स्पोर्ट्स / पहली बार सजोबा रैली जीती, दोबारा हिस्सा लेने से रोका

  • देश की टॉप मोटाे स्पोर्ट्स में से एक है सजोबा
  • बड़ी तादाद में राइडर्स और ड्राइवर्स लेते हैं हिस्सा

Dainik Bhaskar

Feb 19, 2019, 05:53 PM IST

चंडीगढ़. सजोबा रैली की शुरुआत 1981 में हुई थी और पहले ही एडिशन में एक स्टार राइडर ने जीत हासिल की थी। यह राइडर कोई और नहीं बल्कि उस समय के नेशनल रैली सर्किट का बड़ा नाम एसपीएस गर्चा था। उन्होंने यजडी-250 के साथ रैली में हिस्सा लिया और बड़े अंतर से जीत हासिल की। गर्चा ने कहा कि मैं रैली को प्रमोट करना चाहता था, इसलिए रैली में कंपीटिशन किया। वो कंपीटिशन मेरे लिए ज्यादा मुश्किल नहीं था लेकिन रैली को प्रमोट करना अहम मकसद था। हमने वही किया और दूसरे सेशन में मुझे रैली में हिस्सा लेने से मना कर दिया गया। मेरी जगह पर कई यंगस्टर्स ने रैली में हिस्सा लिया और ये रैली सफल होती चली गई।

आज देश की टॉप रैली में सजोबा
सजोबा रैली को देश की टॉप मोटो स्पोर्ट्स में से एक माना जाता है और इसमें काफी ज्यादा राइडर्स और ड्राइवर्स हिस्सा लेने के लिए आते हैं। इस बारी 32 ड्राइवर्स ने एक्सट्रीम कैटेगरी के लिए अपनी एंट्री दी है जबकि 25 ड्राइवरों की टीमें टीएसडी इवेंट में हिस्सा लेंगी। वहीं मोटो स्पोर्ट्स में भी 25 टीमों ने अपना नाम दिया है।

Share
Next Story

पुलवामा हमला / कश्मीरी छात्रों पर हमले का अंदेशा, उत्तराखंड और हरियाणा से 200 से ज्यादा को किया रेस्क्यू

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News