अमेरिका / जंगल की आग से घरों को बचाने वाला ब्लंकेट तैयार, इससे बड़ी इमारतों की सुरक्षा हो पाएगी

  • ब्लंकेट से भीषण आग में भी सुरक्षा मिल सकेगी, शुरुआती प्रयोग कामयाब हुए
  • भविष्य में इन्हें घरों पर लपेटा जा सकेगा, इससे आग का तापमान कम हो जाएगा

Dainik Bhaskar

Oct 17, 2019, 11:06 AM IST

ओहियो. अमेरिका में वैज्ञानिकों की टीम ने जंगल की आग से घरों को बचाने के लिए एक ब्लंकेट तैयार किया है। इसे घर के ऊपर लगाने से आग से बचा जा सकेगा। अभी इसके प्रयोग छोटे मकानों पर कामयाब हुए हैं। बाद मेंइसका इस्तेमाल बड़ी-बड़ी इमारतों की सुरक्षा के लिए किया जासकेगा।

माना जा रहा है, जंगल में लगी आग से घरों को बचाने का यह अपनी तरह का पहला शोध है। इस प्रोजेक्ट के लिए यूएस डिपार्टमेंट ऑफ होमलैंड सिक्युरिटी ने फंड मुहैया कराया है। टीम का नेतृत्व केस वेस्टर्न यूनिवर्सिटी केप्रोफेसर फुमिआकी ताकाहाशी कर रहे हैं।

शुरुआती प्रयोग कामयाब हुए

फुमिआकी ताकाहाशी ने बताया कि वैज्ञानिकों ने काफी समय तक तरह-तरह के फैब्रिक पर परीक्षण किए। यह देखा कि उनका इस्तेमाल तेज आग में किसी ढांचे को बचाने के लिए किया जा सकता है या नहीं। आखिर वे ऐसा ब्लंकेट (आवरण) तैयार करने में कामयाब हो गए हैं, जो किसी जंगल की आग की स्थिति में किसी घर या ढांचे को बचा सकता है।

प्रोफेसर फुमिआकी ताकाहाशी के मुताबिक, ‘वर्तमान में खोजी गई यह तकनीक छोटी-मोटी आग से बचाने के लिए है। आने वाले समय में यह अपग्रेड होकर पूरी तरह घरों की रक्षा आग से कर पाएगी। लोग जान जोखिम में डालकर आगजनी वाले इलाके में रहने और काम करने को मजबूर हैं। लोग ऐसी तकनीक चाहते हैं जो आग से पूरी तरह सुरक्षा कर सके। इन्हीं सवालों ने हमे इस खोज करने के लिए प्रेरित किया है।’

ब्लंकेट को बनाने के लिए अरामिड, फाइबरग्लास, एमोफोस सिलिका और प्री ऑक्सीडाइज्ड कार्बन को एल्युमिनियम के साथ मिलाकर तैयार किया गया। इस दौरान चारों तत्वों वाले ब्लंकेट के साथ आग के सीधे संपर्क के दौरान सतह के तापमान को भी आंका गया। 

ताकाहाशी ने बताया, चार तत्वों वाले ब्लंकेट में फाइबरग्लास या एमोफोस सिलिका फेब्रिक्स पर एल्युमिनियम की परत वाला ब्लंकेट सबसे बेहतर रिजल्ट देता है। इस फेब्रिक्स से आग की गर्मी को भी कम किया जा सकता है।

Next Story

पहल / कोपेनहेगन को पहला कार्बन उत्सर्जन मुक्त शहर बनाने की तैयारी, ऊर्जा संयंत्र पर कृत्रिम स्की स्लोप बनाएंगे

Next