--Advertisement--

करंट की चपेट में आने से धनबाद के दो और जामताड़ा के 8 मजदूर झुलसे

बाढ़ रेलवे स्टेशन के आउटर सिग्नल के पास हुई घटना, कई गंभीर

Dainikbhaskar.com | Sep 12, 2018, 12:43 PM IST

जामताड़ा/करमाटांड़.  बाढ़ रेलवे स्टेशन के आउटर सिग्नल के पास बिजली की तार की चपेट में आने से 10 मजदूर बुरी तरह झुलस गए हैं। इनमें दो धनबाद और आठ लोग जामताड़ा के रहने वाले हैं। कई मजदूरों की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि काम के दौरान बिजली का तार टूटने से ये हादसा हुआ है। घटना से आक्रोशित लोगों ने रेल पुलिस दफ्तर में हंगामा और तोड़फोड़ भी किया है। सभी घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद पीएमसीएच भेज दिया गया है।

 

सीढ़ी अनियंत्रित होकर हाइटेंशन तार पर गिर गयी
बाढ़ रेलवे स्टेशन के पश्चिमी बेढ़ना गुमटी के पास हाईटेंशन तार लगाने का काम चल रहा था, इसी में सभी मजदूर लगे हुए थे। लोहे की सीढ़ी लगाकर मरम्मत का काम किया जा रहा था। इसी बीच सीढ़ी अनियंत्रित होकर हाइटेंशन तार पर गिर गयी, जिस कारण हाईटेंशन तार की चपेट में आने से मजदूर झुलस गए। मौके पर अफरातफरी मच गयी। सभी मजदूर करंट लगने के कारण जमीन पर गिर गये। इन मजदूरों की स्थिति को देखते हुए घटनास्थल पर लोगों की जाने की हिम्मत नहीं हुई। बाद में किसी तरह मजदूरों को तार से अलग किया गया। सभी मजदूरों को तुरंत बाढ़ के अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी स्थिति गंभीर देखते हुए पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है। घटना के बाद स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए और तोड़फोड़ करने लगे। लोग लापरवाही का आरोप लगा रहे थे। जख्मी मजदूरों में धनबाद के भी रहनेवाले हैं।

 

ये हुए हैं घायल
घायलों में जामताड़ा के करमाटांड़ थाना क्षेत्र के तेतुलबंधा पंचायत के मंझलाडीह दासपाड़ा निवासी गोवर्धन दास के 4 बेटे सुदी, राजदेव, झपसु, साेनू के अलावे नीलू दास का बेटा गुरूदेव दास, सीताराम दास का पुत्र रवि दास, विकास दास का बेटा धपड़ा दास, गुलचंद दास का बेटा राजू दास शामिल है।

--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें