Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

ब्रिटेन/ संसद में पहली बार रोबोट ने पेश की रिपोर्ट, ट्विटर पर उड़ा प्रधानमंत्री का मजाक

  • ट्विटर पर यूजर्स ने कहा- प्रधानमंत्री थेरेसा इस रोबोट की मदद से जल्दी ब्रेग्जिट करा लेंगी
  • रोबोट का नाम ‘पेपर’ रखा गया, लेकिन लोगों ने इसे ‘मेबोट’ (मे-रोबोट) कर दिया

Dainik Bhaskar | Oct 19, 2018, 08:23 AM IST

इंग्लैंड. ब्रिटेन की संसद में बुधवार को पहली बार एक रोबोट ‘पेपर’ ने रिपोर्ट पेश की। इसके बाद लोग ट्विटर पर प्रधानमंत्री थेरेसा मे का मजाक उड़ाने लगे। उन्होंने कहा कि थेरेसा को ब्रेग्जिट कराने की काफी जल्दी है, लेकिन उनका रोबोट यह काम और ज्यादा तेजी से कर सकता है। वहीं, कुछ लोगों ने रोबोट का नाम ही बदल दिया और उसे प्रधानमंत्री मे से जोड़ते हुए ‘मेबोट’ नाम दे दिया।Advertisement

एजुकेशन सिलेक्ट कमेटी को सुनाई रिपोर्ट

  1. एजुकेशन सिलेक्ट कमेटी के अध्यक्ष और टोरी की सांसद रॉबर्ट हाफॉन ने मशीन को संसद में बोलने के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने मिडिलसेक्स यूनिवर्सिटी के इस ह्यूमनॉइड रोबोट का प्रेजेंटेशन पहले भी देखा था।  

    Advertisement

  2. रोबोट ने एजुकेशन सिलेक्ट कमेटी के सामने रिपोर्ट पेश करके आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में जानकारी दी। साथ ही, बताया कि यूके के स्कूलों में किस तरह बदलाव करना चाहिए। पेपर रोबोट ने अमेरिकन एक्सेंट में रिपोर्ट पेश की थी।

  3. भविष्य में हमारी जरूरतों को पूरा करेंगी ऐसी तकनीक

    ऐज यूके संस्था की चैरिटी डायरेक्टर कैरोलीन अब्राहम ने उम्मीद जताई कि भविष्य में इसी तरह की तकनीक हमारी कई तरह की जरूरतों को पूरा करेगी। हालांकि, हम यह बदलाव जल्दी नहीं देखना चाहते हैं।

  4. कैरोलीन ने कहा कि इस वक्त कई ऐसी तकनीक हैं, जो हमारी देखभाल कर सकती हैं। इसके बावजूद यह देखना होगा कि क्या ये सब इंसानों के बिना भी काम कर सकती हैं?

  5. हमारे पास पीएम है या रोबोट?

    ट्विटर पर एक यूजर बेनेडिक्ट स्मिथ ने लिखा, ‘‘पेपर रोबोट के आने के बाद थेरेसा मे इंसानों जैसी नजर आने लगी हैं।’’ नैश ने लिखा, ‘‘क्या अब हमारे पास प्रधानमंत्री नहीं एक रोबोट है। इसका नाम मेबोट अच्छा रहेगा।’’ 

  6. जैक ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि ब्रेग्जिट में यह रोबोट ज्यादा अच्छे तरीके से मध्यस्थता निभा सकता है।

     

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended

Advertisement