पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
Loading advertisement...

मां को पैसा भेजता था फौजी बेटा, पत्नी को रास नहीं आया तो सास की हत्या कर दी

2 वर्ष पहले
हत्यारोपी बहू प्रेमलता।
  • मस्तूरी क्षेत्र के ग्राम खैरा का मामला, बीमार बताकर कपड़े से ढंक दिया था वृद्धा का शव
  • पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में खुलासे के बाद किया गिरफ्तार, विवाद में ससुर का भी फोड़ चुकी है सिर
Loading advertisement...
दैनिक भास्कर पढ़ने के लिए…
ब्राउज़र में ही

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में फौजी बेटे का अपनी मां को पैसे भेजना महिला को इतना नागवार गुजरा कि उसने अपनी सास का गला घोंटकर हत्या का दी। इसके बाद मौत को स्वाभाविक दिखाने के लिए सास को बीमार बता शव को कपड़े से ढंक दिया। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट मंे हत्या का खुलासा हो गया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी बहू को गिरफ्तार कर लिया है। महिला पहले भी कई बार अपनी सास पर हमला कर चुकी थी और ससुर का भी डंडा मारकर सिर फोड़ दिया था, लेकिन लोक लाज के डर से वे चुप रहे। घटना मस्तूरी थाना क्षेत्र की है। 


ग्राम खैरा निवासी रामायण साहू पिता माधव प्रसाद बीएसएफ में जवान है और पंजाब में पदस्थ है। उसकी शादी रतनपुर गोंदिया निवासी प्रेमलता (26) हुई है। शादी के बाद बीएसएफ का जवान ड्यूटी पर चला गया था। छुटिट्यों में घर आता था। इसलिए प्रेमलता अपनी सास कारीबाई (55) व ससुर माधव प्रसाद के साथ रहती थी। रामायण घर चलाने के लिए वेतन का पैसा मां को भेजता था। इससे प्रेमलता नाराज रहती थी। इस बात को लेकर आए दिन सास-ससुर से झगड़ा करती थी। 

फौजी शाम को घर आया तो पत्नी बोली, मां बीमार है और सो रही हैं
अगस्त 2019 में उसने करीबाई पर लोहे के पाइप से हमला कर उनका सिर फोड़ दिया था। करीबाई ने इलाज कराया। सिर का सीटी स्कैन भी कराया पर रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई थी। इस घटना के बाद प्रेमलता मायके में जाकर रहने लगी थी। 6 फरवरी काे रामायण छुट्टी में घर आया तो ससुराल गया और प्रेमलता को लेकर घर आया। 10 फरवरी को किसी काम से रामायण कोरबा चला गया। पिता माधव प्रसाद भी किसी काम से बाहर गए थे। घर पर सास-बहू ही माैजूद थे। दोपहर काे उनके बीच फिर पैसे को लेकर झगड़ा हुआ। 

प्रेमबाई ने गुस्से में आकर सास को जमीन पर पटका और उसका गला घोंट दिया। जब वह मर गई तो शव को कपड़े से ढंक दिया। शाम को रामायण घर आया तो उसने मां के बारे में पूछा। प्रेमलता ने बताया वह बीमार है और जमीन पर ओढ़कर सो रही है। रामायण उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मस्तूरी लेकर आया। यहां डॉक्टरों मृत घोषित कर दिया। कारीबाई के मुंह व नाक से खून बहा हुआ था। गले पर भी चोट के निशान थे। इसलिए डाॅक्टरों को मामला संदिग्ध लगा तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने उसका पोस्टमार्टम कराया। 

पड़ोसियों ने सास-ससुर के पिटाई की पुष्टि की
पड़ोसियों ने बताया कि प्रेमलता सास के साथ ही ससुर की भी पिटाई करती थी। आए दिन घर में झगड़ा होने की आवाजें आती थी। एक बार मोहल्ले के लोगों के सामने ही प्रेमलता ने डंडे से वार कर ससुर माधव प्रसाद का सिर फोड़ दिया था। पड़ोसियों ने इस बयान की पुष्टि की है। 

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...