उनसे पूछा गया कि क्या वह सुभाष घई के साथ भविष्य में काम करना चाहेंगे? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अगर सुभाष घई दोषी नहीं साबित होते तब तो कोई बात ही नहींलेकिन, दोषी साबित होने के बाद जब वह अपनी सजा काट लेंगे तो मैं उनके साथ काम करूंगा। शत्रुघ्न ने कहा कि संजय दत्त सीरियस केस में आरोपी साबित हुए थे और उन्हें सजा हुई थी। लेकिन जब वह वापस आए तो हमारी बड़े दिल वाली इंडस्ट्री ने उन्हें अपनाया औरहमें उनके साथ काम करने में कोई दिक्कत नहीं हुई।

Share
Next Story

एनिवर्सिरी / माधुरी दीक्षित ने बड़े ही फिल्मी अंदाज में दी पति को शादी के सालगिरह की बधाई

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News