--Advertisement--

केजरी का सवाल: देश छोड़ने से पहले माल्या वित्त मंत्री और नीरव प्रधानमंत्री से मिले, ये मुलाकातें किसलिए?

पहले भी भाजपा नेताओं पर माल्या की मदद का आरोप लगा चुके हैं केजरी

DainikBhaskar.com | Sep 12, 2018, 08:40 PM IST

- विजय माल्या 2 मार्च 2016 को लंदन भागा था
- ब्रिटेन के कोर्ट में उसके प्रत्यर्पण केस पर 10 दिसंबर को फैसला सुनाएगी 

 

नई दिल्ली. विजय माल्या के देश छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिलने वाले बयान पर सियासत तेज हो गई है। माल्या के बयान के तुरंत बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कई ट्वीट किए। इनमें पूछा कि वित्त मंत्री ने यह जानकारी अब तक क्यों छिपाई? ये चौंकाने वाली बात है। पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने कहा- भाजपा को माल्या से संबंधों पर सफाई देनी चाहिए।

 

केजरीवाल ने पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के भागने पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा, ''देश छोड़ने से पहले नीरव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलता है। वित्त मंत्री ने भी विजय माल्या से मुलाकात की। इन मुलाकातों से क्या पता चलता है? देश इन बैठकों की सच्चाई जानना चाहता है।''

केजरीवाल से स्वामी का ट्वीट किया रिट्वीट : भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने जून में माल्या से जुड़ा एक ट्वीट किया था। इसे केजरी समेत कई लोगों ने रिट्वीट किया। स्वामी ने लिखा था, ''भागने के लिए माल्या दिल्ली में किसी ताकतवर इंसान से मिला, जो नोटिस को कुछ देर के लिए बदलवा सकता था। किसने लुक आउट नोटिस को कमजोर कराया?''

 

 

--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें