महोत्सव / पांच राज्यों की हार का गीता जयंती महोत्सव पर पड़ा असर, बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कुरुक्षेत्र दौरा किया रद्द

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह। (फाइल)

  • कुरुक्षेत्र में 13 दिसंबर से 18 दिसंबर तक चलेगा मुख्य कार्यक्रम, 23 दिसंबर तक रहेगा मेला

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2018, 10:44 AM IST

कुरुक्षेत्र।पांच राज्यों में बीजेपी की हार का असर कुरुक्षेत्र में हो रहे गीता जयंती महोत्सव पर भी पड़ा है। यहां कार्यक्रम का शुभारंभ करने आ रहेबीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का दौरा रद्द कर दिया।उन्होंने चुनाव के बाद दिल्ली में बीजेपी कीबैठक बुलाई है, जिसके चलतेदौरा रद्द किया गया। हालांकि महोत्सव की शुरूआत हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य, सीएम मनोहर लाल खट्टर, मॉरीशस के राष्ट्रपति द्वारा विधिवत रुप से की गई। महोत्सव 6 दिन चलेगा। आखिरी दिन 18 दिसंबर को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आएंगे।

वैसे तो गीता महोत्सव का आगाज 7 दिन पहले शिल्प व सरस मेले से हो चुका है, लेकिन मुख्य गीता जयंती आयोजन 13 से 18 दिसंबर तक होंगे। जबकि महोत्सव 23 दिसंबर तक चलेगा। 6 दिन गीता पर चिंतन, मनन व मंथन करने के लिए बुद्धिजीवी, संत महात्मा और गीता मनीषी जुटेंगे। शिल्प व सरस उत्सव में मेले का लुत्फ पर्यटक उठा सकेंगे।

इस बार ये खास : बसों में आधा किराया : पहली बार सरकार ने 13 से 18 दिसंबर तक प्रदेश के किसी भी कोने से महोत्सव में कुरुक्षेत्र आने के लिए रोडवेज बसों में किराया आधा कर दिया है।

गुजरात स्टेट पार्टनर : पहली बार यूपी के बाद गुजरात स्टेट पार्टनर बना है। पुरुषोत्तमपुरा बाग के सामने गुजरात पैवेलियन बनाया है। यहां गुजरात की लोक संस्कृति, रीति रिवाज, पहनावे व खानपान से भी रूबरू हो सकेंगे।

रोजाना महाआरती : वाराणसी में गंगा की तर्ज पर ब्रह्मसरोवर की रोजाना महाआरती होगी। शाम 6 बजे पुरुषोत्तमपुरा बाग में आरती होगी। रोजाना सुबह 11 बजे और शाम 6 बजे मुख्य पंडाल में भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इनमें अभिनेत्री ग्रेसी सिंह, सरताज, सुभरा गहलोतरा आदि कलाकार भी आएंगे।

Share
Next Story

हरियाणा / शादी के 3 साल बाद देवर के साथ रहने लगी, बेटी हुई तो उसी को पिता लिखवाया, कोर्ट पहुंचा पति

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News