जापान / एक गांव जहां 27 लोग रहते हैं, उनका अकेलापन दूर करने के लिए महिला ने 270 पुतले लगा दिए

  • नागोरो गांव में खेल का मैदान हो या बस स्टॉप हर जगह पुतले लगे हैं
  • लोग इनके साथ खेलते हैं, बातें कर दुख-दर्द बांटते हैं

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2019, 01:50 PM IST

टोक्यो. जापान में शिकोकू टापू पर बसा नागोरो गांव। यहां 69 साल की बुजुर्ग ने पूरे गांव में 270 पुतले लगा दिए हैं, ताकि लोगों का अकेलापन दूर हो सके। इसे पुतलों का गांव भी कहा जाने लगा है।


दरअसल, ग्रामीण रोजगार की तलाश में पलायन कर चुके हैं। गांव के सबसे छोटे व्यक्ति की उम्र 55 साल है। यहां महज 27 लोग बचे हैं। वीरान होते गांव को बचाने के लिए आयनो सुकिमी नाम की महिला ने पुतले लगाने का फैसला लिया, ताकि गांव में लोग दिखाई दें।

अकेला महसूस होने पर उनके साथ खेलती हैं:आयनो ने गांव के स्कूल, बस स्टॉप, किराने की दुकान और खेल के मैदान में पुतले ही पुतले लगा दिए। इनमें कुछ बच्चे, पुरुष और महिलाएं हैं। आयनो बताती हैं कि जब भी वे अकेलापन महसूस करती हैं, तब वे इनके साथ खेलती हैं और इनसे बातें करती हैं।

स्कूल में 13 पुतले रखे :आयनो बताती हैं कि गांव में बच्चे नहीं हैं। इस कारण यहां का स्कूल 7 साल पहले बंद हो चुका है। अक्सर यहां बच्चों की कमी खलती थी। इसलिए यहां 13 बच्चों के पुतले बनाकर रख दिए हैं। जब भी समय मिलता है, तब उन्हें पढ़ाकर अपना समय बिताती हूं। उन्हें कहानियां सुनाती हूं और उन्हीं के साथ खेलती हूं। वे बताती हैं कि खेत में चिड़ियों को डराने के लिए लगे पुतले देखकर पुतलों का गांव बसाने का आइडिया आया था।

Share
Next Story

इटली / वेनिस में बाढ़ के बावजूद मैराथन में दौड़े रनर, कई इलाकों में 5 फीट तक पानी

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News