पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
No ad for you

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

US में रिकॉर्ड प्री-पोल वोटिंग:इस बार चुनाव के 9 दिन पहले ही 5.9 करोड़ वोट पड़े, 2016 में कुल प्री पोल बैलट्स 5.7 करोड़ थे

वाॅशिंगटनएक महीने पहले
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को फ्लोरिडा में वोट डाला था। यहां एक लाइब्रेरी को वोटिंग बूथ बनाया गया था। - फाइल फोटो
No ad for you

कोरोना ने अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव के लिए होने वाली वोटिंग का ट्रेंड भी बदल दिया है। लाखों वोटर भीड़ भरे पोलिंग बूथ पर जाने से बचना चाह रहे हैं। हालांकि, वे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन के बीच कड़े मुकाबले के लिए उत्साहित भी हैं। यही वजह है कि प्री पोल वोटिंग ने इस बार नया रिकॉर्ड बना दिया है।

एक इंडिपेंडेंट वोट मॉनिटर के मुताबिक, 2020 में प्री इलेक्शन बैलट़स की संख्या 4 साल पहले हुए चुनाव में पड़े ऐसे वोटों से आगे निकल गई है। यह 3 नवंबर को होने वाली फाइनल वोटिंग से 9 दिन पहले का आंकड़ा है। यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरिडा की ओर से संचालित एक इंडिपेंडेंट यूएस इलेक्शन प्रोजेक्ट ने दावा किया कि रविवार तक 5.9 करोड़ से ज्यादा लोग वोट डाल चुके हैं। यूएस इलेक्शन असिस्टेंस कमीशन की वेबसाइट के अनुसार, पिछली बार कुल 5.7 करोड़ लोगों ने मेल के जरिए या पोलिंग से पहले वोट दिया था।

डेमोक्रेट्स को फायदे की उम्मीद
डेमोक्रेटिक पार्टी शुरुआत से ही प्री पोल वोटिंग को बढ़ावा दे रही है। इससे लग रहा है कि इसमें उन्हें बढ़त मिल सकती है। इसके उलट डोनाल्ड ट्रम्प महीनों से बिना किसी सबूत के दावा कर रहे हैं कि मेल से डाले जाने वाले वोट (मेल इन बैलट) धोखाधड़ी की वजह बनते हैं। इस वजह से रिपब्लिकन पार्टी के समर्थकों से चुनाव के दिन ही वोटिंग की उम्मीद की जाती है।

इस पर यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरिडा में पॉलिटिकल साइंस के प्रोफेसर माइकल मैक्डॉनाल्ड का कहना कि जिस तरह देश में कोरोना फैल रहा है, यह रणनीति ज्यादा जोखिम भरी है। माइकल एक इलेक्शन प्रोजेक्ट का प्रबंधन भी कर रहे हैं। उन्होंने ट्वीट किया कि क्या हो अगर उनके कुछ मतदाता वोट न डालने का फैसला कर लें या पोलिंग बूथ ही बंद हो जाए।

150 मिलियन लोग डाल सकते हैं वोट
एक इलेक्शन प्रोजेक्ट ने अनुमान जाहिर किया है कि इस बार चुनाव में 15 करोड़ से ज्यादा लोग वोट डाल सकते हैं। 2016 के चुनाव में यह आंकड़ा 13.7 करोड़ रहा था। इनमें कुछ राज्य बहुत अहम साबित हो सकते हैं। यहां वोटिंग का आंकड़ा रिकॉर्ड तोड़ रहा है। इनमें टेक्सास भी शामिल है। बीते रविवार तक ही यहां 2016 के मुकाबले 80% वोट डाले जा चुके हैं।

रिपब्लिक पार्टी के गढ़ टेक्सास में रिकॉर्ड वोटिंग
मैक्डोनाल्ड ने अपने ट्वीट में बताया कि टेक्सास में शुक्रवार तक प्री पोल वोटिंग जारी है। कोई शक नहीं कि फाइनल वोटिंग के दिन तक टेक्सास में 2016 से ज्यादा वोटिंग हो चुकी होगी। सवाल यही है कि ये कितनी ज्यादा होगी। टेक्सास पारंपरिक रूप से रिपब्लिकन पार्टी का गढ़ रहा है। यहां 1980 के बाद से ही रिपब्लिकन उम्मीदवारों को समर्थन मिला है। हालांकि, हाल में आए कुछ सर्वे में बिडेन को ट्रम्प पर भारी पड़ते दिखाया गया है।

No ad for you

US इलेक्शन की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.