Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

कार्रवाई/ रौब दिखा रहा था दिल्ली के रिटायर्ड जज का बेटा, गाड़ी इम्पाउंड कर पढ़ाया नियम का पाठ

Dainik Bhaskar | Jan 21, 2019, 07:30 PM IST

  • मोहाली के मटौर में गश्त के दौरान पाया ट्रैफिक इंचार्ज ने नियमों का उल्लंघन
  • पीछा करके पकड़ा काले शीशों वाली गाड़ी को, चालक कुछ ही दिन पहले लौटा है कैलिफोर्निया से
  • दिल्ली से रिटायर्ड जज एवं मौजूदा पुलिस शिकायत निवारण सेल के चेयरमैन का बेटा बता रहा था युवक

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2019, 07:30 PM IST

मोहाली (विनीत राणा)। मोहाली में सोमवार शाम को काले शीशे वाली कार से काफी ध्वनिप्रदूषण हो रहा था, जिसके चलते इस गाड़ी काे पीछा करके रोका गया और फिर इसका चालान कर दिया गया। पुलिस के मुताबिक कार चला रहा युवक खुद को दिल्ली के एक रिटायर्ड जज का बेटा बता रौब झाड़ने लगा, जिसके चलते उसे सबक सिखाना जरूरी हो गया। इसके बाद न सिर्फ चालान किया गया, बल्कि होंडा एकॉर्ड कार को इंम्पाउंड कर दिया गया।

 

पीसीआर इंचार्ज अजय पाठक के मुताबिक वह अपनी टीम के साथ शहर में गश्त पर थे। मटौर में एक एक गाड़ी के सायलेंसर से काफी अजीब तरह की आवाज आ रही थी, जो ट्रैफिक नियमों के खिलाफ है। जब इसे रोकने की कोशिश की गई तो चालक युवक ने जेड ब्लैक शीशे वाली दिल्ली के नंबर की एक एकॉर्ड (होंडा कंपनी की लग्जरी कार) को भगा लिया। पीछा करके बड़ी मुश्किल से उसे पकड़ा गया। जब रुका तो तैश मैं आकर बोला, 'जज का बेटा हूं। तुम कैसे मुझे रोक सकते हो।' इस पर इंचार्ज अजय ने जवाब दिया कि फिर तो तुम्हें पता होना चाहिए कि सुप्रीम कोर्ट के ही निर्देश है कि काले शीशे नहीं कर सकते।

 

इसके बाद कुछ ही समय पहले कैलिफोर्निया से आए तेजवीर नामक युवक बीच सड़क हंगामा शुरू कर दिया। करीब पौने घंटे तक तेजवीर इंचार्ज को समझाने में लगा रहा तो कभी जज का रौब झाड़ने में। यही नहीं उसने बताया कि उसके पिता पिछले महीने ही दिल्ली कोर्ट से जज रिटायर हुए हैं और अब दिल्ली पुलिस के शिकायत निवारण सेल के चैयरमैन हैं।

 

बताया जाता है कि आरोपी ने अपने पिता की बात भी इंचार्ज से करवानी चाही, लेकिन फोन उनके पीएसओ ने उठाया। इंचार्ज अजय ने सारी घटना के बारे में बताकर सामने वाले को संतुष्ट कर दिया और गाड़ी का चालान करके उसे मटौर थाने में खड़ा करा दिया।

 

फोटो: मनोज जोशी

Recommended