Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

फ्लिपकार्ट/ यौन शोषण के आरोप का खुलासा नहीं करने पर बिन्नी से नाराज था वॉलमार्ट

  • बिन्नी बंसल ने मंगलवार को फ्लिपकार्ट के ग्रुप सीईओ और चेयरमैन का पद छोड़ा था
  • रिपोर्ट में दावा- आरोप लगाने वाली महिला से बिन्नी का सहमति से अफेयर था
  • बिन्नी पर फ्लिपकार्ट के अधिग्रहण के दौरान हकीकत छुपाने का आरोप

Dainik Bhaskar | Nov 14, 2018, 12:19 PM IST

बेंगलुरु. बिन्नी बंसल ने फ्लिपकार्ट से डील के वक्त यौन शोषण के आरोपों के बारे में नहीं बताया, इसलिए वॉलमार्ट उनसे नाराज था। एक रिपोर्ट के मुताबिक यह जानकारी सामने आई है। इसमें कहा गया है कि इस साल मई में वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट डील हुई थी। बिन्नी पर आरोप लगाने वाली महिला ने जुलाई वॉलमार्ट से शिकायत की थी। इसके बाद ग्लोबल लीगल फर्म से आरोपों की जांच करवाई। हालांकि, आरोप तो साबित नहीं हुए लेकिन, वॉलमार्ट के मुताबिक बिन्नी के बर्ताव में पारदर्शिता नहीं थी। इसलिए उनका इस्तीफा तुरंत प्रभाव से मंजूर कर लिया।

बिन्नी पर 2 साल पहले भी आरोप लगे थे

  1. रिपोर्ट के मुताबिक बिन्नी पर आरोप लगाने वाली महिला ने साल 2012 में फ्लिपकार्ट छोड़ दी थी। चार साल बाद 2016 में उसने बिन्नी बंसल पर आरोप लगाए जो उस वक्त भी साबित नहीं हो पाए थे।

  2. बिन्नी का अफेयर सहमति से था: रिपोर्ट

    बिन्नी बंसल और उन पर आरोप लगाने वाली महिला के बीच अफेयर दोनों की सहमति से था। ब्लूमबर्ग के सूत्रों के मुताबिक बंसल के खिलाफ जांच में यह सामने आाया।

  3. बिन्नी ने आरोपों को गलत बताया

    बिन्नी बंसल ने इस्तीफे के बाद फ्लिपकार्ट के कर्मचारियों को लिखे पत्र में खुद भी फैसले में चूक होने का जिक्र किया। उन्होंने लिखा कि "जांच में यह सामने आया कि पारदर्शिता को लेकर फैसले में थोड़ी सी खामी रही। मुझे चिंता है कि यह कंपनी और टीम की नाराजगी की वजह बन सकती है।" हालांकि, बिन्नी ने खुद पर लगे आरोपों को गलत बताया।