पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोनावायरस ने घटाया कारोबार:महिंद्रा एंड महिंद्रा का कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 94% घटकर जून तिमाही में 55 करोड़ रुपए रह गया

नई दिल्ली2 महीने पहले
जून तिमाही के अधिकांश हिस्से में वायरस संक्रमण और लॉकडाउन के कारण कंपनी को अधिकतर कारोबारी गतिविधियां बंद रखनी पड़ी थीं
  • एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी ने 894 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट दिखाया था
  • ऑपरेटिंग रेवेन्यू 37% घटकर 16,321.34 करोड़ रुपए पर आया
No ad for you

घरेलू कारोबारी समूह महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) के फाइनेंशियल रीजल्ट पर कोरोनावायरस और लॉकडाउन का गहरा नकारात्मक असर दिखा। कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि इस कारोबारी साल की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में उसका कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 94 फीसदी घटकर 54.64 करोड़ रुपए रहा। कंपनी ने शेयर बाजारों को दी गई सूचना में कहा कि एक साल पहले की समान तिमाही में उसने 894.11 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट दिखाया था।

समूह का ऑपरेटिंग रेवेन्यू जून तिमाही में 37 फीसदी घटकर 16,321.34 करोड़ रुपए रहा। एक साल पहले की समान तिमाही में एमएंडएम ने 26,041.02 करोड़ रुपए का ऑपरेटिंग रेवेन्यू दिखाया था।

ऑटोमोटिव सेगमेंट का रेवेन्यू 52% गिरा

एमएंडएम के ऑटोमोटिक सेगमेंट का रेवेन्यू जून तिमाही में एक साल पहले की समान तिमाही के मुकाबले 51.95 फीसदी घट गया। यह एक साल पहले के 13,547.84 करोड़ रुपए से घटकर 6,508.6 करोड़ रुपए पर आ गया। इस दौरान फार्म इक्विपमेंट सेगमेंट का रेवेन्यू 6,077.9 करोड़ रुपए से घटकर 4,906.92 करोड़ रुपए रह गया।

हॉस्पिटलिटी सेगमेंट का भी रेवेन्यू 52% गिरा

कंपनी के हॉस्पिटलिटी सेगमेंट का भी रेवेन्यू 51.96 फीसदी गिरकर जून 2020 तिमाही में 294.26 करोड़ रुपए रह गया। एक साल पहले की समान तिमाही में यह 612.49 करोड़ रुपए था। फाइनेंशियल सर्विसेज कारोबार का रेवेन्यू हालांकि इस दौरान मामूली बढ़त के साथ 3,031.69 करोड़ रुपए रहा, जो एक साल पहले की समान तिमाही में 2,822.03 करोड़ रुपए था।

लॉकडाउन के बाद सावधानी बरते जाने के कारण कारोबारी परिचालन धीमा रहा

कंपनी ने कहा कि कोरोनावायरस महामारी और लॉकडाउन के कारण ग्रुप का कारोबारी परिचालन और फाइनेंशियल रीजल्ट प्रभावित हुआ है। जून तिमाही में लॉकडाउन के दौरान कंपनी को कारोबारी गतिविधियां बंद करनी पड़ी थीं। इसके बाद जरूरी सावधानी बरतते हुए परिचालन को धीरे-धीरे शुरू करना पड़ा।

स्टैंडअलोन प्रॉफिट 95% घटकर 112 करोड़ रुपए रह गया

एमएंडएम का स्टैंडअलोन प्रॉफिट जून तिमाही में 95.16 फीसदी घटकर 112.1 करोड़ रुपए रह गया। एक साल पहले की समान तिमाही में यह 2,313.82 करोड़ रुपए था। स्टैंडअलोन ऑपरेटिंग रेवेन्यू इस दौरान 12,922.72 करोड़ रुपए से घटकर 5,602.18 करोड़ रुपए पर आ गया।

कॉरपोरेट रिजल्ट:केनरा बैंक में सिंडिकेट बैंक के विलय के बाद पहली तिमाही में 406 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट

No ad for you

मनी भास्कर की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved