Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

क्राइम/ रोहतक में अॉनर किलिंग और सब इंस्पेक्टर मर्डर केस का मुख्य आरोपी अरेस्ट, 1 लाख था इनाम

Dainik Bhaskar | Jan 21, 2019, 03:30 PM IST
गोली लगने के बाद अस्पताल में लेकर जाते हुए।
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

  • 8 अगस्त 2018 को रोहतक के लघु सचिवालय के बाहर मार दी गई थी गोली

रोहतक। रोहतक में लघु सचिवालय के बाहर 8 अगस्त 2018 को लड़की की अॉनर किलिंग और पुलिस सब इंस्पेक्टर की हत्या के मुख्य आरोपी सोमबीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सोमबीर पर 1 लाख रुपए का इनाम रखा गया था। वह मृतक लड़की का चचेरा भाई था, जिसने इस पूरी वारदात की साजिश रची थी। पुलिस ने उसे दिल्ली स्थित पालम एयरपोर्ट से पकड़ा है।Advertisement

लव मैरिज की तो घरवालों ने पाल ली थी दुश्मनी

  1. सिंहपुरा निवासी व अनुसूचित जाति के प्रॉपर्टी डीलर सुनील से ऊंची जाति की सूर्या कॉलोनी निवासी नाबालिग ने प्रेम विवाह किया था। तब लड़की के दत्तक पिता ने बेटी को नाबालिग बताते हुए सुनील और उसके पिता पर केस कराया था। पिता-पुत्र को सुनारियां जेल भेज दिया गया था जबकि लड़की को नारी निकेतन भेजा गया था। 
     

    Advertisement

  2. लड़की बालिग हुई तो 8 अगस्त 2018 को वह रोहतक कोर्ट में गवाही देने के लिए पहुंची। तभी बाइक पर सवार दो युवकों ने फायरिंग शुरू कर दी। उसे बचाने आए पिहोवा निवासी एसआई नरेंद्र को भी हमलावरों ने तीन गोलियां मारी। दोनों की मौत हो गई। 

  3. पुलिस ने 36 घंटे में वारदात का खुलासा कर मृतका के असल माता पिता रामकेश एवं सरिता और गोद लेकर पालन पोषण करने वाले श्याम कॉलोनी निवासी माता पिता रमेश एवं कृष्णा को गिरफ्तार कर लिया था। 14 अगस्त 2018 को वारदात करने के लिए आए बदमाश मोहित उर्फ मगंलू, प्रवीत उर्फ प्रिसं व प्रसांत उर्फ टोनी को भी गिरफ्तार कर लिया था।

  4. इसके बाद विकाश पुत्र रामबीर बामनोली जिला बागपत युपी को 7 जनवरी 2019 को गांव गद्दी खेड़ी से अवैध हथियार के साथ काबू पकड़ा गया। इसमें मुख्य साजिशकर्ता सोमबीर फरार था।
     

  5. अॉनर किलिंग के बाद मर्चेंट नेवी में चला गया था सोमबीर

    सोमबीर कई साल से मर्चेट नेवी मुम्बई मे नौकरी करता है जहां पर उसकी दोस्ती प्रिंस के साथ हो गई थी। आरोपी ने प्रिंस के साथ मिलकर हत्याकांड की साजिश रची थी और वारदात को अजांम देने के लिए प्रिंस को जिम्मेवारी भी सौपी गई थी। सोमबीर हत्याकांड का पूरा प्लान तैयार करने के बाद मर्चेंट नेवी मुम्बई चला गया था ताकि उस पर किसी का शक ना हो।

  6. आरोपी सोमबीर मृतका का चचेरा भाई है  जिसको गुप्त सूचना के आधार पर सहायक उप निरीक्षक राजेश कुमार ने सिपाही हरपाल, जितेंद्र परमजीत के साथ मिलकर दिल्ली के पालम एयरपोर्ट से काबू किया। 

मृतक पुलिसकर्मी।