Quiz banner

IIT-बॉम्बे की E-Cell ने लॉन्च किया बिजनेस मॉडल कॉम्प्टिशन Eureka!-A road to Enterprise

3 वर्ष पहले
Loading advertisement...
दैनिक भास्कर पढ़ने के लिए…
ब्राउज़र में ही

यदि आपके मन में कभी भी दुनिया को बदलने का कोई अनोखा विचार आया है  जैसा की आमतौर पर कई लोगों में  देखने को मिल जाता है। या फिर आप अपने दोस्तों के साथ मिलकर किसी स्टार्टअप को शुरू करने की योजना बना रहे हैं, तो यूरेका आपके लिए एकदम सही जगह है-   यूरेका का मानना है कि हर किसी के अंदर समस्या हल करने करने की क्षमता होती है जो मुश्किल से मुश्किल समस्याओं का सरल समाधान खोजता रहता है। हर कंपनी में कभी न कभी एक अनूठा आइडिया घूमता है जिसे पूरा करना कई बार असंभव मान लिया जाता  है, और इस कारण वो आइडिया सही मार्गदर्शन  न होने की वजह से वास्तविक क्षमता तक नहीं पहुँच पाता है। ऐसे में ई-सेल, IITB लोगों को एक मंच प्रदान करता है जिसकी मदद से लोगों अपने अनोखे आइडिया को बिजनस के रूप में बदल पाते हैं।       एंटरप्रेन्योरशिप सेल, IIT बॉम्बे ने' Eureka!-A road to Enterprise' एक बिजनेस मॉडल कॉम्पिटिशन यूरेका का निर्माण किया है ! जो बेहतर ढंग से  संरचित 5 महीने की लंबी शैक्षिक प्रतियोगिता है, जहां लोगों के सवालों का जवाब देने का सफल प्रयास किया जाता हौ जिससे उनके आइडिया को एक सफल स्टार्टअप में बदलने में सहायता मिल सके। यूरेका को सन 2001 में थॉमसन रॉयटर्स और सीएनएन द्वारा  एशिया के सबसे बड़े बिजनेस मॉडल प्रतियोगिता के रूप में मान्यता दी गई थी।

Loading advertisement...

जानिए क्या है यूरेका 2019:

रजिस्ट्रेशन- 18 अगस्त को ई-सेल आईआईटी बॉम्बे ने यूरेका की 20 वीं श्रृंखला शुरू की गयी थी । प्रतिभागी ecell.in/eureka पर पंजीकरण कर सकते हैं। इसके बाद प्रतिभागियों को अपने सभी साथियों को जोड़ कर यूरेका को पूरा करना होगा! पंजीकरण  प्रक्रिया के बाद  प्रश्नावली के साथ उनके अपने आइडिया के बारे में संक्षेप में विवरण देना होगा । अप सभी को बता दें कि यह पोर्टल 24 सितंबर 2019 तक ही लाइव है।
व्यवसाय और सामाजिक नवाचारों को बढ़ावा देने की दृष्टि से, यूरेका दो ट्रैक का अनुसरण करती हैं:

यूरेका व्यवसाय: व्यवसाय ट्रैक का उद्देश्य विचारों को उन व्यवसायों में विकसित करने में मदद करना है जो दुनिया में क्रांति लाने की क्षमता रखते हैं। विजेता को INR 5,00,000 का नकद पुरस्कार मिलता है जबकि उपविजेता को INR 3,00,000 का नकद पुरस्कार मिलता है।

यूरेका सोशल : यूरेका  सोशल  विचारों और बी-मॉडल को प्रोत्साहित करते हैं जो लोगों आने वाले उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रोत्साहित करते हैं।इसमें विजेता को INR 2,00,000 का नकद पुरस्कार मिलता है जबकि उपविजेता को INR 1,00,000 का नकद पुरस्कार मिलता है।

मेंटर्स मीट: पंजीकरण के बाद, शीर्ष 80 टीमों को सेमीफाइनलिस्ट घोषित किया जाएगा और व्यक्तिगत रूप से एक मेंटर से मिलने के लिए IIT बॉम्बे में आमंत्रित किया जाएगा। सभी मेंटर इंडस्ट्री के विशेषज्ञ, उद्यमी और व्यवसायी हैं। उनकी मूल्यवान सलाह और ज्ञान स्टार्टअप को समृद्ध बनाने में लोगों की मदद करेंगे। यहाँ पर पिचिंग वर्कशॉप और लीन स्टार्टअप मेथोडोलॉजी जैसे  इवेंट्स का भी आयोजन किया जाएगा।

फ़ाइनल पिचिंग: फाइनलिस्ट की घोषणा के बाद,  उन्हें अपने स्टार्टअप को  यूरेका ज्यूरी के सामने पेश करना होगा! जो यह ई-शिखर सम्मेलन 2019 के दौरान आयोजित किया जाएगा जो आईआईटी बॉम्बे का प्रमुख की वार्षिक इवेंट है। 
यूरेका न केवल आपको INR 50 लाख के पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे, बल्कि सिंगापुर मैनेजमेंट यूनिवर्सिटी की   10th  ली कुआन येव ग्लोबल बिजनेस प्लान प्रतियोगिता की श्रेणी के फाइनल में सीधे प्रवेश पाने का अवसर भी मिलेगा है । इसके साथ ही  'निधि प्रार्थना योजना' के अंतिम चयन चरण में विचार करने का अवसर दिया जाएगा और साथ ही फोर्ब्स इंडिया मेगजीन व अमेज़ॅन वेब सर्विसेज में 15000 डॉलर की कीमत के साथ सेमी फाइनलिस्ट और यूरेका के फाइनलिस्ट की सुविधा का मौका मिलेगा। वहीं  विजेताओं को राष्ट्रीय प्लेटफार्मों पर परामर्श, कानूनी, वेब विकास और मीडिया कवरेज जैसी स्टार्टअप सेवाएं भी मिलेंगी। यूरेका के कुछ बेहद सफल स्टार्टअप! Zostel, MinionLabs, Greenway Grameen, और Augle AI अन्य हैं। यहाँ यूरेका के बारे में उनका क्या कहना है!

Piltover Technologies - सामाजिक ट्रैक रनर अप
संस्थापक- मनन इस्सर, विश्वेश प्रताप सिंह, प्रखर तोमर, स्नेहल टिबरेवाल, माहेक किस्था, अनमोल सचदेव, श्रेया माथुर
“यूरेका एक बेहद चुनौतीपूर्ण लेकिन अंततः पुरस्कृत अनुभव था। हमें जो एक्सपोज़र मिला वह महत्वपूर्ण था और रचनात्मक आलोचना ने हमें सुधार के लिए क्षेत्रों की पहचान करने में मदद की। इसके साथ ही हमें अपने अनदेखे और नई चीजों को संबोधित करने में सक्षम बनाया। इस प्रक्रिया के दौरान हमें जो प्रोत्साहन और पहचान मिली, उसने हमें प्रेरित किया और अंत में विजयी होने के लिए प्रेरित किया। ”

सम्‍मिलन - IITB ट्रैक विजेता
संस्थापक - सुभदीप दास, अलकेश दास, अमृतराज जेड
“यूरेका ने हमें कई आकाओं से मिलवाया और उनकी कुछ सलाह स्पॉट-ऑन की। यूरेका चरण-दर-चरण में व्यवसाय मॉडल का विकास एक बहुत प्रभावी अभ्यास था जिसने व्यवसाय पक्ष में बहुत स्पष्टता दी। प्रतियोगिता जीतने से हमें अपनी सीमा को और आगे बढ़ाने में मदद मिली। ”
 

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...