Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

छात्र संघ चुनाव/ रांची विश्वविद्यालय में सभी पांच सीटों पर एबीवीपी समर्थित प्रत्याशी की जीत, 46 छात्र प्रतिनिधियों ने डाले वोट

जीते हुए प्रत्याशी।

  • लोहरदगा से वोटिंग के लिए आए चारों छात्र होटल में ठहरे, एसीएस ने किया वोटिंग का बहिष्कार

Dainik Bhaskar | Dec 13, 2018, 05:19 PM IST

रांची. रांची यूनिवर्सिटी के पांचों पदों पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद समर्थित प्रत्याशियों ने कब्जा जमा लिया। वोटिंग में सिर्फ 46 छात्र प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस दौरान चार छात्रों के कथित रूप से अपहरण के मामले में आदिवासी छात्र संघ (एसीएस) व आजसू ने वोटिंग का विरोध किया। इसके बाद पुलिस की मौजूदगी में वोटिंग कराई गई। सुबह 10.30 से वोटिंग होनी थी लेकिन हंगामे के बाद 12:30 के बाद वोटिंग शुरू की गई। जीते प्रत्याशियों में नेहा मर्डी प्रेसिडेंट, कुनाल कुमार शर्मा वाइस प्रेसिडेंट, सौरभ बोस सेक्रेटरी, सौरभ कुमार ज्वाइंट सेक्रेटरी और अंकित रंजन डिप्टी सेक्रेटरी शामिल हैं। Advertisement

कथित रूप से अगवा छात्र आए सामने, कहा- नहीं डालेंगे वोट, शाम को करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

  1. छात्र संघ चुनाव के 12 घंटे पहले कथित रूप से अपहरण किए गए छात्र सामने आ गए हैं। आदिवासी छात्र संघ (एसीएस) समर्थित लोहरदगा के चारों छात्र नेता रांची के एक होटल में ठहरे हैं। चारों ने नेताओं ने वोट न डालने की बात कही है। साथ ही उन्होंने शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस की भी बात कही है। उधर, चारों छात्रों को आरयू कैंपस में लाए जाने की मांग करते हुए एसीएस के छात्रों ने वोटिंग का बहिष्कार किया है और आरयू के वीसी का घेराव भी किया है। 10:30 बजे से वोटिंग होनी थी लेकिन हंगामे के बाद 12:40 पर पहला वोट डाला गया। एबीवीपी समर्थित जीते प्रत्याशी वोटिंग कर रहे हैं। पुलिस कैंपस में मौजूद है। एसीएस ने लोहरदगा के चार छात्र नेताओं के अपहरण का आरोप अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) पर लगाया था।

    Advertisement

  2. क्या कहना है पुलिस और एसीएस के छात्रों का

    आरयू कैंपस में मौजूद पुलिस का कहना है कि कथित रूप से अपहरण किए गए छात्र रांची के एक होटल में ठहरे हैं। उन्होंने मताधिकार न करने की बात ही है। ऐसे में किसी के साथ जोर जबर्दस्ती नहीं की जा सकती। उधर, एसीएस के नेताओं का कहना है कि जब तक चारों छात्रों को कॉलेज नहीं लाया जाता वे वोटिंग नहीं होने देंगे। भले ही चारों छात्र क्रॉस वोटिंग करें लेकिन उन्हें कैंपस में लाया जाए।

  3. देर रात दर्ज की गई थी अपहरण की प्राथमिकी

    इस संबंध में एसीएस की ओर से कोतवाली थाने में बुधवार देर रात प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई थी। एसीएस के केंद्रीय अध्यक्ष सुशील उरांव ने बताया था कि शाम  चार बजे एवीबीपी के कुछ सदस्यों ने कचहरी चौक से एसीएस के चार लोगों निर्मल उरांव (अध्यक्ष), रोहित भगत (उपाध्यक्ष), गौतम उरांव (सचिव) और महावीर उरांव (उपसचिव) का अपहरण कर लिया। ये सभी बीएस कॉलेज लोहरदगा से विजयी हुए थे। सभी वोट देने रांची आए थे। एसीएस के कुछ सदस्यों ने अपहरण करते हुए देखा और इन सदस्यों को एवीबीपी कार्यालय में भी देखा। इसके बाद हमलोगों को सूचना मिली। 

  4. एसीएस का आरोप निराधार: एबीवीपी

    एसीएस के चार सदस्यों के अपहरण के आरोपों को एवीबीपी के प्रदेश संगठन मंत्री याज्ञवलक्य शुक्ल ने निराधार बताया था। उन्होंने कहा था कि अपनी हार सुनिश्चित देख एसीएस इस प्रकार का भ्रम फैल रहा है, हमारे सदस्यों को गुमराह करने का प्रयास कर रहा है। पर वे इसमें सफल नहीं होंगे।

  5. ये थे चुनाव मैदान में प्रत्याशी

    1. प्रेसिडेंट पद के तीन प्रत्याशी

    नाम संस्थान  समर्थित पार्टी
    कुलपति मुंडा पीजी एसीएस (महली गुट)
    संदीप उरांव पीजी एसीएस (सुशील गुट)
    नेहा मारडी पीजी एबीवीपी

     

    2. वाइस प्रेसिडेंट   

    कुणाल कुमार शर्मा के कॉलेज  गुमला एबीवीपी
    पंचम मुंडा पीजी आजसू


    3. सेक्रेट्री 

    सौरभ बोस डोरंडा कॉलेज एबीवीपी 
    सोनू कुमार पुंडित आरएलएसवाई आजसू


    4. ज्वाइंट सेक्रेट्री 

    सौरभ कुमार जेएन कॉलेज एबीवीपी 
    नीतेश लकड़ा सिमडेगा कॉलेज एसीएस (सुशील गुट)


    5. ज्वाइंट सेक्रेट्री 

    अंकित रंजन एसएस मेमोरियल एबीवीपी 
    जीवंती सोरेंग बिरसा कॉलेज खूंटी एसीएस (सुशील गुट)

  6. वोटिंग के बाद मतगणना, फिर शपथ समारोह

    वोटिंग से लेकर मतगणना और शपथ ग्रहण समारोह आज ही संपन्न हो गया। मतगणना के बाद निर्वाचित छात्र प्रतिनिधियों को शपथ दिलाया गया। वोटिंग, मतगणना और शपथ समारोह बेसिक साइंस भवन के जियोलॉजी डिपार्टमेंट में संपन्न कराया गया।  

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended

Advertisement