Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

ट्रेड वॉर/ गर्दन पर चाकू रखकर वार्ता चाहता है अमेरिका, ऐसा संभव नहीं- चीन



  • चीन ने अमेरिका के साथ व्यापार वार्ता रद्द की
  • अमेरिका-चीन के बीच मार्च से आयात शुल्क विवाद 
  • अमेरिका ने 200 अरब डॉलर के चाइनीज इंपोर्ट पर शुल्क लगाया
  • चीन ने 60 अरब डॉलर के अमेरिकी आयात पर टैरिफ लगाया
Dainik Bhaskar | Sep 25, 2018, 12:40 PM IST

बीजिंग. चीन सरकार के एक सीनियर अफसर ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका चीन की गर्दन पर चाकू रखकर व्यापार वार्ता चाहता है। लेकिन, यह मुश्किल है। धमकी और दबाव के माहौल में बातचीत नहीं हो सकती। उधर, चीन के उप वाणिज्य मंत्री वांग शोवेन ने कहा कि वार्ता कब शुरू होगी,  यह अमेरिका के रुख पर निर्भर करेगा।

दोनों देशों ने एक-दूसरे पर आयात शुल्क लगाया

  1. अमेरिका और चीन के एक-दूसरे पर नए आयात शुल्क सोमवार से लागू हो गए। अमेरिका ने 200 अरब डॉलर (14.50 लाख करोड़ रुपए) के चाइनीज इंपोर्ट पर 10% शुल्क लगाया है। जवाब में चीन ने 60 अरब डॉलर (4.36 लाख करोड़ रुपए) के अमेरिकी आयात पर टैरिफ लगाया।

  2. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आगे 267 अरब डॉलर के चाइनीज इंपोर्ट पर ड्यूटी लगाने की धमकी दी है। अमेरिका के रुख को देखते हुए चीन ने उसके साथ व्यापार वार्ता रद्द कर दी। इस हफ्ते दोनों देशों के बीच बातचीत शुरू होने की उम्मीद थी।

  3. पिछले महीनों में अमेरिका-चीन के बीच टैरिफ विवाद सुलझाने के लिए कई बार बातचीत हुई। लेकिन, कोई नतीजा नहीं निकला। चीन ने सोमवार को श्वेत पत्र जारी कर कहा कि अमेरिका दादागिरी कर रहा है। वह दूसरे देशों को डराकर अपनी बात मनवाना चाहता है।

  4. चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने संपादकीय में लिखा कि चीन एक शक्तिशाली देश है। कोई हमें झुका नहीं सकता।

     

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें